Asianet News Hindi

मंदिर, शॉपिंग मॉल खुलने से पहले कोरोना ने दिया ये बड़ा झटका, लेकिन मिल रही खुश कर देने वाली खबर

First Published Jun 7, 2020, 12:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस की बढ़ती रफ्तार ने टेंशन बढ़ा दी है। शनिवार को संक्रमण के करीब 9 हजार 971 नए मरीज मिले हैं। जिसके बाद देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 2,46, 549 पहुंच गई है। जिसके बाद भारत कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित 6 वां देश बन गया है। वहीं, मौतों का भी आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। शनिवार को 287 लोगों की मौत हुई है। एक दिन में यह सबसे ज्यादा मौतें हैं। इससे पहले एक दिन में गुरुवार को 9,651 मामले सामने आए थे। वहीं, एक दिन में 295 लोगों की मौत हुई थी।

अब तक 6642 लोगों की हुई है मौत 
देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच भारत के लिए राहत की बात है कि अमेरिका, ब्राजील, ब्रिटेन, स्पेन और इटली के मुकाबले देश में कोरोना से मृत्यु दर कम है। भारत में अब तक कोरोना से 6,642 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, अमेरिका में 19 लाख 88 हजार 651 संक्रमितों में से 1 लाख 12 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। 

अब तक 6642 लोगों की हुई है मौत 
देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच भारत के लिए राहत की बात है कि अमेरिका, ब्राजील, ब्रिटेन, स्पेन और इटली के मुकाबले देश में कोरोना से मृत्यु दर कम है। भारत में अब तक कोरोना से 6,642 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, अमेरिका में 19 लाख 88 हजार 651 संक्रमितों में से 1 लाख 12 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। 

भारत में मृत्यु दर की बात करें तो वो (प्रति 100 मामलों में मौतों की संख्या) अभी भी कम - 2.8 फीसदी ही है। वैश्विक स्तर पर सीएफआर 5.8 फीसदी है। अमेरिका में यह 5.7 फीसदी है, ब्राजील में यह 5.5 फीसदी और रूस में लगभग 1.2 फीसदी है। 
 

भारत में मृत्यु दर की बात करें तो वो (प्रति 100 मामलों में मौतों की संख्या) अभी भी कम - 2.8 फीसदी ही है। वैश्विक स्तर पर सीएफआर 5.8 फीसदी है। अमेरिका में यह 5.7 फीसदी है, ब्राजील में यह 5.5 फीसदी और रूस में लगभग 1.2 फीसदी है। 
 

आधे मामले 4 बड़े शहरों से
चौंकाने वाली बात यह है कि करीब आधे मामले शीर्ष चार महानगरों- दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नै- में सामने आए हैं। इस वायरस से मरने वालों की संख्या 7,000 के करीब पहुंच रही है और मृतक संख्या में से आधे लोग इन्हीं चार महानगरों के है।

आधे मामले 4 बड़े शहरों से
चौंकाने वाली बात यह है कि करीब आधे मामले शीर्ष चार महानगरों- दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नै- में सामने आए हैं। इस वायरस से मरने वालों की संख्या 7,000 के करीब पहुंच रही है और मृतक संख्या में से आधे लोग इन्हीं चार महानगरों के है।

विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के ताजा आंकड़ों के अनुसार, इन चार महानगरों के साथ यदि अहमदाबाद, इंदौर और पुणे को भी जोड़ लिया जाए तो कुल संक्रमित मामलों के 60 प्रतिशत और कुल मृतक संख्या के 80 प्रतिशत मामले इन सात शहरों के हैं।

विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के ताजा आंकड़ों के अनुसार, इन चार महानगरों के साथ यदि अहमदाबाद, इंदौर और पुणे को भी जोड़ लिया जाए तो कुल संक्रमित मामलों के 60 प्रतिशत और कुल मृतक संख्या के 80 प्रतिशत मामले इन सात शहरों के हैं।

48.20 फीसदी है देश में रिकवरी रेट
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में एक लाख 15,942 संक्रमित मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 1,14, 072 लोग स्वस्थ हो चुके हैं, जिनमें से 4,611 मरीज पिछले 24 घंटे में ठीक हुए हैं। अब तक 48.20 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

48.20 फीसदी है देश में रिकवरी रेट
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में एक लाख 15,942 संक्रमित मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 1,14, 072 लोग स्वस्थ हो चुके हैं, जिनमें से 4,611 मरीज पिछले 24 घंटे में ठीक हुए हैं। अब तक 48.20 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

संक्रमण के मामलों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। अब तक 45 लाख 24 हजार 317 नमूनों की जांच की गई है। इनमें से भी एक लाख 37 हजार 938 नमूनों की जांच  24 घंटे में हुई है।

संक्रमण के मामलों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। अब तक 45 लाख 24 हजार 317 नमूनों की जांच की गई है। इनमें से भी एक लाख 37 हजार 938 नमूनों की जांच  24 घंटे में हुई है।

किस राज्य में कितनी मौतें
कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें 2969 महाराष्ट्र में हुई हैं। इसके बाद गुजरात में 1219, दिल्ली में 761, मध्य प्रदेश में 399, पश्चिम बंगाल में 383, उत्तर प्रदेश में 268, तमिलनाडु में 254, राजस्थान में 231, तेलंगाना में 123 लोगों की मौत हुई है। 

किस राज्य में कितनी मौतें
कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें 2969 महाराष्ट्र में हुई हैं। इसके बाद गुजरात में 1219, दिल्ली में 761, मध्य प्रदेश में 399, पश्चिम बंगाल में 383, उत्तर प्रदेश में 268, तमिलनाडु में 254, राजस्थान में 231, तेलंगाना में 123 लोगों की मौत हुई है। 

5 राज्‍यों में देश के 83% कोरोना मृतक
महाराष्‍ट्र, गुजरात, दिल्‍ली, एमपी और बंगाल से सबसे ज्‍यादा मौतें दर्ज की गई हैं। 6 जून तक देश में 6,650 मौतें हुई थीं जिनमें से 83 प्रतिशत मृतक इन्‍हीं पांच राज्‍यों से हैं। 

5 राज्‍यों में देश के 83% कोरोना मृतक
महाराष्‍ट्र, गुजरात, दिल्‍ली, एमपी और बंगाल से सबसे ज्‍यादा मौतें दर्ज की गई हैं। 6 जून तक देश में 6,650 मौतें हुई थीं जिनमें से 83 प्रतिशत मृतक इन्‍हीं पांच राज्‍यों से हैं। 

अगर केसेज के आधार पर मौतों का आंकड़ा देखें तो टॉप-5 राज्‍यों में क्रमश: गुजरात, पश्चिम बंगाल, एमपी, महाराष्‍ट्र और दिल्‍ली आते हैं। यानी टेस्‍ट, कन्‍फर्म केसेज की संख्‍या और फैटलिटी रेट के आधार पर राज्‍यों का क्रम बदलता है।

अगर केसेज के आधार पर मौतों का आंकड़ा देखें तो टॉप-5 राज्‍यों में क्रमश: गुजरात, पश्चिम बंगाल, एमपी, महाराष्‍ट्र और दिल्‍ली आते हैं। यानी टेस्‍ट, कन्‍फर्म केसेज की संख्‍या और फैटलिटी रेट के आधार पर राज्‍यों का क्रम बदलता है।

गुजरात में सबसे अधिक रिकवरी रेट 
महाराष्ट्र में रिकवरी रेट 45.07% है। यहां हर 100 संक्रमित में से 45  लोग ठीक हो रहे हैं। जबकि गुजरात में 67.92% है। यानी प्रत्येक 100 संक्रमित मरीजों में से 68 मरीज ठीक हो रहे हैं। इन सब के इतर दिल्ली में कोरोना शिकार 100 मरीजों में से 39 मरीज ठीक हो रहे हैं। यानी दिल्ली में रिकवरी रेट 38.56% है। 

गुजरात में सबसे अधिक रिकवरी रेट 
महाराष्ट्र में रिकवरी रेट 45.07% है। यहां हर 100 संक्रमित में से 45  लोग ठीक हो रहे हैं। जबकि गुजरात में 67.92% है। यानी प्रत्येक 100 संक्रमित मरीजों में से 68 मरीज ठीक हो रहे हैं। इन सब के इतर दिल्ली में कोरोना शिकार 100 मरीजों में से 39 मरीज ठीक हो रहे हैं। यानी दिल्ली में रिकवरी रेट 38.56% है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios