खुशखबरी! अब मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें भी चलाने की तैयारी, 22 मई से वेटिंग टिकट भी ले सकेंगे यात्री

First Published 14, May 2020, 8:27 AM

नई दिल्ली. स्पेशल राजधानी ट्रेनों के परिचालन शुरू करने के बाद अब रेल मंत्रालय स्पेशल मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने की तैयारी कर रहा है। इन ट्रेनों के लिए टिकटों की बुकिंग आईआरसीटीसी की वेबसाइट से ही हो सकेगी। इन ट्रेनों में वेटिंग टिकट तो मिलेगा, लेकिन तत्काल या प्रीमियम तत्काल टिकट नहीं मिलेगा, हालांकि वेटिंग टिकटों की संख्या भी तय कर दी गई है। इसके अलावा मौजूदा स्पेशल ट्रेनों में वेटिंग टिकटें मिलेंगी, ये वेटिंग टिकटें 15 मई से की जाने वाली बुकिंग में मिलेंगी। 

<p style="text-align: justify;"><strong>22 मई से वेटिंग लिस्ट जारी करेगा रेलवे </strong><br />
रेल मंत्रालय से जारी सर्कुलर के मुताबिक 22 मई से चलने वाली स्पेशल ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट में बुकिंग का प्रावधान किया है। वेटिंग लिस्ट न सिर्फ अभी चल रही स्पेशल ट्रेनों में बल्कि दूसरी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में भी मिलेगी। हालांकि ऐसी ट्रेनों की घोषणा अभी नहीं की गई है।</p>

22 मई से वेटिंग लिस्ट जारी करेगा रेलवे 
रेल मंत्रालय से जारी सर्कुलर के मुताबिक 22 मई से चलने वाली स्पेशल ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट में बुकिंग का प्रावधान किया है। वेटिंग लिस्ट न सिर्फ अभी चल रही स्पेशल ट्रेनों में बल्कि दूसरी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में भी मिलेगी। हालांकि ऐसी ट्रेनों की घोषणा अभी नहीं की गई है।

<p style="text-align: justify;"><strong>रेलवे ने तय किया वेटिंग सीट </strong><br />
रेलवे के मुताबिक AC 3 टियर में 100 वेटिंग लिस्ट बुक होंगे, जबकि एसी 2 टियर में 50 टिकटें वेटिंग लिस्ट कोटे में बुक हो सकेंगी, 200 वेटिंग टिकटें स्लीपर क्लास के लिए रखी गई हैं। </p>

रेलवे ने तय किया वेटिंग सीट 
रेलवे के मुताबिक AC 3 टियर में 100 वेटिंग लिस्ट बुक होंगे, जबकि एसी 2 टियर में 50 टिकटें वेटिंग लिस्ट कोटे में बुक हो सकेंगी, 200 वेटिंग टिकटें स्लीपर क्लास के लिए रखी गई हैं। 

<p style="text-align: justify;"><strong>IRCTC की वेबसाइट से ही होगी बुकिंग</strong><br />
रेलवे की इन तैयारियों से स्पष्ट है कि भारतीय रेल ने स्पेशल ट्रेन के अलावा दूसरी ट्रेनें भी चलाने की तैयारी शुरू कर दी है। इन ट्रेनों में यात्रा के लिए सिर्फ आईआरसीटीसी की वेबसाइट से 15 मई से बुकिंग की जा सकेगी। यानी कि रेलवे के बुकिंग काउंटर अभी भी बंद ही रहेंगे। </p>

IRCTC की वेबसाइट से ही होगी बुकिंग
रेलवे की इन तैयारियों से स्पष्ट है कि भारतीय रेल ने स्पेशल ट्रेन के अलावा दूसरी ट्रेनें भी चलाने की तैयारी शुरू कर दी है। इन ट्रेनों में यात्रा के लिए सिर्फ आईआरसीटीसी की वेबसाइट से 15 मई से बुकिंग की जा सकेगी। यानी कि रेलवे के बुकिंग काउंटर अभी भी बंद ही रहेंगे। 

<p style="text-align: justify;"><strong>RAC टिकट नहीं मिलेगा</strong><br />
रेल मंत्रालय ने सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों के अनुरुप इन ट्रेनों में RAC टिकट नहीं देने का फैसला किया है। RAC टिकटों में एक पूरी सीट पर दो पैसेंजर सफर करते हैं। मौजूदा हालत में ये स्थिति कोरोना संक्रमण के लिहाज से घातक हो सकती है, लिहाजा रेलवे ने RAC टिकट नहीं जारी करने का फैसला किया है। </p>

RAC टिकट नहीं मिलेगा
रेल मंत्रालय ने सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों के अनुरुप इन ट्रेनों में RAC टिकट नहीं देने का फैसला किया है। RAC टिकटों में एक पूरी सीट पर दो पैसेंजर सफर करते हैं। मौजूदा हालत में ये स्थिति कोरोना संक्रमण के लिहाज से घातक हो सकती है, लिहाजा रेलवे ने RAC टिकट नहीं जारी करने का फैसला किया है। 

<p><strong>छोटे शहरों के लिए ट्रेन सेवा</strong><br />
कौन-कौन सी ट्रेनें किस तारीख से चलेंगी इसकी लिस्ट अभी सामने नहीं आई है, लेकिन माना जा रहा है कि बड़े शहरों के अलावा अब रेलवे छोटे शहरों के लिए भी ट्रेन सेवा शुरू कर सकती है। देश में 22 मार्च से ट्रेन सेवा संपूर्ण रूप से बंद है। </p>

छोटे शहरों के लिए ट्रेन सेवा
कौन-कौन सी ट्रेनें किस तारीख से चलेंगी इसकी लिस्ट अभी सामने नहीं आई है, लेकिन माना जा रहा है कि बड़े शहरों के अलावा अब रेलवे छोटे शहरों के लिए भी ट्रेन सेवा शुरू कर सकती है। देश में 22 मार्च से ट्रेन सेवा संपूर्ण रूप से बंद है। 

<p style="text-align: justify;"><strong>12 मई से चल रही हैं 15 जोड़ी ट्रेनें</strong><br />
रेलवे 12 मई से 15 जोड़ी ट्रेनें चला रहा है। ये ट्रेनें दिल्ली-मुंबई, दिल्ली-पटना, दिल्ली रांची जैसे शहरों को जोड़ रही है। रेलवे के आंकड़ों के मुताबिक बुधवार तक स्पेशल ट्रेनों में सफर के लिए 2,08,965 लोग अगले सात दिनों की यात्रा के लिए टिकट बुक करवा चुके हैं। </p>

12 मई से चल रही हैं 15 जोड़ी ट्रेनें
रेलवे 12 मई से 15 जोड़ी ट्रेनें चला रहा है। ये ट्रेनें दिल्ली-मुंबई, दिल्ली-पटना, दिल्ली रांची जैसे शहरों को जोड़ रही है। रेलवे के आंकड़ों के मुताबिक बुधवार तक स्पेशल ट्रेनों में सफर के लिए 2,08,965 लोग अगले सात दिनों की यात्रा के लिए टिकट बुक करवा चुके हैं। 

<p style="text-align: justify;"><strong>टिकट कैंसिलेशन के नियमों में भी बदलाव</strong><br />
स्पेशल ट्रेनों के टिकट कैंसिलेशन को लेकर रेलवे ने जो नियम जारी किए थे। इसमें भी बदलाव किया गया है। यात्रा से 24 घंटे पहले टिकट रद्द करने पर 50 फीसदी राशि ही वापस मिलती थी, जबकि 24 घंटे से कम समय में टिकट कैंसिल करने पर पूरा पैसा रेलवे के खाते में चला जाता था। नई व्यवस्था के तहत आम दिनों में टिकट रद्द करने पर जो शुल्क लगता था, स्पेशल ट्रेन के मुसाफिरों को भी उतना ही देना होगा।</p>

टिकट कैंसिलेशन के नियमों में भी बदलाव
स्पेशल ट्रेनों के टिकट कैंसिलेशन को लेकर रेलवे ने जो नियम जारी किए थे। इसमें भी बदलाव किया गया है। यात्रा से 24 घंटे पहले टिकट रद्द करने पर 50 फीसदी राशि ही वापस मिलती थी, जबकि 24 घंटे से कम समय में टिकट कैंसिल करने पर पूरा पैसा रेलवे के खाते में चला जाता था। नई व्यवस्था के तहत आम दिनों में टिकट रद्द करने पर जो शुल्क लगता था, स्पेशल ट्रेन के मुसाफिरों को भी उतना ही देना होगा।

<p style="text-align: justify;"><strong>रेलवे कोरोना संक्रमित की टिकट की पूरी राशि रिफंड करेगा</strong><br />
कोरोना के लक्षण की वजह से जिन लोगों को ट्रेनों में यात्रा करने से रोका जाएगा, उन्हें रेलवे टिकट की पूरी राशि रिफंड करेगा। रेलवे ने बुधवार को यह जानकारी दी। इस संबंध में गाइडलाइन जारी की गई है।  इसके मुताबिक, कंफर्म टिकट वाले यात्री में अगर स्क्रीनिंग के दौरान कोविड-19 के लक्षण नजर आते हैं। जैसे तेज बुखार, खांसी तो उसे यात्रा की अनुमति नहीं होगी। इस सूरत में उसका टिकट रद्द कर दिया जाएगा और रेलवे पूरा पैसा लौटाएगी। </p>

रेलवे कोरोना संक्रमित की टिकट की पूरी राशि रिफंड करेगा
कोरोना के लक्षण की वजह से जिन लोगों को ट्रेनों में यात्रा करने से रोका जाएगा, उन्हें रेलवे टिकट की पूरी राशि रिफंड करेगा। रेलवे ने बुधवार को यह जानकारी दी। इस संबंध में गाइडलाइन जारी की गई है।  इसके मुताबिक, कंफर्म टिकट वाले यात्री में अगर स्क्रीनिंग के दौरान कोविड-19 के लक्षण नजर आते हैं। जैसे तेज बुखार, खांसी तो उसे यात्रा की अनुमति नहीं होगी। इस सूरत में उसका टिकट रद्द कर दिया जाएगा और रेलवे पूरा पैसा लौटाएगी। 

loader