Asianet News Hindi

रामायण के लिए हनुमान का रोल करने वाले इस शख्स ने छोड़ दी थी अपनी पसंदीदा चीज, पूजने लगे थे लोग

First Published Apr 13, 2020, 2:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. टेलीविजन के इतिहास के सबसे चर्चित सीरियल में शुमार रामानंद सागर का रामायण सीरियल एक बार फिर लॉकडाउन के चलते डीडी नेशनल पर प्रसारित किया जा रहा है। यह सीरियल एक फिर लोकप्रियता के रिकार्ड तोड़ता दिख रहा है। रामायण में हनुमान का किरदार निभाने वाले दारा सिंह को दर्शक कभी नहीं भूल सकते हैं। लोग उनकी फिजीक को देखकर उन्हें सचमुच हनुमान मानकर पूजने लगे थे। बता दें कि इन दिनों रामायण एक बार फिर घर-घर में पॉपुलर हो गया है।

हनुमान के पात्र को दारा सिंह ने इस कदर निभाया कि लोग दारा सिंह को ही हनुमान समझने लगे थे। लोगों उनकी पूजा करते थे।

हनुमान के पात्र को दारा सिंह ने इस कदर निभाया कि लोग दारा सिंह को ही हनुमान समझने लगे थे। लोगों उनकी पूजा करते थे।

कई कार्यक्रमों में हनुमान के विशेष भक्त के तौर पर उनका परिचय कराया जाता था लेकिन अब वे हमारे बीच नहीं हैं। लेकिन उनकी अदाकारी को लोग आज भी याद करते नहीं थकते हैं। उनका निधन 2012 में हुआ था।

कई कार्यक्रमों में हनुमान के विशेष भक्त के तौर पर उनका परिचय कराया जाता था लेकिन अब वे हमारे बीच नहीं हैं। लेकिन उनकी अदाकारी को लोग आज भी याद करते नहीं थकते हैं। उनका निधन 2012 में हुआ था।

हाल ही में दारा सिंह के बेटे विंदू दारा सिंह ने एक इंटरव्यू में पिता से जुड़ी कुछ बातों का खुलासा किया। विंदू ने बताया कि रामायण की शूटिंग के दौरान उनके पिता ने नॉन-वेज खाना छोड़ दिया था।

हाल ही में दारा सिंह के बेटे विंदू दारा सिंह ने एक इंटरव्यू में पिता से जुड़ी कुछ बातों का खुलासा किया। विंदू ने बताया कि रामायण की शूटिंग के दौरान उनके पिता ने नॉन-वेज खाना छोड़ दिया था।

विंदू ने बताया कि वे अपने पिता के साथ शूट‍िंग लोकेशन पर जाया करते थे। रामायण की शूट‍िंग लोकेशन सूरत के उमरग्राम में थी। शो की पूरी कास्ट एंड क्रू ट्रेन से सूरत जाती थी। शूट‍िंग 5-6 दिनों के लिए होती और फिर वे लोग वापस 2-3 दिन के लिए मुंबई लौट आते थे।

विंदू ने बताया कि वे अपने पिता के साथ शूट‍िंग लोकेशन पर जाया करते थे। रामायण की शूट‍िंग लोकेशन सूरत के उमरग्राम में थी। शो की पूरी कास्ट एंड क्रू ट्रेन से सूरत जाती थी। शूट‍िंग 5-6 दिनों के लिए होती और फिर वे लोग वापस 2-3 दिन के लिए मुंबई लौट आते थे।

विंदू ने बताया-  जब रामायण की शूट‍िंग खत्म होती थी तो दारा सिंह अपने को-एक्टर्स के साथ स्टूड‍ियो के गेट खोलते थे। जहां सैकड़ों लोग उनके पैर छूने का इंतजार करते थे।

विंदू ने बताया- जब रामायण की शूट‍िंग खत्म होती थी तो दारा सिंह अपने को-एक्टर्स के साथ स्टूड‍ियो के गेट खोलते थे। जहां सैकड़ों लोग उनके पैर छूने का इंतजार करते थे।

रामायण सीरियल उस वक्त इतना मशहूर था कि लोग शो के एक्टर्स की सच में पूजा किया करते थे। लोग असल जिंदगी में भी अरुण गोविल को भगवान राम, दीपिका चिखलिया को माता सीता, सुनील लहरी को लक्ष्मण और दारा सिंह को हनुमान मानते थे।

रामायण सीरियल उस वक्त इतना मशहूर था कि लोग शो के एक्टर्स की सच में पूजा किया करते थे। लोग असल जिंदगी में भी अरुण गोविल को भगवान राम, दीपिका चिखलिया को माता सीता, सुनील लहरी को लक्ष्मण और दारा सिंह को हनुमान मानते थे।

पिता दादा सिंह के साथ विंदू दारा सिंह।

पिता दादा सिंह के साथ विंदू दारा सिंह।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios