दिल्ली में दुनिया का सबसे बड़ा COVID सेंटर शुरू; DRDO ने सिर्फ 12 दिन में बनाया 1000 बेड का अस्पताल

First Published 5, Jul 2020, 3:34 PM

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए भारत सरकार ने भी तैयारियां तेज कर दी हैं। दिल्ली में रविवार को 10 हजार बेड वाला अस्थाई कोविड सेंटर शुरू किया गया। इसे दुनिया का सबसे बड़ा कोविड केयर सेंटर बताया जा रहा है। तो वहीं भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान दिल्ली में डीआरडीओ ने सिर्फ 12 दिन में 1 हजार बेड का दूसरा अस्थाई अस्पताल बना डाला।  
 

<p>गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रविवार को तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे। इस अस्थाई सेंटर का नाम सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड-19 अस्पताल रखा गया है। इसे भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान (डीआरडीओ) ने सिर्फ 12 दिनों में तैयार किया है। सेंटर में 250 आईसीयू बेड समेत 1 हजार बेड हैं।</p>

गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रविवार को तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे। इस अस्थाई सेंटर का नाम सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड-19 अस्पताल रखा गया है। इसे भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान (डीआरडीओ) ने सिर्फ 12 दिनों में तैयार किया है। सेंटर में 250 आईसीयू बेड समेत 1 हजार बेड हैं।

<p><strong>हल्के लक्षण वाले मरीजों को रखा जाएगा</strong><br />
इस कोविड सेंटर में हल्के लक्षण वाले मरीजों को आइसोलेशन में रखा जाएगा। इसे दिल्ली जिला प्रशासन, केंद्र सरकार और गृह मंत्रालय ने बनाया है। राजनाथ सिंह ने बताया कि इसमें &nbsp;डीआरडीओ, गृह मंत्रालय और टाटा सन्स एंड इंडस्ट्रीज समेत कई संगठनों ने एक साथ काम कर बनाया है। इस कोविड केयर की देखरेख आईटीवीपी करेगी। आईटीबीपी जवान ड्यूटी पर तैनात रहेंगे।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

हल्के लक्षण वाले मरीजों को रखा जाएगा
इस कोविड सेंटर में हल्के लक्षण वाले मरीजों को आइसोलेशन में रखा जाएगा। इसे दिल्ली जिला प्रशासन, केंद्र सरकार और गृह मंत्रालय ने बनाया है। राजनाथ सिंह ने बताया कि इसमें  डीआरडीओ, गृह मंत्रालय और टाटा सन्स एंड इंडस्ट्रीज समेत कई संगठनों ने एक साथ काम कर बनाया है। इस कोविड केयर की देखरेख आईटीवीपी करेगी। आईटीबीपी जवान ड्यूटी पर तैनात रहेंगे। 
 

<p>राजनाथ सिंह ने कहा, सेंटर को WHO के दिशा निर्देशों के तहत ही तैयार किया गया है। उन्होंने कहा, हम कोरोना से लोगों की सुरक्षा के लिए तैयार हैं, वहीं मोर्चे पर हमारी सेना दुश्मनों से हमारी सुरक्षा में लगातार डटी हुई है।<br />
&nbsp;</p>

राजनाथ सिंह ने कहा, सेंटर को WHO के दिशा निर्देशों के तहत ही तैयार किया गया है। उन्होंने कहा, हम कोरोना से लोगों की सुरक्षा के लिए तैयार हैं, वहीं मोर्चे पर हमारी सेना दुश्मनों से हमारी सुरक्षा में लगातार डटी हुई है।
 

<p><strong>अस्पताल में सभी जरूरी मेडिकल सुविधाएं मौजूद</strong><br />
इस अस्पताल का ऑपरेशन शुरू हो गया है। अस्पताल में सभी जरूरी मेडिकल सेवाएं भी उपलब्ध हैं। इसमें ऑक्सीजन, पीपीई किट, वेंटिलेटर, कोरोना टेस्ट सुविधा और अन्य लैब की भी व्यवस्थाएं हैं।&nbsp;</p>

अस्पताल में सभी जरूरी मेडिकल सुविधाएं मौजूद
इस अस्पताल का ऑपरेशन शुरू हो गया है। अस्पताल में सभी जरूरी मेडिकल सेवाएं भी उपलब्ध हैं। इसमें ऑक्सीजन, पीपीई किट, वेंटिलेटर, कोरोना टेस्ट सुविधा और अन्य लैब की भी व्यवस्थाएं हैं। 

<p><strong>अस्पताल में तैनात 600 जवान</strong><br />
डीआरडीओ के इस अस्पताल की डॉक्टर लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी कानितकर ने बताया कि डॉक्टर, नर्सिंग अधिकारी , मेडिकल स्टाफ समेत 600 जवानों की टीम तैनात रहेगी। मरीजों की संख्या को देखते हुए इसमें बदलाव भी किया जा सकता है।&nbsp;</p>

अस्पताल में तैनात 600 जवान
डीआरडीओ के इस अस्पताल की डॉक्टर लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी कानितकर ने बताया कि डॉक्टर, नर्सिंग अधिकारी , मेडिकल स्टाफ समेत 600 जवानों की टीम तैनात रहेगी। मरीजों की संख्या को देखते हुए इसमें बदलाव भी किया जा सकता है। 

<p><strong>मरीजों के लिए फ्री सुविधाएं</strong><br />
डीआरडीओ के चेयरमैन जी सतीश रड्डी ने बताया कि अस्पताल में मरीजों के लिए सभी जरूरी सुविधाएं फ्री में उपलब्ध कराई गई हैं। सरदार वल्लभभाई पटेल सेंटर के निर्माण के लिए कटरा डंपिंग ग्राउंड को साफ और समतल किया गया। इसके बाद इसे तैयार किया गया।&nbsp;</p>

मरीजों के लिए फ्री सुविधाएं
डीआरडीओ के चेयरमैन जी सतीश रड्डी ने बताया कि अस्पताल में मरीजों के लिए सभी जरूरी सुविधाएं फ्री में उपलब्ध कराई गई हैं। सरदार वल्लभभाई पटेल सेंटर के निर्माण के लिए कटरा डंपिंग ग्राउंड को साफ और समतल किया गया। इसके बाद इसे तैयार किया गया। 

<p><strong>10 हजार बेड वाले सेंटर का भी हुआ उद्धाटन</strong><br />
उधर, दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल ने 10 हजार बेड वाले दुनिया के सबसे बड़े कोविड सेंटर का उद्घाटन किया। हालांकि, अभी इसे 2000 बेड की सुविधा के साथ शुरू किया गया है। छतरपुर स्थित राधा स्वामी सत्संग व्यास केंद्र में बने इसे सेंटर की जिम्मेदारी आईटीबीपी को सौंपी गई है।&nbsp;</p>

10 हजार बेड वाले सेंटर का भी हुआ उद्धाटन
उधर, दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल ने 10 हजार बेड वाले दुनिया के सबसे बड़े कोविड सेंटर का उद्घाटन किया। हालांकि, अभी इसे 2000 बेड की सुविधा के साथ शुरू किया गया है। छतरपुर स्थित राधा स्वामी सत्संग व्यास केंद्र में बने इसे सेंटर की जिम्मेदारी आईटीबीपी को सौंपी गई है। 

<p><strong>20 फुटबॉल के मैदान के बराबर है ये अस्पताल</strong><br />
यह सेंटर 17000 फीट लंबा और 700 फीट चौड़ा है। इसमें लगभग 20 फुटबॉल मैदान समा सकते हैं। सेंटर में 200 परिसर बनाए गए हैं, हर एक में 50 बेड की व्यवस्था है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

20 फुटबॉल के मैदान के बराबर है ये अस्पताल
यह सेंटर 17000 फीट लंबा और 700 फीट चौड़ा है। इसमें लगभग 20 फुटबॉल मैदान समा सकते हैं। सेंटर में 200 परिसर बनाए गए हैं, हर एक में 50 बेड की व्यवस्था है। 
 

loader