Asianet News Hindi

नशेड़ी आदमी ने किया रेप, गर्भ में बच्चा भी मर गया, अब फौलादी बॉडी बनाकर ट्रेनर बन गई वो पीड़िता

First Published Feb 18, 2020, 4:01 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कलीकट. केरल के कलीकट में घरेलू हिंसा और बलात्कार पीड़िता के संघर्ष की कहानी सुन लोग दंग रह गए हैं। ये लड़की अपने हौसले और जज्बे से दुनिया को हैरान कर रही है। एक रूढ़िवादी मुस्लिम परिवार से ताल्लकु रखने वाली लड़की आज देशभर में पहचान रखती है। वो एक दमदार फिटनेस ट्रेनर है। जिम में घंटो पसीना बहाकर वो दूसरों के लिए भी प्रेरणा बन गई है लेकिन कोई उसके दमदार मेकओवर के पीछे के दर्द के नहीं जानता था। उसने अपनी कहानी सोशल मीडिया पर शेयर की है कैसे वो घरेलू हिंसा का शिकार हुई, मैरिटल रेप का दर्द झेला और घर-परिवार छोड़ छोटी-मोटी नौकरियां कर आज एक शानदार फिटनेस ट्रेनर बनी है। 

हम बात कर रहे हैं मुक्कम जैसे छोटे से गांव की रहने वाली जैसमीन मूसा की। जैसमीन एक रूढ़िवादी  मुस्लिम परिवार में जन्मी हैं। जैसमीन ने बहुत कम उम्र से दुखों को झेला है। वे इतनी अकेड़ी पड़ गई कि परिवार ही छोड़ना पड़ गया। हालांकि आज उनके जज्बे को लोग सलाम करते हैं।

हम बात कर रहे हैं मुक्कम जैसे छोटे से गांव की रहने वाली जैसमीन मूसा की। जैसमीन एक रूढ़िवादी मुस्लिम परिवार में जन्मी हैं। जैसमीन ने बहुत कम उम्र से दुखों को झेला है। वे इतनी अकेड़ी पड़ गई कि परिवार ही छोड़ना पड़ गया। हालांकि आज उनके जज्बे को लोग सलाम करते हैं।

मात्र 17 साल की उम्र में जैसमीन की शादी कर दी गई थी। वो स्कूल से लौटी तो चाय के कप लेकर उनकी मां ने मेहमानों के सामने खड़ा कर दिया था। इसके बाद जैसमीन की शादी एक ऐसे शख्स से कर दी गई जो उनके साथ मारपीट करता था। जैसमीन ने घरेलू हिंसा का दर्द झेला।

मात्र 17 साल की उम्र में जैसमीन की शादी कर दी गई थी। वो स्कूल से लौटी तो चाय के कप लेकर उनकी मां ने मेहमानों के सामने खड़ा कर दिया था। इसके बाद जैसमीन की शादी एक ऐसे शख्स से कर दी गई जो उनके साथ मारपीट करता था। जैसमीन ने घरेलू हिंसा का दर्द झेला।

वो बताती हैं कि, “शादी की रात जब वह बेडरूम में आया तो मुझे एहसास हुआ कि वो एक घटिया इंसान है। उसने शादी की रात जबरदस्ती मेरे साथ संबंध बनाए। इसे सुहागरात कहते हैं लेकिन उस रात मैं अपनी सारी ताकत से चिल्लाई थी हालांकि हम रूढ़िवादी परिवारों में ये एक सामान्य बात मानी जाती है।

वो बताती हैं कि, “शादी की रात जब वह बेडरूम में आया तो मुझे एहसास हुआ कि वो एक घटिया इंसान है। उसने शादी की रात जबरदस्ती मेरे साथ संबंध बनाए। इसे सुहागरात कहते हैं लेकिन उस रात मैं अपनी सारी ताकत से चिल्लाई थी हालांकि हम रूढ़िवादी परिवारों में ये एक सामान्य बात मानी जाती है।

ज्यादातर लड़कियों की कम उम्र में शादी कर दी जाती है। ऐसे में शादी की पहली रात उनके लिए चिल्लाना एकदम नॉर्मल माना जाता है। मेरा पति बिल्कुल अच्छा नहीं था, मैं उस रिश्ते में जी नहीं पा रही थी। शादी के एक साल बाद मैंने घरवालों से बात करके तलाक ले लिया। तलाक के बाद मेरी मुश्किलें कम नहीं हुईं।

ज्यादातर लड़कियों की कम उम्र में शादी कर दी जाती है। ऐसे में शादी की पहली रात उनके लिए चिल्लाना एकदम नॉर्मल माना जाता है। मेरा पति बिल्कुल अच्छा नहीं था, मैं उस रिश्ते में जी नहीं पा रही थी। शादी के एक साल बाद मैंने घरवालों से बात करके तलाक ले लिया। तलाक के बाद मेरी मुश्किलें कम नहीं हुईं।

आस-पड़ोस और रिश्तेदारों ने मुझे 'तलाकशुदा औरत' जैसे टैग देना शुरू कर दिया। मेरा मेरे ही घर में जीना हराम हो गया। ऐसे में मेरे मां-बाप मुझे बोझ कहने लगे। वे चाहते थे कि, कही भी मेरी जल्द से जल्द शादी कर दी जाए। पर मैंने अपने परिवार से बोल दिया कि, अगर दूसरी शादी करनी ही है तो मैं पहले लड़के से मिलूंगी बात करूंगी तभी कुछ होगा। वो मान गए और जैसमीन एक लड़के से मिली। अपने तलाक और पिछली जिंदगी के बारे में सब कुछ बता दिया। शुरुआत वो लड़का जैसमीन को काफी सही लगा, वो उन्हें अपनाने के लिए तैयार था।

आस-पड़ोस और रिश्तेदारों ने मुझे 'तलाकशुदा औरत' जैसे टैग देना शुरू कर दिया। मेरा मेरे ही घर में जीना हराम हो गया। ऐसे में मेरे मां-बाप मुझे बोझ कहने लगे। वे चाहते थे कि, कही भी मेरी जल्द से जल्द शादी कर दी जाए। पर मैंने अपने परिवार से बोल दिया कि, अगर दूसरी शादी करनी ही है तो मैं पहले लड़के से मिलूंगी बात करूंगी तभी कुछ होगा। वो मान गए और जैसमीन एक लड़के से मिली। अपने तलाक और पिछली जिंदगी के बारे में सब कुछ बता दिया। शुरुआत वो लड़का जैसमीन को काफी सही लगा, वो उन्हें अपनाने के लिए तैयार था।

इसके बाद जैसमीन की दूसरी शादी हो गई, सब खुश थे लेकिन शादी की रात लड़के ने अपना असली रूप दिखाया। उसने जैसमीन के साथ वैडिंग नाइट पर ही मारपीट की। उसके साथ कई बार रेप किया। जैसमीन को बाद में पता चला कि वो एक नशेड़ी इंसान है जो चरस-गांजे और अफीम में डूबा रहता है। वो शख्स कोकेन लेता था और जैसमीन के साथ मारपीट और जबरदस्ती संबंध बनाता था।

इसके बाद जैसमीन की दूसरी शादी हो गई, सब खुश थे लेकिन शादी की रात लड़के ने अपना असली रूप दिखाया। उसने जैसमीन के साथ वैडिंग नाइट पर ही मारपीट की। उसके साथ कई बार रेप किया। जैसमीन को बाद में पता चला कि वो एक नशेड़ी इंसान है जो चरस-गांजे और अफीम में डूबा रहता है। वो शख्स कोकेन लेता था और जैसमीन के साथ मारपीट और जबरदस्ती संबंध बनाता था।

साल बीत गए और जैसमीन नर्क की जिंदगी जीती रही। एक दिन जैसमीन को पता चला कि वो प्रेग्नेंट हैं उन्हें खुशी हुई। उन्होंने अपने पति को ये बात बहुत खुशी से बताई लेकिन मां बनने की बात सुन वो भड़क गया। उसने जैसमीन के पेट में जोर से लात मारी। जैसमीन ब्लीडिंग करने लगी। जैसमीन की मां ने उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया। ढेरों सर्जरी के बाद जैसमीन तो बच गईं लेकिन बच्चा नहीं बच पाया।

साल बीत गए और जैसमीन नर्क की जिंदगी जीती रही। एक दिन जैसमीन को पता चला कि वो प्रेग्नेंट हैं उन्हें खुशी हुई। उन्होंने अपने पति को ये बात बहुत खुशी से बताई लेकिन मां बनने की बात सुन वो भड़क गया। उसने जैसमीन के पेट में जोर से लात मारी। जैसमीन ब्लीडिंग करने लगी। जैसमीन की मां ने उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया। ढेरों सर्जरी के बाद जैसमीन तो बच गईं लेकिन बच्चा नहीं बच पाया।

इस घटना के बाद जैसमीन ने पति के खिलाफ घरेलू हिंसा का केस दर्ज करवा दिया। सबूत होने के बाद पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया। वो घर आ गईं लेकिन घर पर रहना मुश्किल था तो वो कोच्चि निकल आईं। यहां जैसमीन ने खुद का पेट पालने के लिए रेस्टोरेंट और कॉफी शॉप में काम किया। कोच्चि भाग जाने के बाद जैसमीन को एक फिटनेस सेंटर में रिसेप्शनिस्ट की नौकरी मिल गई। यहीं से वो जिम जाने लगीं और जिंदगी पूरी तरह बदल गईं।

इस घटना के बाद जैसमीन ने पति के खिलाफ घरेलू हिंसा का केस दर्ज करवा दिया। सबूत होने के बाद पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया। वो घर आ गईं लेकिन घर पर रहना मुश्किल था तो वो कोच्चि निकल आईं। यहां जैसमीन ने खुद का पेट पालने के लिए रेस्टोरेंट और कॉफी शॉप में काम किया। कोच्चि भाग जाने के बाद जैसमीन को एक फिटनेस सेंटर में रिसेप्शनिस्ट की नौकरी मिल गई। यहीं से वो जिम जाने लगीं और जिंदगी पूरी तरह बदल गईं।

जिम में जैसमीन को लोगों का सपोर्ट मिला। उन्हें फिटनेस की प्रेरणा मिली। हेल्थ अच्छी होती गई तो वो दूसरों को फिटनेस की ट्रेनिंग देने लगीं। उनका एक मेकओवर वीडियो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ। जैसमीन कहती हैं कि, “मेरे पास एक नौकरी है, एक पहचान है और हर दिन मुझे प्यार और सपोर्ट करने वाले लोग हैं। अगर मैं चीजों को अपने दम पर ठीक करने की नहीं सोचती तो शायद मैं जिंदा नहीं होती। जैसमीन को देख अच्छे-अच्छे चौंक जाते हैं। आज, जैस्मीन बेंगलुरु के एक प्रतिष्ठित केंद्र में एक फिटनेस ट्रेनर हैं।

जिम में जैसमीन को लोगों का सपोर्ट मिला। उन्हें फिटनेस की प्रेरणा मिली। हेल्थ अच्छी होती गई तो वो दूसरों को फिटनेस की ट्रेनिंग देने लगीं। उनका एक मेकओवर वीडियो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ। जैसमीन कहती हैं कि, “मेरे पास एक नौकरी है, एक पहचान है और हर दिन मुझे प्यार और सपोर्ट करने वाले लोग हैं। अगर मैं चीजों को अपने दम पर ठीक करने की नहीं सोचती तो शायद मैं जिंदा नहीं होती। जैसमीन को देख अच्छे-अच्छे चौंक जाते हैं। आज, जैस्मीन बेंगलुरु के एक प्रतिष्ठित केंद्र में एक फिटनेस ट्रेनर हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios