Asianet News Hindi

कौन है वो शख्स जिसकी वजह से श्मशान में 25 लोगों की मौत, जानिए उसकी पूरी कुंडली..जिसने कई घर उजाड़ दिए

First Published Jan 5, 2021, 12:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गाजियाबाद (Uttar Pradesh) ।  मुरादनगर श्मशान में दो दिन हुए हादसे में अब मरने वालों की संख्या 25 हो गई है। वहीं, जांच में दोषी पाए गए मुख्य आरोपी ठेकेदार अजय त्यागी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताते चले कि ढाई महीने पहले 50 लाख से अधिक बजट से श्मशान घाट पर धूप, बारिश से बचाव के लिए 60 फीट लंबी गैलरी बनाई गई थी। गैलरी के गिरते ही इसे बनाने में इस्तेमाल हुई सामग्री चूरे में तब्दील हो गई। इसका भवन का अभी लोकार्पण भी नहीं हुआ था।

जांच के दौरान ठेकेदार अजय त्यागी को मुख्य आरोपी बनाया गया। जबकि इस मामले में मुरादनगर नगर पालिका की अधिशासी अधिकारी निहारिका सिंह, जूनियर इंजीनियर चंद्रपाल और सुपरवाइजर आशीष को भी गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस आज सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश कर सकती है। 
 

जांच के दौरान ठेकेदार अजय त्यागी को मुख्य आरोपी बनाया गया। जबकि इस मामले में मुरादनगर नगर पालिका की अधिशासी अधिकारी निहारिका सिंह, जूनियर इंजीनियर चंद्रपाल और सुपरवाइजर आशीष को भी गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस आज सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश कर सकती है। 
 

बताते चले कि श्मशान घाट के गलियारे का निर्माण करने वाला ठेकेदार अजय त्यागी राजनगर सेक्टर-7 में रहता है। डी-57 नंबर से उसकी आलीशान कोठी है। वो हादसे के बाद घर से फरार हो गया था। 
 

बताते चले कि श्मशान घाट के गलियारे का निर्माण करने वाला ठेकेदार अजय त्यागी राजनगर सेक्टर-7 में रहता है। डी-57 नंबर से उसकी आलीशान कोठी है। वो हादसे के बाद घर से फरार हो गया था। 
 

पुलिस की जांच में यह बात सामने आई कि ठेकेदार अजय त्यागी जाते-जाते घर के सभी दरवाजे लॉक कर गया। लेकिन, हड़बड़ाहट में घर का मैन गेट खुला छोड़ गया। जहां पुलिस ने दो पुलिसकर्मी तैनात कर दिया था। साथ ही ठेकेदार के परिवार और रिश्तेदारों पर दबाव बनाया।
 

पुलिस की जांच में यह बात सामने आई कि ठेकेदार अजय त्यागी जाते-जाते घर के सभी दरवाजे लॉक कर गया। लेकिन, हड़बड़ाहट में घर का मैन गेट खुला छोड़ गया। जहां पुलिस ने दो पुलिसकर्मी तैनात कर दिया था। साथ ही ठेकेदार के परिवार और रिश्तेदारों पर दबाव बनाया।
 

पुलिस को घर के बाहर उसकी फॉर्च्यूनर कार खड़ी मिली, जिसमें पंचर कर पुलिस तैनात कर दी थी। एसएसपी ने सोमवार रात साढ़े 8 बजे अजय त्यागी पर 25 हजार का इनाम घोषित किया था। हालांकि रात करीब साढ़े 11 बजे अजय त्यागी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। 
 

पुलिस को घर के बाहर उसकी फॉर्च्यूनर कार खड़ी मिली, जिसमें पंचर कर पुलिस तैनात कर दी थी। एसएसपी ने सोमवार रात साढ़े 8 बजे अजय त्यागी पर 25 हजार का इनाम घोषित किया था। हालांकि रात करीब साढ़े 11 बजे अजय त्यागी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। 
 

अधिकारियों को आरोपियों द्वारा अवैध रुप से अर्जित की गई संपत्ति कुर्क की जाएगी। साथ ही जिस आरोपी के पास शस्त्र लाइसेंस होगा, उसे भी निरस्त किया जाएगा। फिलहाल उससे पूछताछ चल रही है। उसके बाद आज ही कोर्ट में पेश किया जा सकता है। 
 

अधिकारियों को आरोपियों द्वारा अवैध रुप से अर्जित की गई संपत्ति कुर्क की जाएगी। साथ ही जिस आरोपी के पास शस्त्र लाइसेंस होगा, उसे भी निरस्त किया जाएगा। फिलहाल उससे पूछताछ चल रही है। उसके बाद आज ही कोर्ट में पेश किया जा सकता है। 
 

बताते चले कि सीएम योगी आदित्यनाथ की बड़ी कार्रवाई करते हुए घटना के लिए ज़िम्मेदार इंजीनियर और ठेकेदार के खिलाफ रासुका लगाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि नुकसान की वसूली दोषी इंजीनियर और ठेकेदार से किया जाएगा और उसे ब्लैक लिस्ट किया जाएगा।

बताते चले कि सीएम योगी आदित्यनाथ की बड़ी कार्रवाई करते हुए घटना के लिए ज़िम्मेदार इंजीनियर और ठेकेदार के खिलाफ रासुका लगाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि नुकसान की वसूली दोषी इंजीनियर और ठेकेदार से किया जाएगा और उसे ब्लैक लिस्ट किया जाएगा।

इस हादसे में मरे लोगों के आश्रितों को दस-दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। जबकि, उन परिवारों को, जिनके पास आवास नहीं हैं, उन्हें आवासीय सुविधा मुहैया करने के भी सीएम ने निर्देश दिए हैं।

इस हादसे में मरे लोगों के आश्रितों को दस-दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। जबकि, उन परिवारों को, जिनके पास आवास नहीं हैं, उन्हें आवासीय सुविधा मुहैया करने के भी सीएम ने निर्देश दिए हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios