Asianet News Hindi

कार की जबर्दस्त टक्कर के बाद बम्पर में फंस गया बच्चे का सिर, दूर तक घिसटता चला गया

किसी की लापरवाही दूसरों के सपनों को किस तरह चकनाचूर कर देती है, हांसी-जींद रोड पर हुआ एक हादसा यही बताता है। करीब दर्जनभर लड़कों का गुट आर्मी में जाने का सपना लेकर रोज सुबह दौड़ने जाता था। लेकिन इस बार एक तेज रफ्तार कार ने सबकुछ तहस-नहस कर दिया। हादसे में 2 की मौत हुई, जबकि 5 घायल हैं। जब दो दोस्तों की अर्थियां एक-साथ गांव से निकलीं, तो लोगों के आंसू रुकने की नाम नहीं ले रहे थे।

HansiJind accident, car hits to boys, 2 killed, 5 injured kpa
Author
Hansi, First Published Sep 17, 2020, 9:59 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हांसी, हरियाणा. हांसी-जींद रोड पर बुधवार तड़के हुए भीषण हादसे (shocking accident) ने पूरे गांव में दहशत और गम का माहौल पैदा कर दिया है। किसी की लापरवाही दूसरों के सपनों को किस तरह चकनाचूर कर देती है, इस हादसे से समझा जा सकता है। करीब दर्जनभर लड़कों का गुट आर्मी (Army) में जाने का सपना लेकर रोज सुबह दौड़ने जाता था। लेकिन इस बार एक तेज रफ्तार कार ने सबकुछ तहस-नहस कर दिया। हादसे में 2 की मौत हुई, जबकि 5 घायल हैं। जब दो दोस्तों की अर्थियां एक-साथ गांव से निकलीं, तो लोगों के आंसू रुकने की नाम नहीं ले रहे थे। इस हादसे के बाद लड़के दौड़ने जाने से डरने लगे हैं। उन्हें बार-बार वही हादसा याद आ जाता है। बता दें कि शेखपुरा गांव में हुए इस हादसे में 2 लड़कों की मौत हो गई थी, जबकि 5 घायल हो गए थे। एक तेज रफ्तार कार ने 9-10 लड़कों के ग्रुप के जबर्दस्त टक्कर दे मारी थी। ये लड़के पिछले 5 महीने से आर्मी की तैयारी कर रहे थे।

बम्पर में फंसा सिर
लड़कों का ग्रुप  राहुल पंवार, पारस, अभिषेक, अंकित गुर्जर, अंकित पंवार, प्रिंस पंघाल और जस्सू  रोज की तरह बुधवार तड़के भी दौड़ने निकल पड़े थे। 2 लड़के नहीं पहुंचे थे, इसलिए सब उनका इंतजार कर रहे थे। तभी तेज रफ्तार आई-20 ने उन्हें टक्कर मार दी थी। हादसे में प्रिंस का सिर बम्पर में फंस गया। वो दूर तक घिसटता चला गया। प्रिंस और जस्सू गंभीर रूप से घायल हुए थे। उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन बचाया नहीं जा सका। बाकियों को हिसार के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एक साथ उठीं दोनों की अर्थियां
प्रिंस और जस्सू गहरे दोस्त थे। जब गांव से दोनों की अर्थियां एक साथ उठीं, तो पूरा गांव रो पड़ा। दोस्तों को तो कुछ समझ ही नहीं आ रहा था। अब वे सड़क पर दौड़ने जाने से भी डरने लगे हैं। घायलों ने बताया कि कार इतनी स्पीड में थी कि किसी को संभलने का मौका ही नहीं मिला।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios