Asianet News Hindi

मां-बेटा और बहू-बेटी इस परिवार में सभी चोर, पलक झपकते ही गायब कर देते सोना..हैरान करने वाला खुलासा

First Published Feb 3, 2021, 2:39 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


मुंबई (महाराष्ट्र). जब कभी किसी का बेटा चोरी करता तो उसकी मां उसे डांटती और परिवार वाले समझाते हैं। लेकिन मायानगरी मुंबई में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां जब एक चोर गैंग का खुलासा हुआ तो पुलिस भी हैरान रह गई। क्योंकि चोरी के इस धंधे में पूरा परिवार शामिल था। मां-बेटा और बहू मिलकर कई राज्यों में जाकर  ज्वेलरी शॉप में भी चोरी करते थे।
 


दरअसल, पुलिस ने मंगलवार शाम ऐसे एक परिवार के 6 लोगों को पकड़ा है, जिनका हर सदस्य शातिर चोर है। यह लोग कई राज्य जैसे छत्तीसगढ़- महाराष्ट्र, दिल्ली और तेलंगाना में चोरी की वारदात को अंजाम दे चुके हैं। अभी इनके परिवार के दो लोग और हैं जो फरार हैं। परिवार के लड़के-लड़कियों ने मिलकर अब तक 50 से ज्यादा ज्वेलरी शॉप में लाखों रुपए के गहने चुरा चुके हैं।
 


दरअसल, पुलिस ने मंगलवार शाम ऐसे एक परिवार के 6 लोगों को पकड़ा है, जिनका हर सदस्य शातिर चोर है। यह लोग कई राज्य जैसे छत्तीसगढ़- महाराष्ट्र, दिल्ली और तेलंगाना में चोरी की वारदात को अंजाम दे चुके हैं। अभी इनके परिवार के दो लोग और हैं जो फरार हैं। परिवार के लड़के-लड़कियों ने मिलकर अब तक 50 से ज्यादा ज्वेलरी शॉप में लाखों रुपए के गहने चुरा चुके हैं।
 

बता दें कि पिछले महीने 13 जनवरी को कुरार पुलिस स्टेशन इलाके में मयूर ज्वेलरी शॉप में करीब 10 तोले के सोने के गहने चोरी हुए थे। दुकानदार ने पुलिस को इस मामले में जानकारी दी। उसने कहा कि उस दिन दोपहर 2 बजे के करीब काली पीली टैक्सी से तीन लोग मेरी शॉप पर जेवर लेने के लिए आए हुए थे। उन्होंने कुछ देर तक गहने देख और वह चले गए। लेकिन उनके जाते ही 10 तोला सोने के जेवर चोरी हो गए। दुकान में लगे सीसीटीवी में चोरी की उक्त घटना भी रिकॉर्ड हो गई। इसी आधार पर वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक प्रकाश वेले के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया। जिसके बाद पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए जांच में जुट गई ।

बता दें कि पिछले महीने 13 जनवरी को कुरार पुलिस स्टेशन इलाके में मयूर ज्वेलरी शॉप में करीब 10 तोले के सोने के गहने चोरी हुए थे। दुकानदार ने पुलिस को इस मामले में जानकारी दी। उसने कहा कि उस दिन दोपहर 2 बजे के करीब काली पीली टैक्सी से तीन लोग मेरी शॉप पर जेवर लेने के लिए आए हुए थे। उन्होंने कुछ देर तक गहने देख और वह चले गए। लेकिन उनके जाते ही 10 तोला सोने के जेवर चोरी हो गए। दुकान में लगे सीसीटीवी में चोरी की उक्त घटना भी रिकॉर्ड हो गई। इसी आधार पर वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक प्रकाश वेले के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया। जिसके बाद पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए जांच में जुट गई ।


जांच के दौरान चोर गिरोह के पुणे में रहने का पता चला। जहां जाकर मुंबई पुलिस ने उनके कई ठिकानों पर छापेमारी की। जिसमें पांच आरोपी रेखा हेमराज वाणी 45 वर्ष, अक्षय हेमराज वाणी 19 वर्ष, शेखर हेमराज वाणी 28 साल, रेणुका शेखर वाणी 23 वर्ष, नरेंद्र अशोक सालुंखे 35 वर्ष सहित कुर्ला से टैक्सी ड्राइवर आशुतोष मिश्रा को भी गिरफ्तार किया गया।
 


जांच के दौरान चोर गिरोह के पुणे में रहने का पता चला। जहां जाकर मुंबई पुलिस ने उनके कई ठिकानों पर छापेमारी की। जिसमें पांच आरोपी रेखा हेमराज वाणी 45 वर्ष, अक्षय हेमराज वाणी 19 वर्ष, शेखर हेमराज वाणी 28 साल, रेणुका शेखर वाणी 23 वर्ष, नरेंद्र अशोक सालुंखे 35 वर्ष सहित कुर्ला से टैक्सी ड्राइवर आशुतोष मिश्रा को भी गिरफ्तार किया गया।
 


पुलिस ने इन सभी आरोपियों के पास से  1 लाख 90 हजार  के सोने के गहने भी बरामद किए हैं। सभी आरोपियों ने गुनाह कबूलते हुए कहा कि उन्होंने अब तक  50 से भी ज्यादा चोरी की हुई हैं। 


पुलिस ने इन सभी आरोपियों के पास से  1 लाख 90 हजार  के सोने के गहने भी बरामद किए हैं। सभी आरोपियों ने गुनाह कबूलते हुए कहा कि उन्होंने अब तक  50 से भी ज्यादा चोरी की हुई हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios