सरकार का ऐलान: लॉकडाउन में अभी नहीं खुलेंगे रेस्त्रां, विरोध में बावर्चियों ने कपड़े उतार किया धरना-प्रदर्शन

First Published 11, Jun 2020, 2:09 PM

हटके डेस्क: कोरोना वायरस के कारण दुनिया के कई देश पिछले कई महीनों से लॉकडाउन हैं। देश की दुकानें, स्कूल-कॉलेज, ऑफिस, रेस्त्रां सबकुछ बंद। इस लॉकडाउन में अब लोगों के सामने भूखे मरने की नौबत आ गई है। सरकार ने गरीबों की मदद की घोषणा तो की लेकिन ऐसे कई लोग हैं जिनतक मदद नहीं पहुंची। ऐसी में अब कई देश धीरे-धीरे लॉकडाउन में छूट दे रहे हैं। इनमें रूस भी शामिल है। हालांकि, यहां सिर्फ जरुरी चीजों में ही छूट दी जा रही है। इस बीच रशियन गवर्नमेंट ने घोषणा की है कि अभी देश के रेस्त्रां नहीं खोले जाएंगे। इस घोषणा के बाद देश के रेस्त्रां के ओनर्स और शेफ ने काफी अनोखे तरीके से विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने कपड़े उतारकर प्रोटेस्ट किया। इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। 

<p>रूस के शेफ ने प्रेसिडेंट पुतिन ने लॉकडाउन को लेकर कुछ घोस्नाएं की। इसमें उन्होंने कहा कि फिलहाल देश के रेस्त्रां नहीं खोले जाएंगे। इसके बाद वहां विरोध का सिलसिला शुरू हो गया। </p>

रूस के शेफ ने प्रेसिडेंट पुतिन ने लॉकडाउन को लेकर कुछ घोस्नाएं की। इसमें उन्होंने कहा कि फिलहाल देश के रेस्त्रां नहीं खोले जाएंगे। इसके बाद वहां विरोध का सिलसिला शुरू हो गया। 

<p>रशियन शेफ्स ने इस घोषणा के विरोध में कपड़े उतारकर विरोध प्रदर्शन किया। ऐसा उन्होंने सरकार पर रेस्त्रां खोलने के लिए प्रेशर बनाने के लिए किया। </p>

रशियन शेफ्स ने इस घोषणा के विरोध में कपड़े उतारकर विरोध प्रदर्शन किया। ऐसा उन्होंने सरकार पर रेस्त्रां खोलने के लिए प्रेशर बनाने के लिए किया। 

<p>रूस में 28 मार्च से लॉकडाउन लगा हुआ है। तबसे ही यहां के सारे रेस्त्रां बंद हैं। शेफ्स का  कहना है कि अगर वो कोरोना से बच जाएंगे तो अब वो गरीबी से मर जाएंगे।  </p>

रूस में 28 मार्च से लॉकडाउन लगा हुआ है। तबसे ही यहां के सारे रेस्त्रां बंद हैं। शेफ्स का  कहना है कि अगर वो कोरोना से बच जाएंगे तो अब वो गरीबी से मर जाएंगे।  

<p>ऐसे में रूस के सैंकड़ों शेफ्स ने ब्युड धरना-प्रदर्शन किया। इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है।  उन्होंने कपड़े उतारकर उसे अच्छे से बर्तनों से सजाकर पोस्ट की है। <br />
 </p>

ऐसे में रूस के सैंकड़ों शेफ्स ने ब्युड धरना-प्रदर्शन किया। इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है।  उन्होंने कपड़े उतारकर उसे अच्छे से बर्तनों से सजाकर पोस्ट की है। 
 

<p>इन शेफ्स का कहना है कि वो न्यूड हैं क्यूंकि उनके पास अब कुछ नहीं बचा है। जो भी सेविंग्स थी, वो इन दो से तीन महीनों में खत्म हो गई। अब उनके पास भूखे मरने की नौबत आ गई है। </p>

इन शेफ्स का कहना है कि वो न्यूड हैं क्यूंकि उनके पास अब कुछ नहीं बचा है। जो भी सेविंग्स थी, वो इन दो से तीन महीनों में खत्म हो गई। अब उनके पास भूखे मरने की नौबत आ गई है। 

<p>मास्को में धीरे-धीरे सबकुछ खोला जा रहा है। इसमें शॉपिंग मॉल्स, बुक स्टोर्स और ब्यूटी सैलून शामिल है। लेकिन अभी रेस्त्रां पर 23 जून के बाद फैसला लिया जाएगा।  </p>

मास्को में धीरे-धीरे सबकुछ खोला जा रहा है। इसमें शॉपिंग मॉल्स, बुक स्टोर्स और ब्यूटी सैलून शामिल है। लेकिन अभी रेस्त्रां पर 23 जून के बाद फैसला लिया जाएगा।  

<p>बता दें कि रूस में अभी कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या 4 लाख 85 हजार से अधिक है। जबकि मरने वालों की संख्या 6 हजार से अधिक है। <br />
 </p>

बता दें कि रूस में अभी कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या 4 लाख 85 हजार से अधिक है। जबकि मरने वालों की संख्या 6 हजार से अधिक है। 
 

<p>कुछ दिनों पहले फ्रांस के डॉक्टर्स ने भी न्यूड होकर प्रदर्शन किया था। ऐसा उन्होंने पीपीई किट ना मिलने के कारण किया था। उनका कहना था कि बिना सेफ्टी मेजर के उन्हें मरीजों का इलाज करना पड़ रहा है। </p>

कुछ दिनों पहले फ्रांस के डॉक्टर्स ने भी न्यूड होकर प्रदर्शन किया था। ऐसा उन्होंने पीपीई किट ना मिलने के कारण किया था। उनका कहना था कि बिना सेफ्टी मेजर के उन्हें मरीजों का इलाज करना पड़ रहा है। 

<p>इसका विरोध करने के लिए उन्होंने कपड़े उतारकर प्रदर्शन किया था। इसकी भी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी। </p>

इसका विरोध करने के लिए उन्होंने कपड़े उतारकर प्रदर्शन किया था। इसकी भी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी। 

loader