लॉकडाउन का असर: 10 में से 6 लोग नहीं बना पाए शारीरिक संबंध, रिसर्च में चौंकाने वाला दावा

First Published 1, Jun 2020, 3:51 PM

लंदन. ब्रिटेन में लॉकडाउन के वक्त 10 में से 6 लोग शारीरिक संबंध नहीं बना पाए। यह बात एक स्टडी में सामने आई है। इसके साथ ही ब्रिटेन में आज से नई गाइडलाइन जारी कर दी गई है। इसके मुताबिक, दो दूसरे घरों के लोग प्राइवेट प्लेस पर भी इकट्ठे नहीं हो सकेंगे। स्टडी में खुलासा हुआ है कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के चलते लगाए गए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के चलते सिर्फ 39.9% लोग ही शारीरिक संबंध बना पाए। 
 

<p>ब्रिटेन की नई गाइडलाइन के मुताबिक, कोई भी व्यक्ति इंडोर सार्वजनिक या प्राइवेट प्लेस में शामिल नहीं हो सकता, जिनमें पहले से ही दो या दो अधिक लोग हों। </p>

ब्रिटेन की नई गाइडलाइन के मुताबिक, कोई भी व्यक्ति इंडोर सार्वजनिक या प्राइवेट प्लेस में शामिल नहीं हो सकता, जिनमें पहले से ही दो या दो अधिक लोग हों। 

<p>इससे पहले के नियमों में प्राइवेट प्लेस पर दो लोगों के शामिल होने पर कोई रोक नहीं थी। लेकिन अब सिर्फ जरूरी वजह के चलते ही प्राइवेट जगह पर लोग इकट्ठा हो सकेंगे। वहीं, सार्वजनिक जगहों पर सेक्स पहले से ही अवैध है।  </p>

इससे पहले के नियमों में प्राइवेट प्लेस पर दो लोगों के शामिल होने पर कोई रोक नहीं थी। लेकिन अब सिर्फ जरूरी वजह के चलते ही प्राइवेट जगह पर लोग इकट्ठा हो सकेंगे। वहीं, सार्वजनिक जगहों पर सेक्स पहले से ही अवैध है।  

<p>जरूरी वजहों में अंतिम संस्कार, बीमार लोगों से मिलने, कर्मचारियों और बच्चों से दूर रह रहे माता पिता का मिलना शामिल किया गया है। </p>

जरूरी वजहों में अंतिम संस्कार, बीमार लोगों से मिलने, कर्मचारियों और बच्चों से दूर रह रहे माता पिता का मिलना शामिल किया गया है। 

<p>वहीं, मेडिकल एक्सपर्ट का मानना है कि सरकार को एडल्ट लोगों को शारीरिक संबंधों के लिए प्रेरित करना चाहिए, जिससे शारीरिक और मानसिक तनाव दूर रहे। </p>

वहीं, मेडिकल एक्सपर्ट का मानना है कि सरकार को एडल्ट लोगों को शारीरिक संबंधों के लिए प्रेरित करना चाहिए, जिससे शारीरिक और मानसिक तनाव दूर रहे। 

<p>एंगिला रस्किन यूनिवर्सिटी के हेल्थ विशेषज्ञों ने 900 एडल्ट पर इसकी रिसर्च की है कि कैसे नई गाइडलाइन उन्हें प्रभावित करेगी। </p>

एंगिला रस्किन यूनिवर्सिटी के हेल्थ विशेषज्ञों ने 900 एडल्ट पर इसकी रिसर्च की है कि कैसे नई गाइडलाइन उन्हें प्रभावित करेगी। 

<p>जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन के मुताबिक, सिर्फ युवाओं और शादी शुदा एडल्ट ने लॉकडाउन में संबंध बनाने की बात की है।</p>

जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन के मुताबिक, सिर्फ युवाओं और शादी शुदा एडल्ट ने लॉकडाउन में संबंध बनाने की बात की है।

<p>रिसर्च के मुताबिक, वृद्ध वयस्कों के लिए रोजाना शारीरिक संबंध बनाना हृदय की समस्याओं से बचाने में मदद करता है। इससे स्वास्थ्य में और भी सुधार होता है। </p>

रिसर्च के मुताबिक, वृद्ध वयस्कों के लिए रोजाना शारीरिक संबंध बनाना हृदय की समस्याओं से बचाने में मदद करता है। इससे स्वास्थ्य में और भी सुधार होता है। 

<p>इसके अलावा, जो लोग शादीशुदा नहीं हैं या उनके पार्टनर दूसरी जगहों पर रहते हैं या जो लोग इस तरह की सुविधा के लिए ऑनलाइन ऐप का इस्तेमाल करते हैं, वे लोग उन 6 लोगों में शामिल हैं, जो शारीरिक संबंध नहीं बना पाए।</p>

इसके अलावा, जो लोग शादीशुदा नहीं हैं या उनके पार्टनर दूसरी जगहों पर रहते हैं या जो लोग इस तरह की सुविधा के लिए ऑनलाइन ऐप का इस्तेमाल करते हैं, वे लोग उन 6 लोगों में शामिल हैं, जो शारीरिक संबंध नहीं बना पाए।

loader