Asianet News Hindi

अपना एक बच्चा पहले ही खो चुकी इस टीवी एक्ट्रेस ने बताया आखिर क्यों छुपाकर रखा है 9 महीने की बेटी का चेहरा

First Published Sep 15, 2020, 4:50 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. फेमस टीवी शो 'ये है मोहब्बतें' (yeh hai mohabbatein) में रमन भल्ला का किरदार निभाने वाले करण पटेल (karan patel) की वाइफ और टीवी एक्ट्रेस अंकिता भार्गव (ankita bhargava) इन दिनों अपनी बेटी के साथ ज्यादा से ज्यादा वक्त बिता रही हैं। वे अपनी 9 महीने की बेटी मेहर की कई फोटोज इंस्टाग्राम पर शेयर करती रहती हैं, लेकिन अभी तक उन्होंने अपनी बेटी का चेहरा फैंस को नहीं दिखाया है। इसी बीच उन्होंने मेहर की कुछ फोटोज शेयर करते हुए, अब तक बेटी का चेहरा ना दिखाने के पीछे की वजह का खुलासा किया है। दरअसल, अंकिता ने अपने इंस्टाग्राम पर लंबी-चौड़ी पोस्ट लिखकर बताया कि इसके पीछे आखिर कारण क्या है। वैसे आपको बता दें कि अंकिता अभी सिर्फ अपनी बेटी पर ध्यान दे रही है।

अंकिता और मेहर पीले रंग की ड्रेस में नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि आखिर वो क्यों अपनी बेटी का चेहरा नहीं दिखाती हैं। उन्होंने कैप्शन में लिखा, सोशल मीडिया की शक्ति को समझने में मुझे थोड़ा समय लगा! लेकिन आपके कमेंट्स और डीएम (डायरेक्ट मैसेज) ने मुझे अहसास दिलाया कि मेरे शब्द और मेरी यात्रा #Motherhood आपको कई तरीकों से अपनी लड़ाई लड़ने के लिए शक्ति प्रदान करती है।

अंकिता और मेहर पीले रंग की ड्रेस में नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि आखिर वो क्यों अपनी बेटी का चेहरा नहीं दिखाती हैं। उन्होंने कैप्शन में लिखा, सोशल मीडिया की शक्ति को समझने में मुझे थोड़ा समय लगा! लेकिन आपके कमेंट्स और डीएम (डायरेक्ट मैसेज) ने मुझे अहसास दिलाया कि मेरे शब्द और मेरी यात्रा #Motherhood आपको कई तरीकों से अपनी लड़ाई लड़ने के लिए शक्ति प्रदान करती है।

उन्होंने आगे लिखा- ठीक उसी तरह जैसे मैंने इस तथ्य में सांत्वना पाई कि मेरे पास नींबू और कांटों की तरह एक ही लाइफ नहीं है, लेकिन अगर मेरे अनुभवों के बारे में जानने से आपको नींबू पानी बनाने और कुछ गुलाब लेने में मदद मिल सकती है। तो आइए मेरे साथ जुड़िए @lovemessymunchkins पर और सभी चीजों का एक हिस्सा बनें। असली, ईमानदार और ब्यूटीफुल।
 

उन्होंने आगे लिखा- ठीक उसी तरह जैसे मैंने इस तथ्य में सांत्वना पाई कि मेरे पास नींबू और कांटों की तरह एक ही लाइफ नहीं है, लेकिन अगर मेरे अनुभवों के बारे में जानने से आपको नींबू पानी बनाने और कुछ गुलाब लेने में मदद मिल सकती है। तो आइए मेरे साथ जुड़िए @lovemessymunchkins पर और सभी चीजों का एक हिस्सा बनें। असली, ईमानदार और ब्यूटीफुल।
 

इसके बाद अंकिता ने मेहर का चेहरा अब तक नहीं दिखाने को लेकर लिखा- मैं अभी भी सोशल मीडिया पर मेहर का चेहरा दिखाने में कंर्फटेबल नहीं हूं, तो प्लीज मुझे इन बातों से अलग कर दें।

इसके बाद अंकिता ने मेहर का चेहरा अब तक नहीं दिखाने को लेकर लिखा- मैं अभी भी सोशल मीडिया पर मेहर का चेहरा दिखाने में कंर्फटेबल नहीं हूं, तो प्लीज मुझे इन बातों से अलग कर दें।

जब से बेटी मेहर ने करण और अंकिता के जीवन में आई है, तब से उनका लाइफ पूरी तरह से बदल गई है। स्पॉटबॉय को दिए एक इंटरव्यू में अंकिता ने कहा था- मैं ऑपरेशन थिएटर में थी और करण मेरे साथ था। वो पल आया जब डॉक्टर ने हमें बताया कि ये एक बच्ची है। हम बहुत खुश थे क्योंकि हम दोनों एक लड़की चाहते थे और ये हुआ। हमारा दिन मेहर के साथ शुरू होता है और उसके साथ समाप्त होता है। 

जब से बेटी मेहर ने करण और अंकिता के जीवन में आई है, तब से उनका लाइफ पूरी तरह से बदल गई है। स्पॉटबॉय को दिए एक इंटरव्यू में अंकिता ने कहा था- मैं ऑपरेशन थिएटर में थी और करण मेरे साथ था। वो पल आया जब डॉक्टर ने हमें बताया कि ये एक बच्ची है। हम बहुत खुश थे क्योंकि हम दोनों एक लड़की चाहते थे और ये हुआ। हमारा दिन मेहर के साथ शुरू होता है और उसके साथ समाप्त होता है। 

उन्होंने कहा था- मैं अपने शेड्यूल में अब थोड़ा शरारती होने की कोशिश करती हूं क्योंकि वो हमारा पहला बच्चा है और हम दोनों को संतुलित रहना होगा। मुझे हर समय उसके साथ रहना होगा क्योंकि उसे मेरी सबसे ज्यादा जरूरत है।

उन्होंने कहा था- मैं अपने शेड्यूल में अब थोड़ा शरारती होने की कोशिश करती हूं क्योंकि वो हमारा पहला बच्चा है और हम दोनों को संतुलित रहना होगा। मुझे हर समय उसके साथ रहना होगा क्योंकि उसे मेरी सबसे ज्यादा जरूरत है।

आपको बता दें कि अंकिता-करण ने घर 14 दिसंबर, 2019 को बेटी का जन्म हुआ था। दोनों अपनी लाइफ में इस दौर को बेहद एन्जॉय कर रहे हैं लेकिन इससे पहले इन्होंने काफी बुरा दौर भी देखा है। 2018 में जब अंकिता पहली बार प्रेग्नेंट हुई थीं तो उनका मिसकैरेज हो गया था जिसके बाद दोनों गम में डूब गए।

आपको बता दें कि अंकिता-करण ने घर 14 दिसंबर, 2019 को बेटी का जन्म हुआ था। दोनों अपनी लाइफ में इस दौर को बेहद एन्जॉय कर रहे हैं लेकिन इससे पहले इन्होंने काफी बुरा दौर भी देखा है। 2018 में जब अंकिता पहली बार प्रेग्नेंट हुई थीं तो उनका मिसकैरेज हो गया था जिसके बाद दोनों गम में डूब गए।

अंकिता ने मिसकैरेज के तकरीबन दो साल बाद सोशल मीडिया पर अपना दर्द जाहिर किया है। अंकिता ने अपनी बेटी को गोद में लिए हुए एक फोटो शेयर की थी, जिसमें उसका चेहरा नजर नहीं आ रहा है। साथ ही उन्होंने मिसकैरेज के दर्द से उबरने की अपनी कहानी भी शेयर की थी। 

अंकिता ने मिसकैरेज के तकरीबन दो साल बाद सोशल मीडिया पर अपना दर्द जाहिर किया है। अंकिता ने अपनी बेटी को गोद में लिए हुए एक फोटो शेयर की थी, जिसमें उसका चेहरा नजर नहीं आ रहा है। साथ ही उन्होंने मिसकैरेज के दर्द से उबरने की अपनी कहानी भी शेयर की थी। 

अंकिता ने लिखा था- दो साल पहले आज ही के दिन मेरा मिसकैरेज हुआ था। मैं एक एड शूट के लिए थाइलैंड जाने वाली थी। बहुत खुश और स्वस्थ थी लेकिन फिर मेरा मिसकैरेज हो गया। मैं नहीं जानती मेरे साथ, मेरे शरीर के साथ या मेरे बच्चे के साथ क्या गलत हुआ लेकिन बस इतना समझ आया कि मुझे मेरे पहले बच्चे का चेहरा तक देखना नसीब नहीं हुआ! हमने उसके लिए बहुत प्रार्थना की थी।

अंकिता ने लिखा था- दो साल पहले आज ही के दिन मेरा मिसकैरेज हुआ था। मैं एक एड शूट के लिए थाइलैंड जाने वाली थी। बहुत खुश और स्वस्थ थी लेकिन फिर मेरा मिसकैरेज हो गया। मैं नहीं जानती मेरे साथ, मेरे शरीर के साथ या मेरे बच्चे के साथ क्या गलत हुआ लेकिन बस इतना समझ आया कि मुझे मेरे पहले बच्चे का चेहरा तक देखना नसीब नहीं हुआ! हमने उसके लिए बहुत प्रार्थना की थी।

अंकिता ने आगे लिखा था- पहले मुझे और करण को समझ नहीं आया कि हम कैसे इस दर्द से बाहर निकलें क्योंकि इसका कोई तरीका नहीं है। पहले हमारी अप्रोच एक-दूसरे के खिलाफ गई। मैं चाहती थी कि वो मेरा साथ दे और इस दर्द को हम साथ में सहें। उन्हें लगता था कि मेरा दुख उनके दर्द को देखकर और बढ़ जाएगा। तो जब भी हम साथ होते तो मुझे दिखाने के लिए वह नॉर्मल बिहेव करते लेकिन इस सबसे हम दोनों के अंदर और ज्यादा उदासी भर गई। फिर एक दिन मैंने करण से कह दिया कि मैं चाहती हूं कि हम दोनों इस दर्द को साथ मिलकर सहें और हमने ऐसा ही किया।

अंकिता ने आगे लिखा था- पहले मुझे और करण को समझ नहीं आया कि हम कैसे इस दर्द से बाहर निकलें क्योंकि इसका कोई तरीका नहीं है। पहले हमारी अप्रोच एक-दूसरे के खिलाफ गई। मैं चाहती थी कि वो मेरा साथ दे और इस दर्द को हम साथ में सहें। उन्हें लगता था कि मेरा दुख उनके दर्द को देखकर और बढ़ जाएगा। तो जब भी हम साथ होते तो मुझे दिखाने के लिए वह नॉर्मल बिहेव करते लेकिन इस सबसे हम दोनों के अंदर और ज्यादा उदासी भर गई। फिर एक दिन मैंने करण से कह दिया कि मैं चाहती हूं कि हम दोनों इस दर्द को साथ मिलकर सहें और हमने ऐसा ही किया।

अंकिता ने लिखा था- मेरे पति मेरे लिए सबसे बड़े सपोर्ट सिस्टम बनकर सामने आए। फिर हीलिंग का दौर शुरू हुआ। हम रोज रात को सोने से पहले खूब रोते थे। हमें किसी भी छोटी से छोटी बात पर रोना आ जाता था। चाहे वो किसी की गोद भराई का न्यौता हो या बच्चों का कोई एड लेकिन पति ने मुझे टूटने से बचा लिया।

अंकिता ने लिखा था- मेरे पति मेरे लिए सबसे बड़े सपोर्ट सिस्टम बनकर सामने आए। फिर हीलिंग का दौर शुरू हुआ। हम रोज रात को सोने से पहले खूब रोते थे। हमें किसी भी छोटी से छोटी बात पर रोना आ जाता था। चाहे वो किसी की गोद भराई का न्यौता हो या बच्चों का कोई एड लेकिन पति ने मुझे टूटने से बचा लिया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios