डबल मर्डर: मरने से पहले पुलिसवाले ने हमलावर की गाड़ी का नंबर कर लिया था नोट, इसी सुराग ने पकड़वा दिया

First Published 2, Jul 2020, 6:10 PM

सोनीपत, हरियाणा. गोहाना कस्बे में पिछले दिनों हुए दो पुलिसकर्मियों के सनसनीखेज हत्याकांड में नया खुलासा हुआ है। मरने से पहले एक पुलिसवाले ने अपनी हथेली पर हमलावर की गाड़ी का नंबर लिख लिया था। इसी सुराग से पुलिस हमलावरों तक पहुंच गई। एक हमलावर को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया। वहीं, दूसरा गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार आरोपी जींद के बीबीपुर निवासी संदीप है। कोर्ट ने आरोपी को 7 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है। वहीं, दूसरा आरोपी अमित भी जींद का रहने वाला था। उसे पुलिस ने एनकाउंटर में मार दिया। पुलिस ने इस हमले में 6 आरोपियों के शामिल होने पर शक जताया है। ये आरोपी बरोदा क्षेत्र में सार्वजनिक जगह पर गाड़ी में बैठकर शराब पी रहे थे। इनके साथ एक महिला भी थी। जब पुलिसवालों एसपीओ कप्तान सिंह और कांस्टेबल रवींद्र ने उन्हें रोका, तो बदमाशों ने चाकू से दोनों पर हमला कर दिया। मरने से पहले रविंद्र (28) ने अपनी हथेली पर उनकी गाड़ी का नंबर नोट कर लिया था। पुलिस इसी नंबर का ट्रेस करके आरोपियों तक पहुंच गई। हालांकि आरोपियों ने नंबर प्लेट बदल ली थी।
 

<p>सोनीपत के एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी संदीप और उसके साथी पहले भी कई संगीन मामलों में शामिल रहे हैं। बाकी 4 आरोपियों की गिरफ्तारी भी जल्द हो जाएगी। यह हथेली कांस्टेबल रवींद्र की है। जिसने हमले से पहले आरोपियों की गाड़ी का नंबर नोट कर लिया था।</p>

सोनीपत के एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी संदीप और उसके साथी पहले भी कई संगीन मामलों में शामिल रहे हैं। बाकी 4 आरोपियों की गिरफ्तारी भी जल्द हो जाएगी। यह हथेली कांस्टेबल रवींद्र की है। जिसने हमले से पहले आरोपियों की गाड़ी का नंबर नोट कर लिया था।

<p>आरोपियों ने इतनी बेरहमी से एसपीओ कप्तान सिंह की चाकू घोंपकर हत्या कर दी थी। वे अपनी ड्यूटी करते हुए जान गंवा बैठे।</p>

आरोपियों ने इतनी बेरहमी से एसपीओ कप्तान सिंह की चाकू घोंपकर हत्या कर दी थी। वे अपनी ड्यूटी करते हुए जान गंवा बैठे।

<p>पुलिस के जवान गश्त करते हुए वहां पहुंचे थे, जहां आरोपी गाड़ी में बैठकर शराब पी रहे थे और अय्याशी कर रहे थे। पुलिसवालों ने उन्हें रोका था। इसी बात पर आरोपी उग्र हो उठे। यह तस्वीर कांस्टेबल रवींद्र की है।</p>

पुलिस के जवान गश्त करते हुए वहां पहुंचे थे, जहां आरोपी गाड़ी में बैठकर शराब पी रहे थे और अय्याशी कर रहे थे। पुलिसवालों ने उन्हें रोका था। इसी बात पर आरोपी उग्र हो उठे। यह तस्वीर कांस्टेबल रवींद्र की है।

<p>यह डबल मर्डर बुटाना पुलिस चौकी से 800 मीटर दूरी पर हुआ था। आरोपियों ने एसपीओ कप्तान की छाती, गर्दन और सिर पर चाकू से वार किए थे। वहीं, कांस्टेबल रविंद्र की गर्दन व सिर पर वार किए थे।&nbsp;<br />
<strong>&nbsp;(तस्वीर में कांस्टेबल रवींद्र सिंह और एसपीओ कप्तान सिंह।)</strong><br />
&nbsp;</p>

यह डबल मर्डर बुटाना पुलिस चौकी से 800 मीटर दूरी पर हुआ था। आरोपियों ने एसपीओ कप्तान की छाती, गर्दन और सिर पर चाकू से वार किए थे। वहीं, कांस्टेबल रविंद्र की गर्दन व सिर पर वार किए थे। 
 (तस्वीर में कांस्टेबल रवींद्र सिंह और एसपीओ कप्तान सिंह।)
 

<p>&nbsp;एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने बताया कि आरोपियों को पकड़ने 8 टीमें गठित की गई थीं। छापेमारी के दौरान पुलिस जींद के रोहतक रोड पर पहुंची थी। वहां एक बदमाश अमित को मार गिराया गया था। वहीं, संदीप को दबोच लिया गया था। मुठभेड़ में 4 पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे।</p>

 एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने बताया कि आरोपियों को पकड़ने 8 टीमें गठित की गई थीं। छापेमारी के दौरान पुलिस जींद के रोहतक रोड पर पहुंची थी। वहां एक बदमाश अमित को मार गिराया गया था। वहीं, संदीप को दबोच लिया गया था। मुठभेड़ में 4 पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे।

<p>पुलिस की गिरफ्त में आरोपी संदीप।</p>

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी संदीप।

loader