Asianet News Hindi

इस महिला को हुआ पाकिस्तान के लड़के से प्यार, छोड़ दिया घर-परिवार..बॉर्डर पार तक करने लगी

First Published Apr 8, 2021, 2:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पंजाब।  भारत की एक महिला को सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी लड़के से इस कदर प्यार हो गया कि वो अपना घर-बार सब छोड़ दी। पाकिस्तान जाने के लिए पंजाब के डेरा बाबा नानक स्थित करतापुर कॉरिडोर पर पहुंच गई। लेकिन, बॉर्डर पर जवानों ने उसे पकड़ लिया, जिसके बाद पूरी लव स्टोरी सामने आ गई, जिसके बारे में हम आपको बता रहे हैं।
 

ओडिशा महिला की उम्र 25 साल है। छह साल पहले इसकी शादी हुई थी। इसकी एक पांच साल की बेटी भी है। यह लड़की पिछले दो महीनों अपने मायके में रह रही थी। पुलिस ने बताया कि करीब दो साल पहले महिला ने अपने मोबाइल पर आजाद नाम का एक एप डाउनलोड किया फिर एक लड़के से चैट करनी शुरू कर दी।
 

ओडिशा महिला की उम्र 25 साल है। छह साल पहले इसकी शादी हुई थी। इसकी एक पांच साल की बेटी भी है। यह लड़की पिछले दो महीनों अपने मायके में रह रही थी। पुलिस ने बताया कि करीब दो साल पहले महिला ने अपने मोबाइल पर आजाद नाम का एक एप डाउनलोड किया फिर एक लड़के से चैट करनी शुरू कर दी।
 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एप पर बातचीत के दौरान मोहम्मद मान नाम के एक लड़के से उसकी दोस्ती हो गई। दोनों ने एक दूसरे को अपने वाट्सऐप नंबर दे दिए फिर वाट्सऐप पर बात होनी शुरू हो गई। फिर लड़के ने उसे करतापुर साहब कॉरिडोर के रास्ते पाकिस्तान आने लिए कहा, जिस पर वो राजी हो गई।
 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एप पर बातचीत के दौरान मोहम्मद मान नाम के एक लड़के से उसकी दोस्ती हो गई। दोनों ने एक दूसरे को अपने वाट्सऐप नंबर दे दिए फिर वाट्सऐप पर बात होनी शुरू हो गई। फिर लड़के ने उसे करतापुर साहब कॉरिडोर के रास्ते पाकिस्तान आने लिए कहा, जिस पर वो राजी हो गई।
 

पुलिस के मुताबिक महिला ओडिशा स्थित अपने मायके से हवाई जहाज से दिल्ली आई फिर बस से अमृतसर पहुंची और पांच अप्रैल को वो गुरुद्वारा श्री हरिमंदर सहाब अमृतसर में रही।

पुलिस के मुताबिक महिला ओडिशा स्थित अपने मायके से हवाई जहाज से दिल्ली आई फिर बस से अमृतसर पहुंची और पांच अप्रैल को वो गुरुद्वारा श्री हरिमंदर सहाब अमृतसर में रही।

6 अप्रैल को बस से डेरा बाबा नानक पहुंची। ऑटो से डेरा बाबा नानक में पहुंची। जहां पर बीएसएफ ने उसे यह कहकर वापस भेज दिया कि कोरोना की वजह से करतारपुर कॉरिडोर बंद है और बिना पासपोर्ट के पाकिस्तान जाना संभव नहीं है।  

6 अप्रैल को बस से डेरा बाबा नानक पहुंची। ऑटो से डेरा बाबा नानक में पहुंची। जहां पर बीएसएफ ने उसे यह कहकर वापस भेज दिया कि कोरोना की वजह से करतारपुर कॉरिडोर बंद है और बिना पासपोर्ट के पाकिस्तान जाना संभव नहीं है।  

बीएसएफ ने लड़की को डेरा बाबा नानक पुलिस को सौंप दिया। वहीं, पूछताछ में पता चला कि लड़की अपने साथ 60 ग्राम सोने के जेवरात अपने घर से पाकिस्तान ले जाने के लिए लेकर अपने साथ लाई है। 

बीएसएफ ने लड़की को डेरा बाबा नानक पुलिस को सौंप दिया। वहीं, पूछताछ में पता चला कि लड़की अपने साथ 60 ग्राम सोने के जेवरात अपने घर से पाकिस्तान ले जाने के लिए लेकर अपने साथ लाई है। 

पंजाब पुलिस की तरफ से ओडिशा में संबंधित थाने के साथ संपर्क किया गया और पता लगा कि उसके पति की तरफ से गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने लड़की के घरवालों को बुलाया और जेवरात के साथ लड़की को सही सलामत उसके परिजनों को सौंप दिया गया।

पंजाब पुलिस की तरफ से ओडिशा में संबंधित थाने के साथ संपर्क किया गया और पता लगा कि उसके पति की तरफ से गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने लड़की के घरवालों को बुलाया और जेवरात के साथ लड़की को सही सलामत उसके परिजनों को सौंप दिया गया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios