Asianet News Hindi

UP में भयानक हादसा: एक ही परिवार के 6 लोग मारे गए, मौत का वो भयानक पल जिसे देख खड़े हो गए रोंगटे

First Published Feb 13, 2021, 10:37 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कन्नौज (उत्तर प्रदेश). रात में छाया घना कोहरा अब हादसों का सबब बनने लगा है, जिसके चलते कई लोगों की जिंदगियां खत्म हो जाती हैं। ऐसा ही एक दिल दहला देने वाले हादसे की खबर उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले से सामने आई है, जहां एक भीषण एक्सीडेंट में एक ही परिवार के 6 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। बताया जाता है कि मारे गए सभी लोग एक परिवार के सदस्य थे। 
 


दरअसल, यह भयानक एक्सीडेंट शुक्रवार देर रात आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर तालग्राम थाना इलाके हुआ। जहां घने कोहरे की वजह से तेज रफ्तार में चल रही कार अनियंत्रित होकर खड़े ट्रक से जा टकराई। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए और उसमें बैठी सभी लोगों की मौत हो गई। यह मृतक परिवार लखनऊ से मेहदीपुर बालाजी, राजस्थान दर्शन करने जा रहा था।
 


दरअसल, यह भयानक एक्सीडेंट शुक्रवार देर रात आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर तालग्राम थाना इलाके हुआ। जहां घने कोहरे की वजह से तेज रफ्तार में चल रही कार अनियंत्रित होकर खड़े ट्रक से जा टकराई। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए और उसमें बैठी सभी लोगों की मौत हो गई। यह मृतक परिवार लखनऊ से मेहदीपुर बालाजी, राजस्थान दर्शन करने जा रहा था।
 


जब राहगीरों ने इस दर्दनाक एक्सीडेंट को देखा तो उन्होंने पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाा। इसके बाद शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इसके बाद परिजनों को सूचना दी गई। लोगों ने बताया कि हादसा इतना भीषण था कि  कार के पूरी तरह से परखच्चे उड़ गए। काफी कोशिश करने के बाद लाशों को बोनट और खिड़की तोड़कर निकाला गया।
 


जब राहगीरों ने इस दर्दनाक एक्सीडेंट को देखा तो उन्होंने पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाा। इसके बाद शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इसके बाद परिजनों को सूचना दी गई। लोगों ने बताया कि हादसा इतना भीषण था कि  कार के पूरी तरह से परखच्चे उड़ गए। काफी कोशिश करने के बाद लाशों को बोनट और खिड़की तोड़कर निकाला गया।
 

पुलिस के मुताबिक, बताया जा रहा है कि चालक को झपकी आने के चलते घने कोहरे की वजह से सामने खड़ा ट्रक नहीं दिखाई दिया होगा। जिसके चलते कार खड़े ट्रक में जाकर भिड़ गई। पुलिस का कहना है कि सभी मृतक एक ही परिवार से तालुक रखते हैं, लेकिन आपस में उनका रिश्ता क्या है, इसकी पुष्टि परिजनों के आने पर ही हो पाएगी। 
 

पुलिस के मुताबिक, बताया जा रहा है कि चालक को झपकी आने के चलते घने कोहरे की वजह से सामने खड़ा ट्रक नहीं दिखाई दिया होगा। जिसके चलते कार खड़े ट्रक में जाकर भिड़ गई। पुलिस का कहना है कि सभी मृतक एक ही परिवार से तालुक रखते हैं, लेकिन आपस में उनका रिश्ता क्या है, इसकी पुष्टि परिजनों के आने पर ही हो पाएगी। 
 


एक्सीडेंट की जानकारी मिलते ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने अफसरो को पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने का निर्देश दिया है। साथ ही जांच के बाद मुआवजा की घोषणा की जाएगी।


एक्सीडेंट की जानकारी मिलते ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने अफसरो को पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने का निर्देश दिया है। साथ ही जांच के बाद मुआवजा की घोषणा की जाएगी।


जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के काकोरी थाना क्षेत्र के बुधडिया गांव के रहने वाले ज्ञानेंद्र यादव (32 साल) अपने परिवार के साथ राजस्थान के दौसा स्थित मेहंदीपुर बालाजी दर्शन करने का रहे थे। उनके साथ में सोनू यादव (31 साल), प्रमोद यादव (35 साल), सतेंद्र यादव (18 साल), सूरज (15 साल) और मोहित (36 साल) भी थे। लेकिन भगवान के दर्शन करने से पहले ही उनकी मौत हो गई।


जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के काकोरी थाना क्षेत्र के बुधडिया गांव के रहने वाले ज्ञानेंद्र यादव (32 साल) अपने परिवार के साथ राजस्थान के दौसा स्थित मेहंदीपुर बालाजी दर्शन करने का रहे थे। उनके साथ में सोनू यादव (31 साल), प्रमोद यादव (35 साल), सतेंद्र यादव (18 साल), सूरज (15 साल) और मोहित (36 साल) भी थे। लेकिन भगवान के दर्शन करने से पहले ही उनकी मौत हो गई।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios