Asianet News Hindi

कार गिरवी रखी तब परिजनों को मिली डेड बॉडी, चौंकाने वाली है कोरोना काल की ये कहानी

First Published Apr 15, 2021, 11:54 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोरोना महामारी के बीच कई खबरें आईं, जिससे पता चला कि लोग दूसरों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं। लेकिन कुछ खबरों ने परेशान भी किया। ऐसी ही एक खबर गुजरात के वलसाड़ जिले से आई है, जहां हॉस्पिटल का बिल नहीं दे पाने पर मरीज की कार ही रखवा ली।

सबसे पहले बात कोरोना के हालात की
केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की एक रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, गुजरात और राजस्थान में COVID19 के नए मामलों में बढ़ोतरी हुई है। कोरोना वायरस के 82.04% नए मामले इन 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से हैं।

सबसे पहले बात कोरोना के हालात की
केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की एक रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, गुजरात और राजस्थान में COVID19 के नए मामलों में बढ़ोतरी हुई है। कोरोना वायरस के 82.04% नए मामले इन 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से हैं।

पूरा बिल दें, तब ही डेड बॉडी मिलेगी
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मरीज के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि एक प्राइवेट हॉस्पिटल के डॉक्टर ने रिश्तेदारों से कहा कि पहले पूरा बिल भरिए तब ही मरीज का शव दिया जाएगा। 

पूरा बिल दें, तब ही डेड बॉडी मिलेगी
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मरीज के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि एक प्राइवेट हॉस्पिटल के डॉक्टर ने रिश्तेदारों से कहा कि पहले पूरा बिल भरिए तब ही मरीज का शव दिया जाएगा। 

कोविड के मरीज की इलाज के दौरान मौत
दरअसल, वापी के हॉस्पिटल 21 सेंचुरी का मामला है। कोरोना के लक्षण दिखने पर मरीज को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। मंगलवार को इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। 

कोविड के मरीज की इलाज के दौरान मौत
दरअसल, वापी के हॉस्पिटल 21 सेंचुरी का मामला है। कोरोना के लक्षण दिखने पर मरीज को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। मंगलवार को इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। 

अंतिम संस्कार के लिए बॉडी देने से मना कर दिया
मरीज की मौत के बाद जब परिजन शव लेने पहुंचे तो हॉस्पिटल ने साफ मना कर दिया। आरोप है कि उन्होंने कहा कि पहले हॉस्पिटल का पूरा पैसा जमा करें। परिवार के पास उस वक्त पैसे नहीं थे। जो कुछ थे सब दे दिया था। 

अंतिम संस्कार के लिए बॉडी देने से मना कर दिया
मरीज की मौत के बाद जब परिजन शव लेने पहुंचे तो हॉस्पिटल ने साफ मना कर दिया। आरोप है कि उन्होंने कहा कि पहले हॉस्पिटल का पूरा पैसा जमा करें। परिवार के पास उस वक्त पैसे नहीं थे। जो कुछ थे सब दे दिया था। 

हॉस्पिटल पर कार गिरवी रखवाने का आरोप
हॉस्पिटल के लोगों पर डेड बॉडी देने के लिए हामी तो भर दी, लेकिन एक शर्त रख दी। उन्होंने कहा कि जब तक पैसे नहीं देते, तब तक मरीज के परिजनों की कार गिरवी रहेगी। इसके बाद ही डेड बॉडी सौंपी गई। 

हॉस्पिटल पर कार गिरवी रखवाने का आरोप
हॉस्पिटल के लोगों पर डेड बॉडी देने के लिए हामी तो भर दी, लेकिन एक शर्त रख दी। उन्होंने कहा कि जब तक पैसे नहीं देते, तब तक मरीज के परिजनों की कार गिरवी रहेगी। इसके बाद ही डेड बॉडी सौंपी गई। 

परिजन शिकायत लेकर थाने पहुंच गए
इसके बाद परिजन शिकायत लेकर पुलिस थाने पहुंच गए। पुलिस हॉस्पिटल पहुंची और दबाव डालकर कार और डेड बॉडी दिलवाई। हॉस्पिटल के तरफ से कहा गया कि मरीज के कहने पर पहले से ही बिल में काफी कुछ कम कर दिया गया था, लेकिन परिजन बिल नहीं चुकाना चाहते थे। 

परिजन शिकायत लेकर थाने पहुंच गए
इसके बाद परिजन शिकायत लेकर पुलिस थाने पहुंच गए। पुलिस हॉस्पिटल पहुंची और दबाव डालकर कार और डेड बॉडी दिलवाई। हॉस्पिटल के तरफ से कहा गया कि मरीज के कहने पर पहले से ही बिल में काफी कुछ कम कर दिया गया था, लेकिन परिजन बिल नहीं चुकाना चाहते थे। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios