बिस्तर से खुद उठ भी नहीं पाता लाचार पति, 16 बच्चों की अकेले परवरिश कर रही ये मां, फिर होना चाहती है प्रेग्नेंट

First Published 29, May 2020, 11:21 AM

हटके डेस्क: दुनिया में कई तरह के लोग होते हैं। कुछ एक ही बच्चे से परेशान हो जाते हैं तो कुछ अपनी इनकम और लाइफ स्टाइल को देखते हुए बच्चों की प्लानिंग करते हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी लोग होते हैं, जिन्हें किसी भी परेशानी और मज़बूरी के आगे अपनी चाहत ही सबसे ज्यादा नजर आती है। अब जरा इंडियाना में रहने वाली 38 साल की एक महिला को ही देख लीजिये। इस महिला के एक-दो नहीं, कुल 16 बच्चे हैं। सबकी उम्र 19 से 7 महीने के बीच है। महिला के पति बिना सहारे के चल-फिर नहीं पाते। ऐसे में पूरा घर महिला को अकेले ही चलाना पड़ता है। लेकिन हैरत की बात ये है कि फिर भी ये महिला और भी बच्चों की प्लानिंग  रही है। जी हां, ये अभी और बच्चों को जन्म देना चाहती है। आइये आपको दिखाते हैं 16 बच्चों की इस सुपरमॉम के दिन लॉकडाउन में कैसे कट रहे हैं... 

<p>इंडियाना में रहने वाली 38 साल की डोरिस फिलिप्स के 16 बच्चे हैं। महिला ने 2011 में 42 साल के विलियम्स से शादी की थी। एक हादसे के बाद अब विलियम चल-फिर नहीं पाते। </p>

इंडियाना में रहने वाली 38 साल की डोरिस फिलिप्स के 16 बच्चे हैं। महिला ने 2011 में 42 साल के विलियम्स से शादी की थी। एक हादसे के बाद अब विलियम चल-फिर नहीं पाते। 

<p>ये पूरा परिवार 4 बेडरूम के घर में रहता है। महिला के सबसे बड़े बेटे की उम्र 19 साल है जबकि सबसे छोटा बच्चा अभी 7 महीने का है। इन 16 बच्चों में तीन डोरिस के पहले पति से हैं। </p>

ये पूरा परिवार 4 बेडरूम के घर में रहता है। महिला के सबसे बड़े बेटे की उम्र 19 साल है जबकि सबसे छोटा बच्चा अभी 7 महीने का है। इन 16 बच्चों में तीन डोरिस के पहले पति से हैं। 

<p>लॉकडाउन में डोरिस कैसे अपने 16 बच्चों के साथ दिन बिता रही है, उसने खुद मीडिया के साथ शेयर किया। क्वारेंटाइन होने से पहले ये कपल दिन के 15 घंटे बच्चों की देखभाल में बिताते थे। वहीं अब जब बच्चे स्कूल भी नहीं जाते, तो पूरा  दिन इनके साथ ही बीतता है। </p>

लॉकडाउन में डोरिस कैसे अपने 16 बच्चों के साथ दिन बिता रही है, उसने खुद मीडिया के साथ शेयर किया। क्वारेंटाइन होने से पहले ये कपल दिन के 15 घंटे बच्चों की देखभाल में बिताते थे। वहीं अब जब बच्चे स्कूल भी नहीं जाते, तो पूरा  दिन इनके साथ ही बीतता है। 

<p>सबसे हैरानी की बात तो ये है कि ये कपल 16 बच्चों के बाद भी परेशान नहीं है। बल्कि दोनों अभी और भी बच्चों की प्लानिंग कर रहे हैं। ऐसा भी नहीं हैं कि दोनों की सोर्स ऑफ़ इनकम काफी ज्यादा है। परिवार के खर्च उठाने के लिए दोनों को अपनी वेडिंग रिंग तक बेचनी पड़ी। बावजूद इसके ये अभी और बच्चे प्लान कर रहे हैं। </p>

सबसे हैरानी की बात तो ये है कि ये कपल 16 बच्चों के बाद भी परेशान नहीं है। बल्कि दोनों अभी और भी बच्चों की प्लानिंग कर रहे हैं। ऐसा भी नहीं हैं कि दोनों की सोर्स ऑफ़ इनकम काफी ज्यादा है। परिवार के खर्च उठाने के लिए दोनों को अपनी वेडिंग रिंग तक बेचनी पड़ी। बावजूद इसके ये अभी और बच्चे प्लान कर रहे हैं। 

<p>डोरिस ने लोगों के साथ लॉकडाउन में अपनी लाइफ स्टाइल को शेयर किया। उन्होंने बताया कि उनके दिन की शुरुआत सुबह 7 बजे से होती है। सबसे पहले वो उठकर फ्रेश होती हैं। अगर उनसे देर हो गई तो फिर लंबा इन्तजार करना पड़ता है।  </p>

डोरिस ने लोगों के साथ लॉकडाउन में अपनी लाइफ स्टाइल को शेयर किया। उन्होंने बताया कि उनके दिन की शुरुआत सुबह 7 बजे से होती है। सबसे पहले वो उठकर फ्रेश होती हैं। अगर उनसे देर हो गई तो फिर लंबा इन्तजार करना पड़ता है।  

<p>24 घंटे बच्चों के साथ बिताने वाली डोरिस को सिर्फ एक ही बार घर से निकलने का मौका मिलता हैं। वो है महीने का राशन लाते हुए। डोरिस ने बताया कि उनके घर हर महीने 76 हजार रुपये का राशन आता है। <br />
 </p>

24 घंटे बच्चों के साथ बिताने वाली डोरिस को सिर्फ एक ही बार घर से निकलने का मौका मिलता हैं। वो है महीने का राशन लाते हुए। डोरिस ने बताया कि उनके घर हर महीने 76 हजार रुपये का राशन आता है। 
 

<p>बात अगर लंच की करें, तो डोरिस इसे ग्रैंड बुफेट बनाती है। इसमें बर्गर, हॉट डॉग्स, पीनट बटर सैंडविच, चावल और अंडे शामिल होते हैं। <br />
 </p>

बात अगर लंच की करें, तो डोरिस इसे ग्रैंड बुफेट बनाती है। इसमें बर्गर, हॉट डॉग्स, पीनट बटर सैंडविच, चावल और अंडे शामिल होते हैं। 
 

<p>डिनर में डोरिस को दो घंटे का समय लगता है। इसमें वो चिकन. कॉर्न, बीन्स और मैश पोटैटो बनाती हैं।  </p>

डिनर में डोरिस को दो घंटे का समय लगता है। इसमें वो चिकन. कॉर्न, बीन्स और मैश पोटैटो बनाती हैं।  

<p>डोरिस मानती हैं कि उनका बहुत बड़ा परिवार है और कई बार वो तनाव में आ जाती हैं। परिवार को चलाने में उन्हें काफी दिक्क्तें आती हैं। लेकिन वो इसे ही जिंदगी बताती हैं।  <br />
 </p>

डोरिस मानती हैं कि उनका बहुत बड़ा परिवार है और कई बार वो तनाव में आ जाती हैं। परिवार को चलाने में उन्हें काफी दिक्क्तें आती हैं। लेकिन वो इसे ही जिंदगी बताती हैं।  
 

<p>डोरिस के बड़े बच्चे सुबह नाश्ता बनाते हैं। तब तक डोरिस छोटे बच्चों को नहलाते हैं और उन्हें तैयार करती हैं। इसके बाद नाश्ता बनाकर वो भी नहाते हैं। <br />
 </p>

डोरिस के बड़े बच्चे सुबह नाश्ता बनाते हैं। तब तक डोरिस छोटे बच्चों को नहलाते हैं और उन्हें तैयार करती हैं। इसके बाद नाश्ता बनाकर वो भी नहाते हैं। 
 

<p>डोरिस बताती है कि इतने बड़े परिवार को चलाना काफी मुश्किल होता है। लेकिन वो फिर भी काफी खुश हैं। 4 बेडरूम वाले इस घर में डोरिस और विलियम दो छोटे बच्चों के साथ सोते हैं  जबकि बाकी के तीन कमरों में बाकी के बच्चे। </p>

डोरिस बताती है कि इतने बड़े परिवार को चलाना काफी मुश्किल होता है। लेकिन वो फिर भी काफी खुश हैं। 4 बेडरूम वाले इस घर में डोरिस और विलियम दो छोटे बच्चों के साथ सोते हैं  जबकि बाकी के तीन कमरों में बाकी के बच्चे। 

<p>इतने बच्चों को पालते हुए भी उन्हें सुलाने के बाद डोरिस रात को तीन घंटे पढ़ाई कर रही हैं। वो बैचलर की डिग्री कंप्लीट कर रही हैं। </p>

इतने बच्चों को पालते हुए भी उन्हें सुलाने के बाद डोरिस रात को तीन घंटे पढ़ाई कर रही हैं। वो बैचलर की डिग्री कंप्लीट कर रही हैं। 

<p>इतने बच्चों में कई की तबियत खराब होने और खुद डोरिस के बार-बार प्रेग्नेंट होने के कारण इनका आधा समय अस्पताल में बीतता है। </p>

इतने बच्चों में कई की तबियत खराब होने और खुद डोरिस के बार-बार प्रेग्नेंट होने के कारण इनका आधा समय अस्पताल में बीतता है। 

<p>डोरिस और विलियम ने 17 अप्रैल 2011 में शादी की थी। दोनों की पहली मुलाक़ात 2005 में हुई थी। <br />
 </p>

डोरिस और विलियम ने 17 अप्रैल 2011 में शादी की थी। दोनों की पहली मुलाक़ात 2005 में हुई थी। 
 

<p>विलियम सेना में थे। वहां से इराक में तैनाती के दौरान एक आत्मघाती हमले में वो चोटिल हो गए और अब चलने-फिरने में उन्हें डोरिस की मदद चाहिए होती है। </p>

विलियम सेना में थे। वहां से इराक में तैनाती के दौरान एक आत्मघाती हमले में वो चोटिल हो गए और अब चलने-फिरने में उन्हें डोरिस की मदद चाहिए होती है। 

<p>परिवार को वेटेरन डिसेबिलिटी फंड से हर महीने 3 लाख 78 हजार रूपये की मदद मिलती है। इसी से पूरा परिवार चलता है। </p>

परिवार को वेटेरन डिसेबिलिटी फंड से हर महीने 3 लाख 78 हजार रूपये की मदद मिलती है। इसी से पूरा परिवार चलता है। 

loader