बेटी के घर से भागकर अंतरजातीय प्रेम विवाह से इतना टूटे मां-बाप और भाई की फिर किसी को मुंह नहीं दिखाया

First Published 11, Feb 2020, 11:50 AM IST

गढ़चिरौली, महाराष्ट्र. बेटी के अंतरजातीय प्रेम विवाह ने एक फैमिली में कोहराम मचा दिया। बेटी को इसकी उम्मीद भी नहीं थी कि उसकी प्रेम कहानी..उसके घर में इतना बड़ा कांड करा देगी। बेटी मां-बाप की इच्छा के खिलाफ घर से भाग गई थी। इसके बाद उसने शादी कर ली। जब इसकी खबर घर में पता चली, तो मां-बाप और भाई यह सदमा बर्दाश्त नहीं कर सके। तीनों ने एक कुएं में कूदकर अपनी जान दे दी।  जब इसकी जानकारी बेटी को पता चली, तो उसने भी आत्महत्या करने की कोशिश की। हालांकि उसे बचा लिया गया। घटना सोमवार शाम को विवेकानंद नगर में हुई। मृतकों की पहचान 50 वर्षीय रविंद्र वरगंटीवार, उनकी पत्नी 43 वर्षीय वैशाली, उनका बेटा 17 वर्षीय साईंराम के रूप में हुई।

शुरुआती जांच में सामने आया है कि कुछ दिनों पहले रविंद्र की बड़ी बेटी ने घर से भागकर अपने प्रेमी से शादी कर ली थी। परिवारवाले उसके इस अंतरजातीय विवाह से नाखुश थे।

शुरुआती जांच में सामने आया है कि कुछ दिनों पहले रविंद्र की बड़ी बेटी ने घर से भागकर अपने प्रेमी से शादी कर ली थी। परिवारवाले उसके इस अंतरजातीय विवाह से नाखुश थे।

पड़ोसियों ने बताया कि बेटी की शादी के बाद पूरे परिवार ने लोगों से मिलना-जुलना बंद कर दिया था। यानी उन्होंने घर में बंद-सा कर लिया था।

पड़ोसियों ने बताया कि बेटी की शादी के बाद पूरे परिवार ने लोगों से मिलना-जुलना बंद कर दिया था। यानी उन्होंने घर में बंद-सा कर लिया था।

पुलिस को इनके पास से कोई सुसाइट नोट नहीं मिला है। हालांकि माना यही जा रहा है कि ये लोग इस शादी से आहत थे।

पुलिस को इनके पास से कोई सुसाइट नोट नहीं मिला है। हालांकि माना यही जा रहा है कि ये लोग इस शादी से आहत थे।

पुलिस के मुताबिक, बेटी शादी करने के बाद गढ़चिरौली में ही दूसरे इलाके में रहने लगी थी। जब उसे इस घटना की जानकारी मिली, तो उसने भी कुएं में कूदकर जान देने की कोशिश की।

पुलिस के मुताबिक, बेटी शादी करने के बाद गढ़चिरौली में ही दूसरे इलाके में रहने लगी थी। जब उसे इस घटना की जानकारी मिली, तो उसने भी कुएं में कूदकर जान देने की कोशिश की।

मोहल्लेवालों ने जब तक तीनों को कुएं से निकला, उनकी मौत चुकी थी। घटना के बाद पूरे एरिया में माहौल गमगीन हो गया।

मोहल्लेवालों ने जब तक तीनों को कुएं से निकला, उनकी मौत चुकी थी। घटना के बाद पूरे एरिया में माहौल गमगीन हो गया।

कुएं से लाशें निकालने की जद्दोजहद करते लोग। पुलिस को मृतकों के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

कुएं से लाशें निकालने की जद्दोजहद करते लोग। पुलिस को मृतकों के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

कुएं से लाशें निकालते लोग। घटना बाद बेटी ने सुसाइड करने की कोशिश की। उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

कुएं से लाशें निकालते लोग। घटना बाद बेटी ने सुसाइड करने की कोशिश की। उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

loader