Asianet News Hindi

खेल-खेल में बेटी के ऊपर कूद गया भारी-भरकम पिता, फिर जो हुआ वो कभी नहीं भूल पाएगा परिवार

First Published Jun 10, 2021, 11:27 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ट्रेंडिंग डेस्क : बचपन में खेलते समय कई बार बच्चे बच्चे छोटे-मोटे हादसों का शिकार हो जाते हैं। लेकिन न्यूजीलैंड में पिता की गलती की वजह से हुआ एक हादसा बच्ची की जान का सबब बन जाएगा यह किसी ने नहीं सोचा था। जी हां, न्यूजीलैंड (Newzealand) के रहने वाले रोबोट फोले (Robert Foley) जब अपनी 3 साल की बेटी के साथ पार्क में खेले गए तो, खेलते खेलते एक झूले के ऊपर से कूदना उन्हें भारी पड़ गया, क्योंकि वह कूदने के बाद अपना वजन कंट्रोल नहीं कर पाए और जाकर बेटी के ऊपर गिर गए। आनन-फानन में बेटी को उठाकर वह अस्पताल की तरफ भागे तो लेकिन तब तक बेटी का दम टूट चुका था इस घटना के बाद से वह पूरी तरह टूट चुके हैं। आइए आपको बताते हैं, कि उस दिन ऐसा क्या हुआ...

3 साल की बच्ची की मौत
ये थी 3 साल की एम्बरली पेनिंगटन फोले (Amberlie Pennington Foley) , जिसकी मौत उसके पिता के खेल के मैदान में उसके ऊपर गिरने से हो गई थी। वह और उसके पिता खेल के मैदान के एक झूले पर खेल रहे थे जिसे सुपरनोवा रिंग कहा जाता है जब ये हादसा हुआ।

3 साल की बच्ची की मौत
ये थी 3 साल की एम्बरली पेनिंगटन फोले (Amberlie Pennington Foley) , जिसकी मौत उसके पिता के खेल के मैदान में उसके ऊपर गिरने से हो गई थी। वह और उसके पिता खेल के मैदान के एक झूले पर खेल रहे थे जिसे सुपरनोवा रिंग कहा जाता है जब ये हादसा हुआ।

ऐसे हुआ हादसा
बताया जा रहा है, कि जिस समय ये हादसा हुआ एम्बरली सुपरनोवा रिंग के सबसे ऊंचे हिस्से पर बैठी थी और उसके पिता पहिए पर खड़े थे। उन्होंने उसे दाईं ओर और फिर बाईं ओर ले जाकर अपनी ओर और फिर वापस दूसरी तरफ घुमाया। लेकिन फोले ने पहिए पर से अपना संतुलन खो दिया और जैसे ही उन्होंने पहिया से कूदने की कोशिश की, वह घूम गया जिससे वह गिर गए, और जब वह उठे तो उनका पूरा वजन उनकी बेटी पर था। 

ऐसे हुआ हादसा
बताया जा रहा है, कि जिस समय ये हादसा हुआ एम्बरली सुपरनोवा रिंग के सबसे ऊंचे हिस्से पर बैठी थी और उसके पिता पहिए पर खड़े थे। उन्होंने उसे दाईं ओर और फिर बाईं ओर ले जाकर अपनी ओर और फिर वापस दूसरी तरफ घुमाया। लेकिन फोले ने पहिए पर से अपना संतुलन खो दिया और जैसे ही उन्होंने पहिया से कूदने की कोशिश की, वह घूम गया जिससे वह गिर गए, और जब वह उठे तो उनका पूरा वजन उनकी बेटी पर था। 

बेटी को देखा तो उड़ गए होश
आनन-फानन में फोले उठे और खून से लथपथ अपनी बेटी को गोद में उठाकर पास के अस्पताल लेकर गए। जहां पता चला कि उनकी बेटी के सिर और गर्दन में गंभीर चोटें आई है। वहीं, दिमाग और रीढ़ की हड्डी में भी चोट लगी थी। डॉक्टर्स ने उसे बचाने की कोशिश की, लेकिन एम्बरली की मौत हो गई।

बेटी को देखा तो उड़ गए होश
आनन-फानन में फोले उठे और खून से लथपथ अपनी बेटी को गोद में उठाकर पास के अस्पताल लेकर गए। जहां पता चला कि उनकी बेटी के सिर और गर्दन में गंभीर चोटें आई है। वहीं, दिमाग और रीढ़ की हड्डी में भी चोट लगी थी। डॉक्टर्स ने उसे बचाने की कोशिश की, लेकिन एम्बरली की मौत हो गई।

बेटी की मौत से टूटा पूरा परिवार
एम्बरली की मौत के दो महीने बाद, फोले ने कहा कि 'हर दिन बहुत बुरा महसूस होता है, कि मेरी वजह से बेटी की जान चली गई।' वह कहते हैं, कि 'वह मेरी सबसे अच्छी दोस्त थी, मेरी आत्मा थी। मैं भाग्यशाली हूं कि मैं उसका पिता हूं, और वह मेरी बेटी थी।'

बेटी की मौत से टूटा पूरा परिवार
एम्बरली की मौत के दो महीने बाद, फोले ने कहा कि 'हर दिन बहुत बुरा महसूस होता है, कि मेरी वजह से बेटी की जान चली गई।' वह कहते हैं, कि 'वह मेरी सबसे अच्छी दोस्त थी, मेरी आत्मा थी। मैं भाग्यशाली हूं कि मैं उसका पिता हूं, और वह मेरी बेटी थी।'

मां के कही ये बात
एम्बरली की मां एम्मा पेनिंगटन फोले ने बताया कि "पूरा अपर हट समुदाय हमारे साथ हमारे बच्चे के खोने का शोक मना रहा था। एम्बरली ने हमारे पहले से ही मजबूत समुदाय को एक साथ लाया है। उसने वास्तव में बहुतों के जीवन को छुआ है।

मां के कही ये बात
एम्बरली की मां एम्मा पेनिंगटन फोले ने बताया कि "पूरा अपर हट समुदाय हमारे साथ हमारे बच्चे के खोने का शोक मना रहा था। एम्बरली ने हमारे पहले से ही मजबूत समुदाय को एक साथ लाया है। उसने वास्तव में बहुतों के जीवन को छुआ है।

ये है एम्बरली का परिवार
एम्बरली के परिवार में मां-बाप के अलावा उनका एक छोटे भाई भी है, जो अपनी बहन से बहुत क्लोज था। इस तस्वीर में देखिए फोले की हैप्पी फैमिली, जो एम्बरली की मौत के बाद हैप्पी नहीं रही।

ये है एम्बरली का परिवार
एम्बरली के परिवार में मां-बाप के अलावा उनका एक छोटे भाई भी है, जो अपनी बहन से बहुत क्लोज था। इस तस्वीर में देखिए फोले की हैप्पी फैमिली, जो एम्बरली की मौत के बाद हैप्पी नहीं रही।

पुलिस ने माना हादसा
एम्बरली की मौत के बाद पुलिस की जांच पड़ताल में पाया गया कि ये कोई आपराध नहीं था बल्कि एक दुर्घटना थी। कोरोनर ने 3 साल की बच्ची की मौत को एक 'दुखद दुर्घटना' कहा है, जिसकी मौत उसके पिता के खेल के मैदान में उसके ऊपर गिरने से हो गई थी।

पुलिस ने माना हादसा
एम्बरली की मौत के बाद पुलिस की जांच पड़ताल में पाया गया कि ये कोई आपराध नहीं था बल्कि एक दुर्घटना थी। कोरोनर ने 3 साल की बच्ची की मौत को एक 'दुखद दुर्घटना' कहा है, जिसकी मौत उसके पिता के खेल के मैदान में उसके ऊपर गिरने से हो गई थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios