Asianet News Hindi

कोरोना को मात देने मुंबई की मेयर ने पहनी नर्स की ड्रेस, ड्यूटी करने पहुंच गईं अस्पताल

First Published Apr 28, 2020, 11:48 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. देश में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। संक्रमित मरीजों की सख्या 28 हजार पार कर गया है। कोरोना के खिलाफ जारी जंग में डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ सबसे बड़े वारियर्स साबित हो रहे हैं। वह अपने परिवार को छोड़कर मरीजों की सेवा और उनको ठीक करने के लिए दिन-रात काम कर रहें हैं। देश में इस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित मुंबई शहर है। जहां मौजूदा समय कोरोना के कुल 5589 मामले हैं, जबकि अब तक 219 लोगों की मौत हुई है। ऐसे हालातों में डॉक्टरों और नर्स का मनोबल बढ़ाने के लिए मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने खुद नर्स बनकर ड्यूटी संभाली।
 

सोमवार के दिन मुंबई को बचाने के लिए खुद मेयर नर्स बनकर महानगरपालिका के नायर अस्पताल पहुंची। जहां उन्होंने स्वास्थ्यकर्मियों का हौसला बढ़ाया। नायर अस्पताल में नर्सिंग का कोर्स कर रही सेकंड और थर्ड इयर की छात्राओं का हौसला बढ़ाने के लिए उन्होंने लेक्चर भी लिया।
 

सोमवार के दिन मुंबई को बचाने के लिए खुद मेयर नर्स बनकर महानगरपालिका के नायर अस्पताल पहुंची। जहां उन्होंने स्वास्थ्यकर्मियों का हौसला बढ़ाया। नायर अस्पताल में नर्सिंग का कोर्स कर रही सेकंड और थर्ड इयर की छात्राओं का हौसला बढ़ाने के लिए उन्होंने लेक्चर भी लिया।
 

जानकारी के मुताबिक, शिवसेना से राजनीतिक करियर की शुरुआत करने से पहले वो खुद भी नर्स थीं। वह मुंबई के एक सरकारी अस्पताल में नर्स का काम करतीं थीं। साल 1992  तक उन्होंने नर्स का काम किया।
 

जानकारी के मुताबिक, शिवसेना से राजनीतिक करियर की शुरुआत करने से पहले वो खुद भी नर्स थीं। वह मुंबई के एक सरकारी अस्पताल में नर्स का काम करतीं थीं। साल 1992  तक उन्होंने नर्स का काम किया।
 

बता दें कि मेयर मूल रूप से महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले की रहने वाली हैं। पिछले तीन बार से साल 2002, 2012 और 2017 से वह नगरसेविका चुनीं गईं।  

बता दें कि मेयर मूल रूप से महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले की रहने वाली हैं। पिछले तीन बार से साल 2002, 2012 और 2017 से वह नगरसेविका चुनीं गईं।  

2019 में किशोरी पेडनेकर को मुंबई का मेयर चुना गया। मुंबई महानगरपालिका के इतिहास में 88 वर्षों में वो पहली मेयर हैं जिनके खिलाफ 2019 के मेयर चुनाव में कोई उम्मीदवार नहीं खड़ा हुआ था।

2019 में किशोरी पेडनेकर को मुंबई का मेयर चुना गया। मुंबई महानगरपालिका के इतिहास में 88 वर्षों में वो पहली मेयर हैं जिनके खिलाफ 2019 के मेयर चुनाव में कोई उम्मीदवार नहीं खड़ा हुआ था।

किशोरी पेडनेकर ने कहा-वह भी एक फ्रंटलाइन वर्कर हैं, इसलिए मैं समझ सकती हूं, ऐसे में हॉस्पिटल स्टाफ की सराहना करना जरूरी है। 

किशोरी पेडनेकर ने कहा-वह भी एक फ्रंटलाइन वर्कर हैं, इसलिए मैं समझ सकती हूं, ऐसे में हॉस्पिटल स्टाफ की सराहना करना जरूरी है। 

 बता दें कि मुंबई में 53 पत्रकारों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद मेयर आईसोलेशन के लिए चली गई थीं।

 बता दें कि मुंबई में 53 पत्रकारों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद मेयर आईसोलेशन के लिए चली गई थीं।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनकी पत्नी रश्मि ठाकरे के साथ किशोरी पेडनेकर।
 

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनकी पत्नी रश्मि ठाकरे के साथ किशोरी पेडनेकर।
 

पति के साथ मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर।

पति के साथ मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर।

महाराष्ट्र के राज्यपाल बी एस कोश्यारी के साथ किशोरी पेडनेकर।
 

महाराष्ट्र के राज्यपाल बी एस कोश्यारी के साथ किशोरी पेडनेकर।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios