Asianet News Hindi

शहीद की पत्नी ने मल्टीनेशनल कंपनी छोड़ ज्वॉइन की आर्मी, इंटरव्यू में शादी से जुड़ा पूछा गया था ये सवाल

First Published May 29, 2021, 1:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पुलवामा में शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की पत्नी भारतीय सेना में शामिल हुईं। आर्मी में शामिल होकर पत्नी निकिता कौल ने अपने पति को श्रद्धांजलि दी। पति मेजर विभूति शंकर ने फरवरी 2019 में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में अपनी जान गंवा दी थी। 

कौन हैं नितिका कौल ढौंडियाल?
शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की पत्नी लेफ्टिनेंट नितिका ढौंडियाल हैं। उनकी शादी को 9 महीने ही हुए थे जब उन्होंने अपने पति को खो दिया। साल 2018 के अप्रैल महीने में दोनों की शादी हुई थी। 17 फरवरी 2019 को आतंकी हमला हुआ, जिसमें मेजर विभूति शंकर शहीद हो गए। 

कौन हैं नितिका कौल ढौंडियाल?
शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की पत्नी लेफ्टिनेंट नितिका ढौंडियाल हैं। उनकी शादी को 9 महीने ही हुए थे जब उन्होंने अपने पति को खो दिया। साल 2018 के अप्रैल महीने में दोनों की शादी हुई थी। 17 फरवरी 2019 को आतंकी हमला हुआ, जिसमें मेजर विभूति शंकर शहीद हो गए। 

अपने पति को खोने के बाद नितिका ने भारतीय सेना में शामिल होने का फैसला किया। साल 2020 में उन्होंने एसएससी और एसएसबी पास किया।

अपने पति को खोने के बाद नितिका ने भारतीय सेना में शामिल होने का फैसला किया। साल 2020 में उन्होंने एसएससी और एसएसबी पास किया।

एग्जाम देने के बाद कैसा महसूस किया?
नितिका ने कहा, जब मैंने परीक्षा पास किया और इंटरव्यू दिया तो मैंने महसूस किया कि मेरे पति को कैसा महसूस हुआ होगा। मैंने उनके साथ और साहस को देखा था, जिससे मुझे ताकत मिली। एग्जाम पास करने के बाद चेन्नई में ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी (OTA) में ट्रेनिंग पूरी की। 

एग्जाम देने के बाद कैसा महसूस किया?
नितिका ने कहा, जब मैंने परीक्षा पास किया और इंटरव्यू दिया तो मैंने महसूस किया कि मेरे पति को कैसा महसूस हुआ होगा। मैंने उनके साथ और साहस को देखा था, जिससे मुझे ताकत मिली। एग्जाम पास करने के बाद चेन्नई में ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी (OTA) में ट्रेनिंग पूरी की। 

'मैं ऐसी अधिकारी बनना चाहती हूं कि लोगों को गर्व हो'
एक इंटरव्यू में नितिका ने कहा, मैंने क्वालीफाई करने के लिए बहुत मेहनत की। मैं एक ऐसी अधिकारी बनना चाहती हूं जिस पर सभी को गर्व हो, विभु को गर्व हो। 

'मैं ऐसी अधिकारी बनना चाहती हूं कि लोगों को गर्व हो'
एक इंटरव्यू में नितिका ने कहा, मैंने क्वालीफाई करने के लिए बहुत मेहनत की। मैं एक ऐसी अधिकारी बनना चाहती हूं जिस पर सभी को गर्व हो, विभु को गर्व हो। 

मल्टीनेशनल कंपनी की नौकरी छोड़ सेना में हुईं शामिल
नितिका ने सेना में शामिल होने के लिए मल्टीनेशनल कंपनी में एक अच्छी नौकरी छोड़ दी। पति की शहादत के बाद उन्होंने तय कर लिया था कि सेना में ही जाना है। 

मल्टीनेशनल कंपनी की नौकरी छोड़ सेना में हुईं शामिल
नितिका ने सेना में शामिल होने के लिए मल्टीनेशनल कंपनी में एक अच्छी नौकरी छोड़ दी। पति की शहादत के बाद उन्होंने तय कर लिया था कि सेना में ही जाना है। 

शादी के 9 महीने, फिर क्यों कहा कि 2 साल हुए
नितिका ने एक इंटरव्यू में बताया था कि इंटरव्यू बोर्ड ने मुझसे पूछा कि मेरी शादी को कितने साल हुए? मैंने कहा, 'दो साल'। उन्होंने कहा, 'लेकिन हमने सुना है कि आप दोनों की शादी को 9 महीने हो चुके थे। मैंने कहा, विभु यहां शारीरिक रूप से नहीं हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हमारी शादी खत्म हो गई है।

शादी के 9 महीने, फिर क्यों कहा कि 2 साल हुए
नितिका ने एक इंटरव्यू में बताया था कि इंटरव्यू बोर्ड ने मुझसे पूछा कि मेरी शादी को कितने साल हुए? मैंने कहा, 'दो साल'। उन्होंने कहा, 'लेकिन हमने सुना है कि आप दोनों की शादी को 9 महीने हो चुके थे। मैंने कहा, विभु यहां शारीरिक रूप से नहीं हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हमारी शादी खत्म हो गई है।