हम उड़ान के लिए तैयार...एयरलाइंस कंपनियों ने मंत्रालय को भेजी रिपोर्ट, यात्रियों को पूरी करनी होंगी ये शर्तें

First Published 16, May 2020, 9:06 PM

नई दिल्ली. लॉकडाउन के बीच जल्द ही घरेलू उड़ाने शुरू हो सकती हैं। केंद्र सरकार ने इसके लिए एयरलाइंस कंपनियों से रिपोर्ट मांगी थी। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, शनिवार को एयरलाइंस कंपनियों ने डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन और सिविल एविएशन मंत्रालय को रिपोर्ट भेज दी है। अगर फ्लाइट्स शुरू होती हैं तो भी 80 साल से अधिक उम्र वाले यात्री यात्रा नहीं कर सकेंगे।

<p style="text-align: center;"><strong><u>उड़ाने शुरू करने के लिए तैयार </u></strong><br />
रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनियां उड़ानें शुरू करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। हालांकि ये उड़ाने कब शुरू होंगी, इसे लेकर कोई तारीख नहीं तय की गई है। मंत्रालय और डीजीसीए को एयरलाइंस कंपनियों ने एयरक्राफ्ट का स्टेटस भी बताया है। बता दें कि प्रोटोकॉल के तहत कंपनियों को उड़ान शुरू करने के पहले एयरक्राफ्ट से संबंधित विस्तृत रिपोर्ट मंत्रालय और डीजीसीए को देनी होती है।</p>

उड़ाने शुरू करने के लिए तैयार 
रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनियां उड़ानें शुरू करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। हालांकि ये उड़ाने कब शुरू होंगी, इसे लेकर कोई तारीख नहीं तय की गई है। मंत्रालय और डीजीसीए को एयरलाइंस कंपनियों ने एयरक्राफ्ट का स्टेटस भी बताया है। बता दें कि प्रोटोकॉल के तहत कंपनियों को उड़ान शुरू करने के पहले एयरक्राफ्ट से संबंधित विस्तृत रिपोर्ट मंत्रालय और डीजीसीए को देनी होती है।

<p style="text-align: center;"><strong><u>विस्तारा के पास सबसे कम 41 एयरक्राफ्ट</u></strong><br />
रिपोर्ट के मुताबिक, विस्तारा एयरलाइंस के पास सबसे कम 41 एयरक्राफ्ट हैं। इंडिगो के पास सबसे ज्यादा 260 एयरक्राफ्ट हैं। <br />
 </p>

विस्तारा के पास सबसे कम 41 एयरक्राफ्ट
रिपोर्ट के मुताबिक, विस्तारा एयरलाइंस के पास सबसे कम 41 एयरक्राफ्ट हैं। इंडिगो के पास सबसे ज्यादा 260 एयरक्राफ्ट हैं। 
 

<p style="text-align: center;"><strong><u>स्पाइस जेट के पास 120 एयरक्राफ्ट</u></strong><br />
स्पाइस जेट के पास 120 एयरक्राफ्ट हैं। कंपनियों ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि लॉकडाउन के बावजूद वह लगातार एयरक्राफ्ट का मेंटनेंस कर रही हैं। सिर्फ सरकार की परमीशन का इंतजार है। <br />
 </p>

स्पाइस जेट के पास 120 एयरक्राफ्ट
स्पाइस जेट के पास 120 एयरक्राफ्ट हैं। कंपनियों ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि लॉकडाउन के बावजूद वह लगातार एयरक्राफ्ट का मेंटनेंस कर रही हैं। सिर्फ सरकार की परमीशन का इंतजार है। 
 

<p style="text-align: center;"><strong><u>80 साल से ऊपर के यात्रियों को परमीशन नहीं</u></strong><br />
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर उड़ाने शुरू की जाती हैं तो 80 साल से ज्यादा की उम्र के लोगों को यात्रा की परमीशन नहीं होगी। </p>

80 साल से ऊपर के यात्रियों को परमीशन नहीं
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर उड़ाने शुरू की जाती हैं तो 80 साल से ज्यादा की उम्र के लोगों को यात्रा की परमीशन नहीं होगी। 

<p style="text-align: center;"><strong><u>यात्री ले जा सकते हैं 20 किलो का बैग</u></strong><br />
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यात्री अपने साथ केवल एक 20 किलो का बैग ले जा सकेगा। अगर किसी भी यात्री में संक्रमण का कोई लक्षण दिखेगा तो उसे यात्रा की अनुमति नहीं होगी। </p>

यात्री ले जा सकते हैं 20 किलो का बैग
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यात्री अपने साथ केवल एक 20 किलो का बैग ले जा सकेगा। अगर किसी भी यात्री में संक्रमण का कोई लक्षण दिखेगा तो उसे यात्रा की अनुमति नहीं होगी। 

<p style="text-align: center;"><strong><u>आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना होगा जरूरी</u></strong><br />
यात्रियों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा। ऐप में ग्रीन सिग्नल मिलने पर ही यात्रा करने दी जाएगी। फ्लाइट में सोशल डिस्टेंसिंग रखना होगी। हालांकि, इसके लिए दो सीटों के बीच एक सीट खाली रखने की बात अभी ड्राफ्ट में स्पष्ट नहीं है।  </p>

आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना होगा जरूरी
यात्रियों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा। ऐप में ग्रीन सिग्नल मिलने पर ही यात्रा करने दी जाएगी। फ्लाइट में सोशल डिस्टेंसिंग रखना होगी। हालांकि, इसके लिए दो सीटों के बीच एक सीट खाली रखने की बात अभी ड्राफ्ट में स्पष्ट नहीं है।  

<p style="text-align: center;"><strong><u>कर्मचारियों को पीपीई किट पहनना जरूरी</u></strong><br />
लाइन लगाते समय भी दूरी रखनी होगी। ड्यूटी में लगे कर्मचारियों को पीपीई किट पहनना होगी। यात्रियों को मास्क, ग्लव्स, जूते, पीपीई किट आदि पहनना होगा। यात्रा के समय से दो घंटे पहले एयरपोर्ट पर पहुंचना होगा। </p>

कर्मचारियों को पीपीई किट पहनना जरूरी
लाइन लगाते समय भी दूरी रखनी होगी। ड्यूटी में लगे कर्मचारियों को पीपीई किट पहनना होगी। यात्रियों को मास्क, ग्लव्स, जूते, पीपीई किट आदि पहनना होगा। यात्रा के समय से दो घंटे पहले एयरपोर्ट पर पहुंचना होगा। 

<p style="text-align: center;"><strong><u>तीन सीट रिजर्व होगी</u></strong><br />
फ्लाइट में आगे की तीन सीट मेडिकल इमरजेंसी वाले यात्रियों के लिए आरक्षित की जाए।</p>

तीन सीट रिजर्व होगी
फ्लाइट में आगे की तीन सीट मेडिकल इमरजेंसी वाले यात्रियों के लिए आरक्षित की जाए।

<p style="text-align: center;"><strong><u>देश में कोरोना के 85 हजार से ज्यादा मरीज</u></strong><br />
देश में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है। पिछले 24 घंटों में 103 लोगों की मौत हुई है। ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 30 हजार के पार पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों को मुताबिक अबतक 85 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। 2752 लोगों की मौत हो चुकी है।<br />
 </p>

देश में कोरोना के 85 हजार से ज्यादा मरीज
देश में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है। पिछले 24 घंटों में 103 लोगों की मौत हुई है। ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 30 हजार के पार पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों को मुताबिक अबतक 85 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। 2752 लोगों की मौत हो चुकी है।
 

loader