Asianet News Hindi

तीन ज्योतिर्लिंगों के दर्शन कराएगी काशी महाकाल एक्सप्रेस; जानें रूट, किराया और खासियत

First Published Feb 16, 2020, 7:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बनारस. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को तीसरी प्राइवेट ट्रेन काशी महाकाल एक्सप्रेस का शुभारंभ किया। यह ट्रेन इंदौर से काशी जाने वाले श्रद्धालुओं को ओंकारेश्वर, महाकालेश्वर और काशी विश्वनाथ के दर्शन कराएगी। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, आज बाबा विश्वनाथ की नगरी को ओंकारेश्वर और महाकालेश्वर से जोड़ने वाली काशी महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई है। अब अब काशी में बाबा के दर्शन के बाद, उज्जैन में महाकाल के दर्शन कर पाएंगे। इसी ट्रैन में आगे बढ़कर इंदौर में ओंकारेश्वर में श्रद्धासुमन अर्पित कर पाएंगे।

पीएम मोदी ने कहा, यह ट्रेन यात्रियों को आध्यात्मिक अहसास कराएगी।  मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक अश्विनी श्रीवास्तव ने मीडिया से बताया, यह ट्रेन काफी खास है। इसमें मनोरंजन और अध्यात्मिक अहसास के लिए भजन-कीर्तन का आयोजन होगा। इस ट्रेन में मंडली जाएगी तो भजन गाएगी। बाद में यह रिकॉर्डिंग करके ट्रेन के यात्री हर वक्त सुन सकेंगे।

पीएम मोदी ने कहा, यह ट्रेन यात्रियों को आध्यात्मिक अहसास कराएगी। मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक अश्विनी श्रीवास्तव ने मीडिया से बताया, यह ट्रेन काफी खास है। इसमें मनोरंजन और अध्यात्मिक अहसास के लिए भजन-कीर्तन का आयोजन होगा। इस ट्रेन में मंडली जाएगी तो भजन गाएगी। बाद में यह रिकॉर्डिंग करके ट्रेन के यात्री हर वक्त सुन सकेंगे।

क्या है ट्रेन का रूट? : ट्रेन मंगलवार और गुरुवार को बनारस से चलेगी। यह लखनऊ, कानपुर, झांसी बीना, भोपाल होते हुए इंदौर जाएगी। इंदौर से यह उज्जैन भोपाल, झांसी, कानपुर, लखनऊ होते हुए बनारस लौटेगी।

क्या है ट्रेन का रूट? : ट्रेन मंगलवार और गुरुवार को बनारस से चलेगी। यह लखनऊ, कानपुर, झांसी बीना, भोपाल होते हुए इंदौर जाएगी। इंदौर से यह उज्जैन भोपाल, झांसी, कानपुर, लखनऊ होते हुए बनारस लौटेगी।

वहीं, बनारस से इंदौर वाया इलाहाबाद, कानपुर ट्रेन रविवार को चलेगी। यह सोमवार को इंदौर पहुंचेगी। इंदौर से उज्जैन, संत हिरदाराम नगर, बीना, कानपुर, इलाहाबाद होकर बनारस लौटेगी।

वहीं, बनारस से इंदौर वाया इलाहाबाद, कानपुर ट्रेन रविवार को चलेगी। यह सोमवार को इंदौर पहुंचेगी। इंदौर से उज्जैन, संत हिरदाराम नगर, बीना, कानपुर, इलाहाबाद होकर बनारस लौटेगी।

ये हैं ट्रेन में विशेषताएं: ट्रेन में 24 घंटे सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। सीसीटीवी कैमरा, शाकाहारी भोजन, साफ सफाई, बीमा, सार्वजनिक घोषणा प्रणाली, आरामदायक सीटें समेत कई सुविधाएं होंगी।

ये हैं ट्रेन में विशेषताएं: ट्रेन में 24 घंटे सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। सीसीटीवी कैमरा, शाकाहारी भोजन, साफ सफाई, बीमा, सार्वजनिक घोषणा प्रणाली, आरामदायक सीटें समेत कई सुविधाएं होंगी।

अश्विनी श्रीवास्तव के मुताबिक, इस ट्रेन में धार्मिक यात्रा के लिए विशेष पैकेज भी दिए जा रहे हैं। जैसे काशी दर्शन का एक पैकेज 6010 रुपए का है। इसमें बनारस के घाट, विश्वनाथ मंदिर, गंगा आरती के दर्शन कराए जाएंगे।

अश्विनी श्रीवास्तव के मुताबिक, इस ट्रेन में धार्मिक यात्रा के लिए विशेष पैकेज भी दिए जा रहे हैं। जैसे काशी दर्शन का एक पैकेज 6010 रुपए का है। इसमें बनारस के घाट, विश्वनाथ मंदिर, गंगा आरती के दर्शन कराए जाएंगे।

वहीं, दूसरा पैकेज 8110 रुपए का है। इसमें सारनाथ के भी दर्शन कराए जाएंगे। इसके अलावा 20 फरवरी से इंदौर से बनारस तक चलने वाली काशी महाकाल एक्सप्रेस में 8 विभिन्न तीर्थस्थलों को जोड़ा जाएगा। आईआरसीटीसी ने बनारस, इंदौर, प्रयागराज, उज्जैन, भोपाल के पर्यटन स्थल को पैकेज में जोड़ा है।

वहीं, दूसरा पैकेज 8110 रुपए का है। इसमें सारनाथ के भी दर्शन कराए जाएंगे। इसके अलावा 20 फरवरी से इंदौर से बनारस तक चलने वाली काशी महाकाल एक्सप्रेस में 8 विभिन्न तीर्थस्थलों को जोड़ा जाएगा। आईआरसीटीसी ने बनारस, इंदौर, प्रयागराज, उज्जैन, भोपाल के पर्यटन स्थल को पैकेज में जोड़ा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios