Asianet News Hindi

कोरोना से बचने का सबसे असरदार तरीका है डबल मास्किंग, जानें कैसे मास्क लगाकर ज्यादा सेफ रह सकते हैं

First Published Apr 26, 2021, 3:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भारत में कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। मास्क लगाकर कोरोना से बचने के उपाय बताए जा रहे हैं। इस बीच अमेरिकी सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) ने बताया है कि डबल मास्क से कोरोना के एक्सपोजर को बहुत हद तक कम किया जा सकता है। यह एक कपड़े के मास्क की तुलना में अधिक कणों को फिल्टर कर सकता है। एक स्टडी में कहा गया है कि डबल मास्किंग (सर्जिकल मास्क और कपड़े के मास्क के साथ) कोरोना के जोखिम को कम करने में काफी मददगार साबित हो सकते हैं। 

मास्क लगाने के दो तरीके
1. सर्जिकल मास्क को इस तरह से गांठ लगाए की उसके दोनों कोनें सील हो जाए। कोशिश करें की ये मुंह से बिलकुल पास हो।
2- डबल मास्क लगाने का सही तरीका
 

मास्क लगाने के दो तरीके
1. सर्जिकल मास्क को इस तरह से गांठ लगाए की उसके दोनों कोनें सील हो जाए। कोशिश करें की ये मुंह से बिलकुल पास हो।
2- डबल मास्क लगाने का सही तरीका
 

- सर्जिकल को सर्जिकल मास्क के साथ न लगाएं। 
- दो कपड़ों के मास्क को एक साथ न लगाएं।
- N95 के साथ किसी अन्य मास्क को न लगाएं।
 

- सर्जिकल को सर्जिकल मास्क के साथ न लगाएं। 
- दो कपड़ों के मास्क को एक साथ न लगाएं।
- N95 के साथ किसी अन्य मास्क को न लगाएं।
 

- मास्क में गांठ लगाने का तरीका

- बिना गांठ लगाए सर्जिकल मास्क 56.1% फिल्टर करता है।

- गांठ लगाकार पहना गया मास्क 77% तक सुरक्षा देता है।

- कपड़े का मास्क 51.4% तक सुरक्षा देता है।

- डबल मास्क 85.4% सुरक्षा देता है।
 

- मास्क में गांठ लगाने का तरीका

- बिना गांठ लगाए सर्जिकल मास्क 56.1% फिल्टर करता है।

- गांठ लगाकार पहना गया मास्क 77% तक सुरक्षा देता है।

- कपड़े का मास्क 51.4% तक सुरक्षा देता है।

- डबल मास्क 85.4% सुरक्षा देता है।
 

दो मास्क पहनने से सांस लेने में थोड़ी दिक्कत आ सकती है। लेकिन सर्जिकल मास्क को कपड़े के साथ पेयर करके पहनने से ऑक्सीजन सप्लाई सही तरीके से मिलती है।

दो मास्क पहनने से सांस लेने में थोड़ी दिक्कत आ सकती है। लेकिन सर्जिकल मास्क को कपड़े के साथ पेयर करके पहनने से ऑक्सीजन सप्लाई सही तरीके से मिलती है।

N95 सबसे अच्छा मास्क होता है। ये चेहरे को पूरी तरह कवर कर लेता है। 95% कणों को फिल्टर कर सकता है। इसलिए इस मास्क को बिना डबल किए पहन सकते हैं।

N95 सबसे अच्छा मास्क होता है। ये चेहरे को पूरी तरह कवर कर लेता है। 95% कणों को फिल्टर कर सकता है। इसलिए इस मास्क को बिना डबल किए पहन सकते हैं।

N 95 मास्क लगाते वक्त सावधानी रखनी चाहिए कि वॉल्व वाले मास्क नहीं लगाना चाहिए। 

N 95 मास्क लगाते वक्त सावधानी रखनी चाहिए कि वॉल्व वाले मास्क नहीं लगाना चाहिए। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios