Asianet News Hindi

दूल्हा निकला कोरोना पॉजिटिव, प्रशासन ने रोकी शादी तो पीपीई किट में ऐसे लिए दुल्हन संग सात फेरे

First Published Apr 27, 2021, 3:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रतलाम (Madhya Pradesh) । कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते दिनों-दिन स्थिति बिगड़ती जा रही है। ऐसे में शादियों पर भी बंदिशें लगी हुई हैं। लेकिन, ऐसे में सोशल मीडिया पर रतलाम शहर की एक अनोखी शादी की तस्वीरें खूब वायरल हो रही है। जिसमें दूल्हा-दुल्हन पीपीई कीट में सात फेरे लेते दिखाई दे रहे हैं। जिसके बारे में हम आपको बता रहे हैं। 

रतलाम के परशुराम विहार निवासी इंजीनियर आकाश वर्मा की शादी महेश नगर निवासी संजना वर्मा से 26 अप्रैल को होना तय हुई थी। इसी दौरान आकाश वर्मा की कोरोना रिपोर्ट 19 अप्रैल को पॉजिटिव आई। 
 

रतलाम के परशुराम विहार निवासी इंजीनियर आकाश वर्मा की शादी महेश नगर निवासी संजना वर्मा से 26 अप्रैल को होना तय हुई थी। इसी दौरान आकाश वर्मा की कोरोना रिपोर्ट 19 अप्रैल को पॉजिटिव आई। 
 

दोनों परिवारों ने शादी न टालने का फैसला लिया। शहर के एक मांगलिक भवन में शादी की रस्में पूरी होनी थीं। इसी दौरान कुछ लोगों ने पॉजिटिव के शादी करने की सूचना प्रशासन को दे दी। ऐसे में तहसीलदार नवीन गर्ग शादी रुकवाने दूल्हे के घर परशुराम विहार पहुंचे।

दोनों परिवारों ने शादी न टालने का फैसला लिया। शहर के एक मांगलिक भवन में शादी की रस्में पूरी होनी थीं। इसी दौरान कुछ लोगों ने पॉजिटिव के शादी करने की सूचना प्रशासन को दे दी। ऐसे में तहसीलदार नवीन गर्ग शादी रुकवाने दूल्हे के घर परशुराम विहार पहुंचे।

प्रशासन ने इस तरह शादी करने पर आपत्ति जताई। लेकिन, परिवारों के बुजुर्गों ने अधिकारियों से शादी न रुकवाने की गुहार लगाई। इसके बाद उन्होंने बड़े अफसरों से बात की और PPE किट में कोविड के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए शादी कराने की शर्त रखी, जिसपर परिवार के लोग तैयार हो गए।
 

प्रशासन ने इस तरह शादी करने पर आपत्ति जताई। लेकिन, परिवारों के बुजुर्गों ने अधिकारियों से शादी न रुकवाने की गुहार लगाई। इसके बाद उन्होंने बड़े अफसरों से बात की और PPE किट में कोविड के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए शादी कराने की शर्त रखी, जिसपर परिवार के लोग तैयार हो गए।
 

दोनों परिवारों के 4-4 लोग ही इसमें शामिल हुए। परिवार के लोग ने वीडियो कॉल पर ही दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद दिया। वहीं, शादी के बाद दूल्हा-दुल्हन ने कहा कि उनका मकसद सिर्फ इतना है कि बड़े बुजुर्गों की इच्छा भी पूरी हो जाए। साथ ही सरकार के निर्देशों का का पालन भी हो सके।

दोनों परिवारों के 4-4 लोग ही इसमें शामिल हुए। परिवार के लोग ने वीडियो कॉल पर ही दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद दिया। वहीं, शादी के बाद दूल्हा-दुल्हन ने कहा कि उनका मकसद सिर्फ इतना है कि बड़े बुजुर्गों की इच्छा भी पूरी हो जाए। साथ ही सरकार के निर्देशों का का पालन भी हो सके।

रतलाम के तहसीलदार नवीन गर्ग का कहना है कि 19 अप्रैल को दुल्हा कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।  हम शादी रुकवाने आए थे। लेकिन, वरिष्ठ अधिकारियों के अनुरोध और मार्गदर्शन पर शादी को संपन्न करा दिया गया।

रतलाम के तहसीलदार नवीन गर्ग का कहना है कि 19 अप्रैल को दुल्हा कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।  हम शादी रुकवाने आए थे। लेकिन, वरिष्ठ अधिकारियों के अनुरोध और मार्गदर्शन पर शादी को संपन्न करा दिया गया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios