Asianet News Hindi

मांसाहारी खाना नहीं मिला तो जमातियों ने खुले में किया शौच, क्या है वायरल खबर का सच?

First Published Apr 5, 2020, 4:08 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ ( Uttar Pradesh)। बिजनौर के बाद अब सहारनपुर में भी जमातियों का एक नया मामला वायरल हो रहा है। खबर की मानें तो क्वारंटीन वार्ड में भर्ती जमातियों ने मांसाहारी भोजन न मिलने पर खाना फेंक दिया। इतना ही नहीं गुस्से में आकर खुले में ही शौच किया। इसकी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने जमातियों को समझाया। साथ ही कानूनी कार्रवाई की चेतावनी देकर शांत कराया। हालांकि इस खबर के आने के बाद यूपी पुलिस का एक नोट वायरल हो रहा है। 

जो खबरें आईं उसके मुताबिक सहारनपुर के जैन इंटर कॉलेज में बनाए गए क्वारंटीन वार्ड में दूसरे राज्यों से आए जमातियों को रखा गया है। सूचना मिली कि जमातियों को जब खाना दिया गया तो उन्होंने फेंक दिया और मांसाहारी भोजन दिए जाने की मांग की। (प्रतीकात्मक फोटो)

जो खबरें आईं उसके मुताबिक सहारनपुर के जैन इंटर कॉलेज में बनाए गए क्वारंटीन वार्ड में दूसरे राज्यों से आए जमातियों को रखा गया है। सूचना मिली कि जमातियों को जब खाना दिया गया तो उन्होंने फेंक दिया और मांसाहारी भोजन दिए जाने की मांग की। (प्रतीकात्मक फोटो)

खबर सामने आने के बाद सहारनपुर पुलिस ने खंडन करते हुए कहा, हमने मामले की जांच की। लेकिन जमातियों के खाने और शौच को लेकर जो दावा किया गया वो गलत है।

खबर सामने आने के बाद सहारनपुर पुलिस ने खंडन करते हुए कहा, हमने मामले की जांच की। लेकिन जमातियों के खाने और शौच को लेकर जो दावा किया गया वो गलत है।

इससे पहले आई खबर के मुताबिक एसडीएम और पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और जमातियों को समझाकर शांत कराया। उन्हें साफ बताया गया कि जो भोजन शासन से निर्धारित है, वहीं मिलेगा। यदि दोबारा इस तरह की हरकत की, तो सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।(प्रतीकात्मक फोटो)

इससे पहले आई खबर के मुताबिक एसडीएम और पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और जमातियों को समझाकर शांत कराया। उन्हें साफ बताया गया कि जो भोजन शासन से निर्धारित है, वहीं मिलेगा। यदि दोबारा इस तरह की हरकत की, तो सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।(प्रतीकात्मक फोटो)

खबर के मुताबिक एसडीएम और पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और जमातियों को समझाकर शांत कराया। उन्हें साफ बताया गया कि जो भोजन शासन से निर्धारित है, वहीं मिलेगा। यदि दोबारा इस तरह की हरकत की, तो सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।(प्रतीकात्मक फोटो)

खबर के मुताबिक एसडीएम और पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और जमातियों को समझाकर शांत कराया। उन्हें साफ बताया गया कि जो भोजन शासन से निर्धारित है, वहीं मिलेगा। यदि दोबारा इस तरह की हरकत की, तो सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।(प्रतीकात्मक फोटो)

इसी तरह जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 13 जमाती क्वारंटीन किए गए हैं। इनमें से आठ इंडोनेशिया के रहने वाले हैं और पांच दिल्ली जमात में शामिल हुए अन्य जमाती हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

इसी तरह जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 13 जमाती क्वारंटीन किए गए हैं। इनमें से आठ इंडोनेशिया के रहने वाले हैं और पांच दिल्ली जमात में शामिल हुए अन्य जमाती हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

इसी तरह जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 13 जमाती क्वारंटीन किए गए हैं। इनमें से आठ इंडोनेशिया के रहने वाले हैं और पांच दिल्ली जमात में शामिल हुए अन्य जमाती हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

इसी तरह जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 13 जमाती क्वारंटीन किए गए हैं। इनमें से आठ इंडोनेशिया के रहने वाले हैं और पांच दिल्ली जमात में शामिल हुए अन्य जमाती हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

खबर के मुताबिक शुक्रवार शाम सफाईकर्मी वार्ड में सफाई करने गया। यहां जमाती बिरयानी और अंडाकरी की मांग कर रहे थे। सफाई कर्मी ने मना किया तो, हंगामा करने लगे। इससे अस्पताल में अफरातफरी मच गई। (प्रतीकात्मक फोटो)

खबर के मुताबिक शुक्रवार शाम सफाईकर्मी वार्ड में सफाई करने गया। यहां जमाती बिरयानी और अंडाकरी की मांग कर रहे थे। सफाई कर्मी ने मना किया तो, हंगामा करने लगे। इससे अस्पताल में अफरातफरी मच गई। (प्रतीकात्मक फोटो)

खबर के मुताबिक सीएमएस ने बताया कि वार्ड में भर्ती लोगों को दिन में तीन समय अलग-अलग शेड्यूल के हिसाब से खाद्य सामग्री दी जा रही है। मामला सामने आने के बाद पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शांत कराया।

खबर के मुताबिक सीएमएस ने बताया कि वार्ड में भर्ती लोगों को दिन में तीन समय अलग-अलग शेड्यूल के हिसाब से खाद्य सामग्री दी जा रही है। मामला सामने आने के बाद पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शांत कराया।

पुलिस ने जांच में साफ कर दिया है कि जमातियों के खाने और शौच को लेकर खबर में काही गई बातें निराधार हैं।(प्रतीकात्मक फोटो)

पुलिस ने जांच में साफ कर दिया है कि जमातियों के खाने और शौच को लेकर खबर में काही गई बातें निराधार हैं।(प्रतीकात्मक फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios