Asianet News Hindi

कोरोना से जंग लगने खुद फील्ड में उतरे सीएम योगी, बाबा विश्वनाथ का किए कुछ ऐसे पूजन-अर्चन

First Published Apr 9, 2021, 8:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh) । यूपी में कोरोना संक्रमण का केस बढ़ गया है। जिसे गंभीरता से लेते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ खुद फील्ड में उतर आए हैं। दूसरी बार भी कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए निकले सीएम ने शुक्रवार को तीर्थ नगरी प्रयागराज के बाद वाराणसी पहुंचे। अधिकारियों के साथ मीटिंग की और कोविड सेंटर की व्यवस्थाओं को देखा। इस दौरान उन्होंने बाबा विश्वनाथ के धाम में पूजन-अर्चन भी किया, जिसकी तस्वीरें हम आपको दिखा रहे हैं। साथ ही उनके द्वारा दिए गए निर्देशों के बारे में बता रहे हैं।

बताते चले कि यूपी में के नौ जिलों में गुरुवार को नाइट कर्फ्यू लागू होने के बाद भी कोरोना वायरस के नए केस कम नहीं हो रहs है। बीते 24 घंटे में 9,695 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि 36 लोगों के मौत की खबर है। इसके पहले बुधवार को 40 और गुरुवार को 39 लोगों की मौत हो गई थी। जबकि प्रदेश में एक दिन पहले 24 घंटें में 8490 संक्रमित मिलने का रिकॉर्ड बना था, जो अब टूट गया है।

बताते चले कि यूपी में के नौ जिलों में गुरुवार को नाइट कर्फ्यू लागू होने के बाद भी कोरोना वायरस के नए केस कम नहीं हो रहs है। बीते 24 घंटे में 9,695 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि 36 लोगों के मौत की खबर है। इसके पहले बुधवार को 40 और गुरुवार को 39 लोगों की मौत हो गई थी। जबकि प्रदेश में एक दिन पहले 24 घंटें में 8490 संक्रमित मिलने का रिकॉर्ड बना था, जो अब टूट गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज और कानपुर नगर में सभी सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में सुविधानुसार वर्क फ्रॉम होम की अनुमति देने की बात कही है। यह भी कहा कि यदि कर्मचारी कार्यालय आ रहे हैं तो एक शिफ्ट में 50 फीसदी कर्मचारी आएं।
 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज और कानपुर नगर में सभी सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में सुविधानुसार वर्क फ्रॉम होम की अनुमति देने की बात कही है। यह भी कहा कि यदि कर्मचारी कार्यालय आ रहे हैं तो एक शिफ्ट में 50 फीसदी कर्मचारी आएं।
 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी अधिकारी इस बात को तय करें कि सभी कार्यालयों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरीके से अनुपालन किया जाए। इस दौरान 12वीं तक के स्कूल व अन्य शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं चलेंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी अधिकारी इस बात को तय करें कि सभी कार्यालयों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरीके से अनुपालन किया जाए। इस दौरान 12वीं तक के स्कूल व अन्य शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं चलेंगी।

यूपी में 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक टीकाकरण उत्सव मनाया जाएगा। इसमें सभी जिलों में सरकारी व निजी कार्यालयों में स्वास्थ्य विभाग की टीम जाकर 45 पार लोगों को टीका लगाएगी।

यूपी में 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक टीकाकरण उत्सव मनाया जाएगा। इसमें सभी जिलों में सरकारी व निजी कार्यालयों में स्वास्थ्य विभाग की टीम जाकर 45 पार लोगों को टीका लगाएगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios