दर्दनाक: 250 फीट की ऊंचाई पर काम कर रहे थे मजदूर, भरभरा कर गिरा मलबा; देखते ही देखते चली गईं 110 जानें

First Published 2, Jul 2020, 2:18 PM

यंगून. म्यांमार के कचिन में एक खादान में भारी बारिश की वजह से लैंडस्लाइड हो गया। हादसे में 110 लोगों की मौत हो गई। घटना सुबह 8 बजे की बताई जा रही है। कई मजदूरों के अभी भी दबे होने की आशंका है। बताया जा रहा है कि मजदूर 250 फीट की ऊंचाई पर काम कर रहे थे।

<p>मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मजदूर खदान में ऊपर  250 फीट की ऊंचाई पर काम कर रहे थे। लगातार हो रही बारिश के चलते भूस्खलन हो गया। कुछ मजदूरों की मिट्टी में दबकर मौत हुई। वहीं, कुछ मजदूरों की डूबने से मौत हुई। </p>

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मजदूर खदान में ऊपर  250 फीट की ऊंचाई पर काम कर रहे थे। लगातार हो रही बारिश के चलते भूस्खलन हो गया। कुछ मजदूरों की मिट्टी में दबकर मौत हुई। वहीं, कुछ मजदूरों की डूबने से मौत हुई। 

<p>बताया जा रहा है कि तेज बारिश के चलते खदान के आसपास पानी भर गया था। वाई खार जिले के प्रशासक यू क्वॉ मिन ने बताया, हादसे में कम से कम 200 लोगों के मारे जाने की आशंका है। </p>

बताया जा रहा है कि तेज बारिश के चलते खदान के आसपास पानी भर गया था। वाई खार जिले के प्रशासक यू क्वॉ मिन ने बताया, हादसे में कम से कम 200 लोगों के मारे जाने की आशंका है। 

<p>जहां यह हादसा हुआ, वहां पिछले 1 हफ्ते से बारिश हो रही है। बारिश के चलते राहत और बचाव कार्य में भी परेशानी आ रही है। </p>

जहां यह हादसा हुआ, वहां पिछले 1 हफ्ते से बारिश हो रही है। बारिश के चलते राहत और बचाव कार्य में भी परेशानी आ रही है। 

<p>म्यांमार में पिछले साल अगस्त में भूस्खलन हुआ था। इस हादसे में 59 लोगों की जान चली गई थी। यह हादसा भी बारिश की वजह से हुआ था। </p>

म्यांमार में पिछले साल अगस्त में भूस्खलन हुआ था। इस हादसे में 59 लोगों की जान चली गई थी। यह हादसा भी बारिश की वजह से हुआ था। 

<p>जेड की खदानों में हर साल इस मौसम में ऐसे हादसे होते हैं। हादसे के चश्मदीद ने बताया, लोग मलबे के ढेर पर थे। यह ढहने के कगार पर था। थोड़ी देर में पहाड़ी से पूरा मलबा भरभराकर नीचे आ गया। इसमे दबकर लोगों की मौत हो गई। </p>

जेड की खदानों में हर साल इस मौसम में ऐसे हादसे होते हैं। हादसे के चश्मदीद ने बताया, लोग मलबे के ढेर पर थे। यह ढहने के कगार पर था। थोड़ी देर में पहाड़ी से पूरा मलबा भरभराकर नीचे आ गया। इसमे दबकर लोगों की मौत हो गई। 

<p><strong>पिछले साल भूस्खलन में हुई थी 59 की मौत</strong><br />
पिछले साल अगस्त में दक्षिण-पूर्वी म्यांमार में भूस्खलन हुआ था। इसमें 59 लोगों की जान चली गई थी। यह हादसा भी भारी बारिश की वजह से हुआ था। उस वक्त बाढ़ और बारिश से 80 हजार लोग बेघर हो गए थे।</p>

पिछले साल भूस्खलन में हुई थी 59 की मौत
पिछले साल अगस्त में दक्षिण-पूर्वी म्यांमार में भूस्खलन हुआ था। इसमें 59 लोगों की जान चली गई थी। यह हादसा भी भारी बारिश की वजह से हुआ था। उस वक्त बाढ़ और बारिश से 80 हजार लोग बेघर हो गए थे।

loader