Asianet News HindiAsianet News Hindi

डांसर सपना चौधरी की बढ़ी मुश्किलें, लखनऊ की कोर्ट ने तय किये आरोप, जानें क्या था मामला

साल 2018 में लखनऊ में दर्ज धोखाधड़ी के एक मुकदमे में कोर्ट ने डांसर सपना चौधरी समेत 5 लोगों पर आरोप तय कर दिए हैं। एसीजेएम कोर्ट ने अभियोजन को गवाही शुरू कराने का आदेश भी दिया है।

Lucknow court framed charges to Dancer Sapna Choudhary and 5 others uja
Author
First Published Nov 5, 2022, 1:12 PM IST

चंडीगढ़(Haryana). अपने डांस से लोगों के दिलों में राज करने वाले हरियाणवी डांसर सपना चौधरी की मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं। साल 2018 में लखनऊ में दर्ज धोखाधड़ी के एक मुकदमे में कोर्ट ने डांसर सपना चौधरी समेत 5 लोगों पर आरोप तय कर दिए हैं। एसीजेएम कोर्ट ने अभियोजन को गवाही शुरू कराने का आदेश भी दिया है। सभी गवाहों को 12 दिसंबर को तलब किया गया है।

गौरतलब है कि 13 अक्टूबर 2018 को हरियाणवी डांसर सपना चौधरी के खिलाफ लखनऊ के आशियाना थाने में धोखाधड़ी के मामले में केस दर्ज कराया गया था। उन पर पैसा लेने के बावजूद प्रोग्राम में नहीं आने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया गया था। इस शो के टिकट भी ऑनलाइन और ऑफलाइन बेचे गए थे। पहले से तय शेड्यूल के मुताबिक सपना चौधरी को दोपहर तीन बजे कार्यक्रम में आना था जिसे रात 10 बजे तक चलना था। लेकिन सपना कार्यक्रम पहले से तय होने के बावजूद नहीं आईं।

बेचे गए थे लाखों के टिकट 
सपना चौधरी का शो जुनैद अहमद, नवीन शर्मा, अमित पांडे, रत्नाकर उपाध्याय और पहल इंस्टिट्यूट के इवाद अली ने आयोजित कराया था। इस इवेंट के लिए प्रति व्यक्ति से तीन सौ रुपये का टिकट बेचा गया था। शो के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से लाखों के टिकट बेंचे गए थे। लेकिन सपना चौधरी के कार्यक्रम में ना पहुंचने पर दूर-दूर से आए दर्शकों को ठगा गया। जिसके बाद मौजूद दर्शकों शो में जमकर हंगामा काटा था।

पहले भी जारी हुआ था अरेस्ट वारंट 
इससे पहले सपना चौधरी के खिलाफ लखनऊ की कोर्ट ने अगस्त में गिरफ्तारी वारंट भी जारी किया था। सपना समेत 5 अन्य आरोपियों को 22 अगस्त को कोर्ट में पेश होना था ताकि आरोप तय किये जा सकें लेकिन सपना अदालत में पेश नहीं हुई। जिसके बाद 19 सितंबर को कोर्ट ने सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया था। हालांकि सपना ने बाद में कोर्ट में आवेदन देकर गलती मानी, इसके बाद कोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी का वारंट वापस लिया था।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios