Asianet News Hindi

एक टेंशन जीने नहीं दे रही थी! खत्म कर लिया पूरा परिवार, खूबसूरत बीवी के बाद बेटे के सीने में मारी गोली

First Published Feb 2, 2021, 12:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अमृतसर (पंजाब). आज कल इंसान जरा-जरा सी बातों पर दुखी होकर अपनी जिंदगी समाप्त कर लेता है। ऐसा ही एक दिल दहला देने वाला मामला पंजाब के अमृतसर से सामने आया है, जहां एक फाइनेंसर ने अपनी पत्नी और 4 वर्षीय की बच्चे को गोली मारने के बाद खुद ने भी आत्महत्या कर ली। जब गोलियों की आवाज सुनकर पड़ोसी मौके पर पहुंचे तो पूरा परिवार खून से लथपथ हालत में बेडरूम में पड़ा था। साथ ही कमरे में चारों तरफ दीवार तक पर खून ही खून बिखरा था। देर रात हुई इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई।


दरअसल, यह खौफनाक वारदात अमृतसर जिले के गुरु तेग बहादुर नगर में सोमवार देर रात सामने आई है। जहां विक्रमजीत सिंह नाम के युवक और  पत्नी यादकिरणदीप कौर के साथ चार साल की बच्ची वर्षिता के शव पुलिस ने बरादम किए हैं। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। मृतक ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसे पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया। लेकिन अभी तक इस मामले में कुछ बताया नहीं है। 


दरअसल, यह खौफनाक वारदात अमृतसर जिले के गुरु तेग बहादुर नगर में सोमवार देर रात सामने आई है। जहां विक्रमजीत सिंह नाम के युवक और  पत्नी यादकिरणदीप कौर के साथ चार साल की बच्ची वर्षिता के शव पुलिस ने बरादम किए हैं। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। मृतक ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसे पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया। लेकिन अभी तक इस मामले में कुछ बताया नहीं है। 

आसपास के लोगों के मुताबिक बताया जा रहा कि विक्रमजीत सिंह पर कर्जा हो गया था, जिसे वो चुका नहीं पा रहा था। जिसको लेकर वह अक्सर चिंतित रहता था। इसी मामले पर कई बार पति-पत्नी के बीच झगड़ा भी होता था। बस इसी टेंशन के चलते उसने अपना पूरा परिवार खत्म कर दिया।

आसपास के लोगों के मुताबिक बताया जा रहा कि विक्रमजीत सिंह पर कर्जा हो गया था, जिसे वो चुका नहीं पा रहा था। जिसको लेकर वह अक्सर चिंतित रहता था। इसी मामले पर कई बार पति-पत्नी के बीच झगड़ा भी होता था। बस इसी टेंशन के चलते उसने अपना पूरा परिवार खत्म कर दिया।


बता दें कि विक्रमजीत सिंह मकबूलपुरा का रहने वाला था और वो फाइनेंसर का काम करता था। पुलिस के मुताबिक, वो पिछले कुछ समय से अपने घरेलू झगड़े के कारण परेशान चल रहा था। इसी के चलते उसने सोमवार रात 10 बजे सबसे पहले अपनी पत्नी को गोली मारी। फिर अपने 4 वर्षीय बच्ची को गोलियां चलाकर मार डाला। अंत में खुद को भी उसी पिस्तौल से गोलीमार कर आत्महत्या कर ली। 


बता दें कि विक्रमजीत सिंह मकबूलपुरा का रहने वाला था और वो फाइनेंसर का काम करता था। पुलिस के मुताबिक, वो पिछले कुछ समय से अपने घरेलू झगड़े के कारण परेशान चल रहा था। इसी के चलते उसने सोमवार रात 10 बजे सबसे पहले अपनी पत्नी को गोली मारी। फिर अपने 4 वर्षीय बच्ची को गोलियां चलाकर मार डाला। अंत में खुद को भी उसी पिस्तौल से गोलीमार कर आत्महत्या कर ली। 


पुलिस जांच में पता चला है कि विक्रमजीत सिंह वारदात को अंजाम देने के लिए अपने किसी पड़ोसी के घर से पिस्तौल लेकर आया था। इससे लगता है कि उसने अपने परिवार को खत्म करने की पहले से प्लानिंग कर ली थी। लगातार गोलियों  की आवाज सुनकर आसपास के लोग उसके घर की ओर भागे और किसी तरह दरवाजा तोड़कर घर के अंदर घुसे। घर के अंदर चारों तरफ खून बिखरा पड़ा था और सभी लोग तड़प रहे थे। अस्पताल ले जाने से पहले ही तीनों ने दम तोड़ दिया।


पुलिस जांच में पता चला है कि विक्रमजीत सिंह वारदात को अंजाम देने के लिए अपने किसी पड़ोसी के घर से पिस्तौल लेकर आया था। इससे लगता है कि उसने अपने परिवार को खत्म करने की पहले से प्लानिंग कर ली थी। लगातार गोलियों  की आवाज सुनकर आसपास के लोग उसके घर की ओर भागे और किसी तरह दरवाजा तोड़कर घर के अंदर घुसे। घर के अंदर चारों तरफ खून बिखरा पड़ा था और सभी लोग तड़प रहे थे। अस्पताल ले जाने से पहले ही तीनों ने दम तोड़ दिया।


पड़ोसियों ने बताया कि विक्रमजीत सिंह अपने पत्नी और बेटे से बहुत प्यार करता था। अक्सर वह लोग बाहर घूमने भी जाया करते थे। लेकिन आए दिन पति-पत्नी के बीच आपसी झगड़े भी होते रहते थे। लॉकडाउन के बाद से उसका फाइनेंस का काम भी मद्दा हो गया था। जिसके चलते भी कपल की बीच विवाद होता था। लेकिन जरा सी बात में विक्रमजीत अपने बसे बसाए परिवार का ऐसा  कर जाएगा यह नहीं सोचा था।


पड़ोसियों ने बताया कि विक्रमजीत सिंह अपने पत्नी और बेटे से बहुत प्यार करता था। अक्सर वह लोग बाहर घूमने भी जाया करते थे। लेकिन आए दिन पति-पत्नी के बीच आपसी झगड़े भी होते रहते थे। लॉकडाउन के बाद से उसका फाइनेंस का काम भी मद्दा हो गया था। जिसके चलते भी कपल की बीच विवाद होता था। लेकिन जरा सी बात में विक्रमजीत अपने बसे बसाए परिवार का ऐसा  कर जाएगा यह नहीं सोचा था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios