Asianet News Hindi

बेटे ने मां-बाप की नींद में काट दी गर्दन, लॉकडाउन में विदेश से परिवार के पास वक्त बिताने आया था पिता

First Published Oct 30, 2020, 9:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


नंवाशहर (पंजाब). माता-पिता संतान की खुशहाल जिंदगी के लिए अपना पूरा जीवन लगा देते हैं। वह खुद दुख में रहकर बच्चों को खुशी देना चाहते हैं। लेकिन पंजाब में ऐसा रूह कंपा देने वाला एक मामला सामने आया है, जहां एक कलयुगी बेटे ने धारदार हथियार से अपने मां-बाप की हत्या कर दी। इस घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है। 

दरअसल, यह दिल दहला देने वाली वारदात नवांशहर जिले के बलाचौर के गांव बुर्ज चक्  में गुरुवार देर रात सामने आई, जिसका खुलासा शुक्रवार सुबह हुआ। यहां बेटे हरदीप ने रात को सोते में पिता जोगिन्द्र पाल उर्फ किंग और मां परमजीत कौर को दरांत से काट डाला और फरार हो गया। सुबह जब पड़ोस में रहने वाले लोगों को इस घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने पुलिस को सूचित कर मौके पर बुलाया। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के बाद आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।
 

दरअसल, यह दिल दहला देने वाली वारदात नवांशहर जिले के बलाचौर के गांव बुर्ज चक्  में गुरुवार देर रात सामने आई, जिसका खुलासा शुक्रवार सुबह हुआ। यहां बेटे हरदीप ने रात को सोते में पिता जोगिन्द्र पाल उर्फ किंग और मां परमजीत कौर को दरांत से काट डाला और फरार हो गया। सुबह जब पड़ोस में रहने वाले लोगों को इस घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने पुलिस को सूचित कर मौके पर बुलाया। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के बाद आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।
 


पुलिस जांच में सामने आया है कि इस घटना को बेटे ने शराब के नशे में अंजाम दिया है। पता चला है कि आरोपी आए दिन माता-पिता से नशे के लिए रुपयों की मांग करता था। बताया जाता है कि गुरुवार शाम को भी उसने शराब के लिए माता-पिता से पैसे मांगे थे, जब उन्होंने नहीं दिए तो वह गुस्सा होकर चला गया और रात को लौटकर उनको मार डाला।


पुलिस जांच में सामने आया है कि इस घटना को बेटे ने शराब के नशे में अंजाम दिया है। पता चला है कि आरोपी आए दिन माता-पिता से नशे के लिए रुपयों की मांग करता था। बताया जाता है कि गुरुवार शाम को भी उसने शराब के लिए माता-पिता से पैसे मांगे थे, जब उन्होंने नहीं दिए तो वह गुस्सा होकर चला गया और रात को लौटकर उनको मार डाला।


बता दें कि मृतक पिता जोगिन्द्र पाल उर्फ किंग लेबनान यानि विदेश में रहता था। लेकिन लॉकडाउन दौरान ही वह अपने परिवार के पास समय देने के लिए घर आया था। उसने क्या सोचा था कि जिस बेटे को लिए वह सात संमदर पार करके आया है वही उसको मार डालेगा। बताया जा रहा है कि 25 वर्षीय आरोपी हरदीप नशा छुड़ाओ केंद्र में भी रहकर आया है। फिर भी उसकी नशा की लत नहीं गई।


बता दें कि मृतक पिता जोगिन्द्र पाल उर्फ किंग लेबनान यानि विदेश में रहता था। लेकिन लॉकडाउन दौरान ही वह अपने परिवार के पास समय देने के लिए घर आया था। उसने क्या सोचा था कि जिस बेटे को लिए वह सात संमदर पार करके आया है वही उसको मार डालेगा। बताया जा रहा है कि 25 वर्षीय आरोपी हरदीप नशा छुड़ाओ केंद्र में भी रहकर आया है। फिर भी उसकी नशा की लत नहीं गई।


जांच में सामने आया है कि मृतक जोगिन्द्र पाल उर्फ किंग ने  दूसरी शादी की हुई थी। इस वजह से आरोपी बेटा अपनी सौतेली मां को पसंद नहीं करता था और पिता से भी नाराज रहता था। इसलिए वह नशा करने लगा और नशे के लिए रुपयों की मांग करता था। जब उसे कोई रुपया नहीं देता तो आए दिन झगड़ा करने लगता था।


जांच में सामने आया है कि मृतक जोगिन्द्र पाल उर्फ किंग ने  दूसरी शादी की हुई थी। इस वजह से आरोपी बेटा अपनी सौतेली मां को पसंद नहीं करता था और पिता से भी नाराज रहता था। इसलिए वह नशा करने लगा और नशे के लिए रुपयों की मांग करता था। जब उसे कोई रुपया नहीं देता तो आए दिन झगड़ा करने लगता था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios