Asianet News Hindi

यूपी में शराब पीने से अब तक दो सगे भाइयों समेत 10 लोगों की मौत, प्रधान पद के प्रत्याशियों ने दी थी दावत

First Published Apr 1, 2021, 1:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ ( Uttar Pradesh) । यूपी में जहरीली शराब पीने से मौत की लगातार घटनाएं सामने आ रही हैं। प्रतापगढ़ में अब तक आठ और अयोध्या में दो लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, जांच में यह बात सामने आ रही है कि शराब पिलाने वाले पंचायत चुनाव में लड़ रहे दो प्रत्याशी हैं, जो रात में मछली और शराब की दावत दिए थे। जिसके बारे में हम आपको बता रहे हैं। 

प्रतापगढ़ जिले के उदयपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार रात से अब तक शराब पीने के बाद दो सगे भाइयों समेत आठ लोगों की मौत हो गई। यह साफ नहीं हो सका है कि शराब मिलावटी थी अथवा जहरीली। 

प्रतापगढ़ जिले के उदयपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार रात से अब तक शराब पीने के बाद दो सगे भाइयों समेत आठ लोगों की मौत हो गई। यह साफ नहीं हो सका है कि शराब मिलावटी थी अथवा जहरीली। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस मामले में एसओ उदयपुर को लापरवाह मानते हुए निलंबित कर दिया गया है। वहीं, प्रयागराज से पहुंची आबकारी विभाग की टीम ने भी जांच की।
 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस मामले में एसओ उदयपुर को लापरवाह मानते हुए निलंबित कर दिया गया है। वहीं, प्रयागराज से पहुंची आबकारी विभाग की टीम ने भी जांच की।
 

फिलहाल, एसओ उदयपुर को लापरवाह मानते हुए निलंबित कर दिया गया है। जबकि प्रयागराज से पहुंची आबकारी विभाग की टीम ने भी जांच की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रधान पद के एक प्रत्याशी ने मंगलवार की रात दावत दी थी।

फिलहाल, एसओ उदयपुर को लापरवाह मानते हुए निलंबित कर दिया गया है। जबकि प्रयागराज से पहुंची आबकारी विभाग की टीम ने भी जांच की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रधान पद के एक प्रत्याशी ने मंगलवार की रात दावत दी थी।

अयोध्या में गोसाईंगंज थाना क्षेत्र के त्रिलोकपुर गांव में जहरीली शराब पीने से दो लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। बताया जा रहा है कि सभी ने होली के दिन निवर्तमान प्रधान राजनाथ वर्मा के घर शराब पी थी। 

अयोध्या में गोसाईंगंज थाना क्षेत्र के त्रिलोकपुर गांव में जहरीली शराब पीने से दो लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। बताया जा रहा है कि सभी ने होली के दिन निवर्तमान प्रधान राजनाथ वर्मा के घर शराब पी थी। 

दूसरे दिन से ही इनकी हालत बिगड़ने लगी। दो लोगों की मौत होने के बाद गांव में हड़कंप मचा तो मामला प्रकाश में आया। वही, जिलाधिकारी अनुज झा और एसएसपी शैलेश पांडेय ने गांव में पहुंच कर प्रभावित परिवारों से मुलाकात की और निवर्तमान प्रधान के यहां भी दबिश देकर तलाशी ली। 

दूसरे दिन से ही इनकी हालत बिगड़ने लगी। दो लोगों की मौत होने के बाद गांव में हड़कंप मचा तो मामला प्रकाश में आया। वही, जिलाधिकारी अनुज झा और एसएसपी शैलेश पांडेय ने गांव में पहुंच कर प्रभावित परिवारों से मुलाकात की और निवर्तमान प्रधान के यहां भी दबिश देकर तलाशी ली। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios