कश्मीर को लेकर रेसलर बबीता फौगाट ने खोला एक दिल का राज...

First Published 18, Sep 2019, 1:14 PM IST

पानीपत (हरियाणा). इंटरनेशनल महिला रेसलर बबीता फोगाट अब पहलवानी के रिंग में नहीं बल्कि राजनीति के आखाड़े में नजर आएंगी। क्योंकि वह हाल ही में भारतीय जनता पार्टी शामिल हुई हैं। वबीता ने कुछ ही दिन पहले हरियाणा पुलिस इंस्पेक्टर पद से अपना इस्तीफा भी दिया था। बबीता ने राजनीति में शामिल होने के पीछे की वजह कश्मीर से अनुच्छेद 370 धारा का हटना बताया है। उन्होंने कहा यही मेरे लिए यहां आने का टर्निंग प्वाइंट रहा।
 

बबीता फोगाट ने मीडिया से बात करते हुए कहा- कि वह मोदी सरकार के काम काज से बहुत प्रभावित हैं। उन्होंने बताया मेरा भाजपा में शामिल होने की एक मात्र वजह है, कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटना। इसलिए मेरी अंतर आत्मा से आवाज आई और में भाजपा में शामिल हो गई। आज केंद्र सरकार द्ववारा देश हित में कई फैसले लिए जा रहे हैं। ऐसे में लोगों को आगे आकर सरकार का समर्थन  करना चाहिए।

बबीता फोगाट ने मीडिया से बात करते हुए कहा- कि वह मोदी सरकार के काम काज से बहुत प्रभावित हैं। उन्होंने बताया मेरा भाजपा में शामिल होने की एक मात्र वजह है, कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटना। इसलिए मेरी अंतर आत्मा से आवाज आई और में भाजपा में शामिल हो गई। आज केंद्र सरकार द्ववारा देश हित में कई फैसले लिए जा रहे हैं। ऐसे में लोगों को आगे आकर सरकार का समर्थन करना चाहिए।

जब पत्रकारों ने उनसे पूछा- क्या वह आगामी हरियाणा विधासभा चुनाव लडेंगी तो वह बोली-उनके लिए सबसे पहले हमेशा से राष्ट्रहित सर्वोपरि रहे और रहेंगे। खेल हो या राजनीति वह सभी जगह देश को पहले स्थान पर रखती हैं।जानकारी के मुताबिक, बबीता हरियाणा की बाढड़ा या चरखी दादरी सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं।

जब पत्रकारों ने उनसे पूछा- क्या वह आगामी हरियाणा विधासभा चुनाव लडेंगी तो वह बोली-उनके लिए सबसे पहले हमेशा से राष्ट्रहित सर्वोपरि रहे और रहेंगे। खेल हो या राजनीति वह सभी जगह देश को पहले स्थान पर रखती हैं।जानकारी के मुताबिक, बबीता हरियाणा की बाढड़ा या चरखी दादरी सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं।

बीता फोगाट ने 2018 में ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल जीता था। उनके पिता और कोच महावीर फोगाट को द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है। बता दें कि बबीता को राज्य सरकार ने 2013 में उनके शानदार खेल की वजह से इंस्पेक्टर बनाया था

बीता फोगाट ने 2018 में ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल जीता था। उनके पिता और कोच महावीर फोगाट को द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है। बता दें कि बबीता को राज्य सरकार ने 2013 में उनके शानदार खेल की वजह से इंस्पेक्टर बनाया था

जाकारी के मुताबिक बबीता ने 12 अगस्त को उनके पिता महावीर फोगाट और केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू की मौजूदगी में भाजपा को ज्वाइन कर लिया था। उसके अगले दिन उन्होंने 13 अगस्त को हरियाणा पुलिस के अधिकारियों को अपन त्याग पत्र दे दिया था।

जाकारी के मुताबिक बबीता ने 12 अगस्त को उनके पिता महावीर फोगाट और केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू की मौजूदगी में भाजपा को ज्वाइन कर लिया था। उसके अगले दिन उन्होंने 13 अगस्त को हरियाणा पुलिस के अधिकारियों को अपन त्याग पत्र दे दिया था।

loader