Asianet News Hindi

सिर्फ संतों या अखलाक की मौत ही नहीं, इन 10 मौकों पर मॉब लिंचिंग के चलते शर्मसार हुआ देश

First Published Apr 20, 2020, 4:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना वायरस की महामारी के बीच महाराष्ट्र के पालघर से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है। यहां अपहरण और चोरी के शक की अफवाह के बाद भीड़ ने 2 संतों समेत तीन लोगों को पीट पीट कर मार डाला। मॉब लिंचिंग की इस घटना के बाद लोगों में गुस्सा है। सोशल मीडिया पर भी इसे लेकर हैशटैग चल रहे हैं। साथ ही लोग महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार पर भी निशाना साध रहे हैं। भारत में मॉब लिंचिंग का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी ऐसी कई घटनाएं हुई हैं। हम ऐसी ही 10 घटनाओं के बारे में बता रहे हैं, जिन्होंने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया। 

1- 16 अप्रैल 2020: पालघर- 100 से ज्यादा लोगों की भीड़ ने किया हमला
यह मामला गुरुवार का है। जब दो साधु 70 साल के चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी और 35 साल के सुशीलगिरी महाराज अपने ड्राइवर  निलेश तेलगड़े के साथ मुंबई से सूरत अपने किसी मित्र के अंतिम संस्कार में जा रहे थे। लॉकडाउन के चलते ये लोग गांव होते हुए जा रहे थे। जब तीनों लोग पालघर के कासा में पहुंचे तो वहां अपहरण और चोरी की अफवाह फैली थी। यहां भीड़ ने तीनों को कार से खींचकर लाठी डंडों से हमला कर दिया। तीनों की अस्पताल पहुंचने से पहले मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में 110 लोगों को गिरफ्तार किया है। 

1- 16 अप्रैल 2020: पालघर- 100 से ज्यादा लोगों की भीड़ ने किया हमला
यह मामला गुरुवार का है। जब दो साधु 70 साल के चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी और 35 साल के सुशीलगिरी महाराज अपने ड्राइवर  निलेश तेलगड़े के साथ मुंबई से सूरत अपने किसी मित्र के अंतिम संस्कार में जा रहे थे। लॉकडाउन के चलते ये लोग गांव होते हुए जा रहे थे। जब तीनों लोग पालघर के कासा में पहुंचे तो वहां अपहरण और चोरी की अफवाह फैली थी। यहां भीड़ ने तीनों को कार से खींचकर लाठी डंडों से हमला कर दिया। तीनों की अस्पताल पहुंचने से पहले मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में 110 लोगों को गिरफ्तार किया है। 

2- दादरी : 28 सितंबर 2015- गोमांस रखने के शक में हत्या
उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा के बिसाहड़ा गांव में भीड़ ने गोमांस रखने के शक में एक शख्स की हत्या कर दी थी। मरने वाला का नाम अखलाक था। इस मामले में पुलिस ने 18 लोगों की आरोपी बनाया था। इसमें तीन नाबालिग भी थे। 

2- दादरी : 28 सितंबर 2015- गोमांस रखने के शक में हत्या
उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा के बिसाहड़ा गांव में भीड़ ने गोमांस रखने के शक में एक शख्स की हत्या कर दी थी। मरने वाला का नाम अखलाक था। इस मामले में पुलिस ने 18 लोगों की आरोपी बनाया था। इसमें तीन नाबालिग भी थे। 

 3- राजस्थान: 1 अप्रैल 2017- गोतस्करी के शक में हत्या
राजस्थान में 1 अप्रैल 2017 को गोतस्करी के शक में भीड़ ने पीट पीट कर पहलू खां की हत्या कर दी थी। यह मामला काफी चर्चित रहा। हरियाणा के नूंह के रहने वाले पहलू खां अलवर के बहरोड़ में जा रहे थे। इसी वक्त गोरक्षा दल और भीड़ ने उनके वाहन को रोक लिया। यहां उनके साथ मारपीट की गई।  5 अप्रैल को पहलू खां ने दम तोड़ दिया। 

 3- राजस्थान: 1 अप्रैल 2017- गोतस्करी के शक में हत्या
राजस्थान में 1 अप्रैल 2017 को गोतस्करी के शक में भीड़ ने पीट पीट कर पहलू खां की हत्या कर दी थी। यह मामला काफी चर्चित रहा। हरियाणा के नूंह के रहने वाले पहलू खां अलवर के बहरोड़ में जा रहे थे। इसी वक्त गोरक्षा दल और भीड़ ने उनके वाहन को रोक लिया। यहां उनके साथ मारपीट की गई।  5 अप्रैल को पहलू खां ने दम तोड़ दिया। 

4-  राजस्थान: 9 नवंबर, 2017- गोतस्करी के शक में हत्या
अभी पहलू खां की हत्या के मामले में चर्चा रुकी भी नहीं थी कि अलवर में ही गोतस्करी के एक शक में एक और शख्स की हत्या का मामला सामने आया। यहां अलवर के गोविंदगढ़ में भीड़ ने उमर खान की पिटाई की । बाद में गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को रेल पटरी पर डाल दिया। 

4-  राजस्थान: 9 नवंबर, 2017- गोतस्करी के शक में हत्या
अभी पहलू खां की हत्या के मामले में चर्चा रुकी भी नहीं थी कि अलवर में ही गोतस्करी के एक शक में एक और शख्स की हत्या का मामला सामने आया। यहां अलवर के गोविंदगढ़ में भीड़ ने उमर खान की पिटाई की । बाद में गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को रेल पटरी पर डाल दिया। 

5- पलवल :  22 जून 2017- सीट को लेकर हुआ विवाद
22 जून 2017 को कुछ युवकों ने ट्रेन में सीट को लेकर हुए विवाद के बाद एक शख्स की हत्या कर दी। मरने वाले शख्स का नाम जुनैद था। यह विवाद नई दिल्ली से मथुरा जा रही शटल ट्रेन में बल्लभगढ़ में हुआ था। इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को आरोपी भी बनाया था।  

5- पलवल :  22 जून 2017- सीट को लेकर हुआ विवाद
22 जून 2017 को कुछ युवकों ने ट्रेन में सीट को लेकर हुए विवाद के बाद एक शख्स की हत्या कर दी। मरने वाले शख्स का नाम जुनैद था। यह विवाद नई दिल्ली से मथुरा जा रही शटल ट्रेन में बल्लभगढ़ में हुआ था। इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को आरोपी भी बनाया था।  

6- झारखंड : 18 मई 2017- बच्चा चोरी के शक में चार लोगों की हत्या
झारखंड में जमशेदपुर के नागाडीह में 18 मई 2017 को भीड़ ने बच्चा चोरी की अफवाह के बाद तीन युवक और उनकी दादी को पीट पीट कर मार डाला था। भीड़ ने बच्चा चोरी के शक में गौतम वर्मा, विकास वर्मा और गंगेश गुप्ता को पीट पीट कर मार डाला था। इस दौरान जब उनकी दादी रामसखी देवी उन्हें बचाने आईं तो उन पर भी हमला किया गया। जब पुलिस पहुंची तो उन पर भी हमला किया गया। घटनास्थल पर ही तीनों युवकों की मौत हो गई। जबकि दादी ने कुछ दिन बाद इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 

6- झारखंड : 18 मई 2017- बच्चा चोरी के शक में चार लोगों की हत्या
झारखंड में जमशेदपुर के नागाडीह में 18 मई 2017 को भीड़ ने बच्चा चोरी की अफवाह के बाद तीन युवक और उनकी दादी को पीट पीट कर मार डाला था। भीड़ ने बच्चा चोरी के शक में गौतम वर्मा, विकास वर्मा और गंगेश गुप्ता को पीट पीट कर मार डाला था। इस दौरान जब उनकी दादी रामसखी देवी उन्हें बचाने आईं तो उन पर भी हमला किया गया। जब पुलिस पहुंची तो उन पर भी हमला किया गया। घटनास्थल पर ही तीनों युवकों की मौत हो गई। जबकि दादी ने कुछ दिन बाद इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 

7- झारखंड: 17 जून 2019- चोरी के शक में पीट पीट कर मार डाला
पिछले साल जून में भीड़ ने एक युवक को चोरी के शक में पीट पीट कर मार डाला था। यह मामला यूएन तक पहुंचा था। मृतक तबरेज अंसारी उस रात जमशेदपुर स्थित अपने रिश्तेदार के घर से सरायकेला में अपने गांव कदमडीहा लौट रहा था। इस दौरान भीड़ ने उसे बाइक चोरी के आरोप में पकड़ लिया। भीड़ ने रात भर उसे पीटा, सुबह पुलिस के हवाले कर दिया। जहां इलाज के दौरान 22 जून को उसकी मौत हो गई। इस मामले में 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। हालांकि, बाद में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि तबरेज की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई थी, ऐसे में सभी आरोपियों के ऊपर से हत्या का मामला हटा दिया गया।

7- झारखंड: 17 जून 2019- चोरी के शक में पीट पीट कर मार डाला
पिछले साल जून में भीड़ ने एक युवक को चोरी के शक में पीट पीट कर मार डाला था। यह मामला यूएन तक पहुंचा था। मृतक तबरेज अंसारी उस रात जमशेदपुर स्थित अपने रिश्तेदार के घर से सरायकेला में अपने गांव कदमडीहा लौट रहा था। इस दौरान भीड़ ने उसे बाइक चोरी के आरोप में पकड़ लिया। भीड़ ने रात भर उसे पीटा, सुबह पुलिस के हवाले कर दिया। जहां इलाज के दौरान 22 जून को उसकी मौत हो गई। इस मामले में 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। हालांकि, बाद में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि तबरेज की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई थी, ऐसे में सभी आरोपियों के ऊपर से हत्या का मामला हटा दिया गया।

 8- जुलाई-2017 राजस्थान: बाइक से टक्कर लगने के बाद भीड़ ने मार डाला 
हरीश जाटव मॉब लिंचिंग केस काफी चर्चित रहा। राजस्थान के अलवर में हरीश जाटव की बाइक से एक महिला को टक्कर लग गई थी। इसके बाद गुस्साई भीड़ ने उन्हें बेरहमी से पीटा। इसके बाद इलाज के लिए उन्हें दिल्ली रिफर किया गया। जहां उनकी मौत हो गई। 

 8- जुलाई-2017 राजस्थान: बाइक से टक्कर लगने के बाद भीड़ ने मार डाला 
हरीश जाटव मॉब लिंचिंग केस काफी चर्चित रहा। राजस्थान के अलवर में हरीश जाटव की बाइक से एक महिला को टक्कर लग गई थी। इसके बाद गुस्साई भीड़ ने उन्हें बेरहमी से पीटा। इसके बाद इलाज के लिए उन्हें दिल्ली रिफर किया गया। जहां उनकी मौत हो गई। 

9- बिहार: जुलाई 2019: मवेशी चोरी के शक में तीन लोगों की हत्या
19 जुलाई 2019 को बिहार के सारण जिले के बनियापुर गांव में मवेशी चोरी करने के आरोप में भीड़ ने तीन लोगों की पीट पीट कर हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक, पिठौरी गांव में तीन से चार लोग वाहन लेकर मवेशी चोरी करने पहुंचे थे। जब वे वाहन पर मवेशी चढ़ा रहे थे, तभी गांव वालों ने उन्हें देख लिया। देखते ही देखते भीड़ इकट्ठी हो गई और उनकी पिटाई शुरू कर दी। दो की मौके पर मौत हो गई, जबकि एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 

9- बिहार: जुलाई 2019: मवेशी चोरी के शक में तीन लोगों की हत्या
19 जुलाई 2019 को बिहार के सारण जिले के बनियापुर गांव में मवेशी चोरी करने के आरोप में भीड़ ने तीन लोगों की पीट पीट कर हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक, पिठौरी गांव में तीन से चार लोग वाहन लेकर मवेशी चोरी करने पहुंचे थे। जब वे वाहन पर मवेशी चढ़ा रहे थे, तभी गांव वालों ने उन्हें देख लिया। देखते ही देखते भीड़ इकट्ठी हो गई और उनकी पिटाई शुरू कर दी। दो की मौके पर मौत हो गई, जबकि एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 

10- 5 फरवरी 2020: धार में बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने मार डाला
मध्यप्रदेश के धार जिले में इसी साल 5 फरवरी को मॉब लिंचिंग की घटना सामने आई थी। यहां बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने पीट पीट कर एक शख्स को मार डाला था। वहीं, 5 लोग जख्मी हुए थे। हालांकि, इस घटना के पीछे पैसों के विवाद होने की बात भी सामने आई थी।  

10- 5 फरवरी 2020: धार में बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने मार डाला
मध्यप्रदेश के धार जिले में इसी साल 5 फरवरी को मॉब लिंचिंग की घटना सामने आई थी। यहां बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने पीट पीट कर एक शख्स को मार डाला था। वहीं, 5 लोग जख्मी हुए थे। हालांकि, इस घटना के पीछे पैसों के विवाद होने की बात भी सामने आई थी।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios