Asianet News Hindi

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव: कोल्हापुर की 3 सीटों पर शिवसेना और भाजपा में खींचतान

मुंबई. विधानसभा चुनाव में महाराष्ट्र के कोल्हापुर की तीन सीटों पर शिवसेना और भाजपा दोनों के बीच संघर्ष जारी है।

maharashtra polls bjp shiv sena over 3 seats
Author
Chandigarh, First Published Sep 26, 2019, 3:54 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
मुंबई. विधानसभा चुनाव में महाराष्ट्र के कोल्हापुर की तीन सीटों पर शिवसेना और भाजपा दोनों के बीच संघर्ष जारी है। जिले में जहां बीजेपी तीन सीट में से एक देने को तैयार है लेकिन शिव सेना किसी भी तरह समझौते को तैयार नहीं है।
 
निर्वाचन आयोग द्वारा महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिये तारीखों की घोषणा कर दी है। 21 अक्टूबर को मतदान होंगे वहीं 24 को नजीते आएंगे। उत्तरी कोल्हापुर को शिव सेना के नेता राजेश क्षीरसागर रिप्रेजेंट करते हैं। वहीं कगल भी शिव सेना के अंडर ही है ऐसे में कगल और चांदगढ़ सीटों पर दोनों पार्टियों के लिए फैसला लेना आसान नहीं है। खबरों की माने तो बीजेपी के कोल्हापुर में मजबूत पकड़ के लिए प्रयास कर रही है। पार्टी के स्टेट यूनिट अध्यक्ष चंद्राकांत पाटिल भी लड़ने की तैयारी में हैं। पाटिल पर पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों का भी दवाब है कि वह जीत दर्ज कर अधयक्ष क्षेत्र बढ़ाएं। ऐसे में अभी पाटिल इस मामले में कोई बड़ा डिसिजन ले सकते हैं।
 
शिव सेना नेता क्षीरसागर और बीजेपी नेता पाटिल में चुनावी घमासान छिड़ा हुआ है। दोनों नेता एक दूसरे पर तंज कसने का कोई मौका नहीं छोड़ते हैं। वहीं शिव सेना कगल चुनाव क्षेत्र से समरजीतसिंह घटगे को खड़ा करने पर भी बीजेपी से नाराज दिख रही है। घटगे महाराष्ट्र में बीजेपी के मजबूत नेताओँ में से एक हैं। हाल में मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने घटगे को महाजनादेश यात्रा के दौरान प्रत्याशी घोषित किया था। वहीं 2014 चुनाव में शिव सेना के संजय घटगे ने चुनाव लड़ा था और गटबंधन के बाद कगल सीट शिव सेना के कब्जे में है।  बीजेपी ने शिव सेना को चांदगढ़ सीट अॉफर की है लेकिन शिव सेना एनसीपी के साथ चांदगढ़ सीट लेना नहीं चाहेगी।
 
दोनों पार्टी के बीच सीट बंटवारा काफी चर्चा में है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के मुंबई दौरा रद्द होने के बाद बीजेपी-शिवसेना के बीच सीटों के बंटवारे में और ज्यादा देरी हुई है। ऐसे मों कुछ कहा नहीं जा सकता कि गठबंधन में सीटों का ऐलान कब होगा। 26 सितंबर को हुई अमित शाह, बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और महाराष्ट्र की बैठक में भी कोई नतीजा नहीं निकला।
 
सीट बंटवारे को लेकर दोनों पार्टी में घमासान जारी है। सीट बंटवारे को लेकर शिवसेना सांसद संजय राउत ने भी एक बड़ा बयान दिया था।  राउत ने कहा था, 'महाराष्ट्र में 288 सीटों का बंटवारा भारत पाकिस्तान के बंटवारे से भी भयंकर है।
 
 
Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios