Asianet News Hindi

राहुल लॉकडाउन में निकले बाहर, रोड किनारे बैठ मजदूरों से की बात, गाड़ी बुक कराई, खाना-मास्क दिया

First Published May 16, 2020, 6:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. राहुल गांधी ने शनिवार की सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कोरोना महामारी में पलायन कर रहे प्रवासी मजदूरों के लिए चिंता व्यक्त की और मोदी सरकार की योजनाओं पर सवाल उठाए। फिर शाम होते-होते उनकी कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुईं, जिसमें दिखाई दे रहा था कि वह रोड किनारे बैठे कुछ मजदूरों से बात कर रहे हैं। फोटो में दिख रहा है कि राहुल गांधी ने सफेद कुर्ता और काला पैंट पहना है। बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने मास्क लगाया है।

दिल्ली के सुखदेव विहार फ्लाईओवर के पास का फोटो

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राहुल गांधी ने शनिवार को दिल्ली के सुखदेव विहार फ्लाईओवर के पास मजदूरों से मुलाकात की। फुटपाथ पर बैठकर उनसे बातचीत की। उनकी समस्याएं जानीं। राहुल गांधी ने भारतीय युवा कांग्रेस और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी से दिल्ली में फंसे प्रवासी मजदूरों की सुरक्षित घर वापसी की व्यवस्था करने को कहा है।
 

दिल्ली के सुखदेव विहार फ्लाईओवर के पास का फोटो

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राहुल गांधी ने शनिवार को दिल्ली के सुखदेव विहार फ्लाईओवर के पास मजदूरों से मुलाकात की। फुटपाथ पर बैठकर उनसे बातचीत की। उनकी समस्याएं जानीं। राहुल गांधी ने भारतीय युवा कांग्रेस और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी से दिल्ली में फंसे प्रवासी मजदूरों की सुरक्षित घर वापसी की व्यवस्था करने को कहा है।
 

राहुल गांधी  ने प्रवासी मजदूरों का वीडियो भी किया था शेयर

हाल ही में राहुल गांधी ने प्रवासी मजदूरों का पैदल अपने घर जाते हुए एक वीडियो भी शेयर किया था। राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा था, "अंधकार घना है। कठिन घड़ी है। हिम्मत रखिए।" 

राहुल गांधी ने और क्या लिखा था...

"हम इन सभी की सुरक्षा में खड़े हैं। सरकार तक इनकी चीखें पहुंचा के रहेंगे। इनके हक की हर मदद दिला के रहेंगे। देश की साधारण जनता नहीं। ये तो देश के स्वाभिमान का ध्वज हैं। इसे कभी भी झुकने नहीं देंगे।"

राहुल गांधी  ने प्रवासी मजदूरों का वीडियो भी किया था शेयर

हाल ही में राहुल गांधी ने प्रवासी मजदूरों का पैदल अपने घर जाते हुए एक वीडियो भी शेयर किया था। राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा था, "अंधकार घना है। कठिन घड़ी है। हिम्मत रखिए।" 

राहुल गांधी ने और क्या लिखा था...

"हम इन सभी की सुरक्षा में खड़े हैं। सरकार तक इनकी चीखें पहुंचा के रहेंगे। इनके हक की हर मदद दिला के रहेंगे। देश की साधारण जनता नहीं। ये तो देश के स्वाभिमान का ध्वज हैं। इसे कभी भी झुकने नहीं देंगे।"

शनिवार की सुबह मोदी सरकार पर साधा था निशाना

कांग्रेस नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने शनिवार की सुबह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पत्रकारों से बात की। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा, आज हमारे गरीब लोगों को पैसों की आवश्यक्ता है।

किसानों को सीधे खाते में पैसा देने की बात कही थी

उन्होंने कहा था, मैं प्रधानमंत्री जी से अपील करता हूं कि पैकेज पर पुनर्विचार करना चाहिए। मनरेगा में 200 दिन का रोजगार दिया जाए और किसानों को सीधे पैसा उनके खाते में ट्रांसफर करने विचार करना चाहिए, क्योंकि ये लोग हमारा भविष्य हैं।

राहुल गांधी ने कहा था, अभी तूफान आना बाकी है, बहुत नुकसान होगा

इसके साथ ही उन्होंने कहा, देश में आर्थिक तूफान अभी आया नहीं है, आने वाला है। बहुत जबर्दस्त नुकसान होने वाला है। हम चाहते हैं कि सरकार हमारी सुने। हम यानी विपक्ष थोड़ा दबाव डाले और अच्छी तरह से समझाए तो सरकार सुन भी लेगी।

शनिवार की सुबह मोदी सरकार पर साधा था निशाना

कांग्रेस नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने शनिवार की सुबह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पत्रकारों से बात की। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा, आज हमारे गरीब लोगों को पैसों की आवश्यक्ता है।

किसानों को सीधे खाते में पैसा देने की बात कही थी

उन्होंने कहा था, मैं प्रधानमंत्री जी से अपील करता हूं कि पैकेज पर पुनर्विचार करना चाहिए। मनरेगा में 200 दिन का रोजगार दिया जाए और किसानों को सीधे पैसा उनके खाते में ट्रांसफर करने विचार करना चाहिए, क्योंकि ये लोग हमारा भविष्य हैं।

राहुल गांधी ने कहा था, अभी तूफान आना बाकी है, बहुत नुकसान होगा

इसके साथ ही उन्होंने कहा, देश में आर्थिक तूफान अभी आया नहीं है, आने वाला है। बहुत जबर्दस्त नुकसान होने वाला है। हम चाहते हैं कि सरकार हमारी सुने। हम यानी विपक्ष थोड़ा दबाव डाले और अच्छी तरह से समझाए तो सरकार सुन भी लेगी।

राहुल गांधी ने खाना पानी और मास्क दिया, गाड़ी बुक कराई

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद एक प्रवासी मजदूर देवेंद्र ने बताया, राहुल गांधी आए और हमसे आधे घंटे पहले मिले। उसने हमारे लिए गाड़ी बुक किया और कहा कि वह हमें हमारे घरों तक छोड़ कर आएगा। उन्होंने हमें खाना, पानी और मास्क दिया। 

राहुल गांधी ने खाना पानी और मास्क दिया, गाड़ी बुक कराई

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद एक प्रवासी मजदूर देवेंद्र ने बताया, राहुल गांधी आए और हमसे आधे घंटे पहले मिले। उसने हमारे लिए गाड़ी बुक किया और कहा कि वह हमें हमारे घरों तक छोड़ कर आएगा। उन्होंने हमें खाना, पानी और मास्क दिया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios