अबुधाबी. आईपीएल 2020 के पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस को 5 विकेट से मात दी। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई ने 162 रन बनाए। इस लक्ष्य को सीएसके ने 19.2 ओवरों में 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया। जहां ठोस शुरुआत के बावजूद मुंबई 162 रन बना सकी। वहीं, चेन्नई ने 6 रन पर 2 विकेट गंवाने के बाद भी मैच जीत लिया। चेन्नई के सैम कुरन को मैन ऑफ द मैच चुना गया। आईए जानते हैं कि मैच के हीरो और विलेन कौन रहे। 

मैच के हीरो 

1- सैम कुरन- चेन्नई के सैम कुरन ने गेंद और बल्ले दोनों से शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने पहले गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में 28 रन देकर 1 विकेट झटका। वहीं, आखिरी ओवरों में जब 10 रन प्रति ओवर से ज्यादा की जरूरत थी, तब सैम कुरन ने सिर्फ 6 गेंद पर 18 रन ठोक डाले। उन्होंने अपनी पारी में 2 छक्के और 1 चौका जड़ा। 

2- अंबाती रायुडू: चेन्नई की जीत में अंबाती रायुडू ने अहम भूमिका निभाई। उन्होंने ना सिर्फ टीम को शुरुआती झटकों के बाद संभाला। बल्कि 48 गेंद पर 71 रन की पारी खेली। रायुडू ने अपनी पारी में 6 चौके और 3 छक्के लगाए। 

3- फाफ डु प्लेसिस : इस मैच में फाफ डु प्लेसिस की फील्डिंग और बल्लेबाजी दोनों शानदार रहे। उन्होंने 44 गेंदों पर 58 रन की पारी खेली और 3 शानदार कैच भी लिए। फाफ ने सौरभ तिवारी, हार्दिक पांड्या और जेम्स पेटिंगशन का कैच पकड़ा। 

4- लुंगी एंगीडी: शुरुआती 2 ओवर में 29 रन खर्च करने वाले लुंगी एंगीडी ने आखिरी ओवरों में शानदार गेंदबाजी की। उन्होंने मैच में 3 विकेट झटके। एंगीडी ने अपने 4 ओवरों में 38 रन खर्च किए। जबकि उन्होंने कुणाल पांड्या, पोलार्ड और पेटिंगशन का विकेट लिया। 

5- दीपक चाहर : चेन्नई के गेंजबाज दीपक चाहर ने 4 ओवर में 32 रन देकर 2 विकेट लिए। उन्होंने सूर्यकुमार यादव और बोल्ट को आउट किया। 

ये रहे मैच के विलेन
मैच में मुंबई को दोनों पारियों में अच्छी शुरुआत मिली थी। मुंबई ने बिना विकेट खोकर पहले 4.3 ओवरों में 46 रन बनाए। लेकिन आखिरी के 6 ओवरों में टीम कुछ खास नहीं कर पाई। वहीं, गेंदबाजी में भी मुंबई ने शुरुआती 2 ओवरों में चेन्नई को 2 झटके दिए। हालांकि, अंबाती और फाफ डू प्लेसिस की पार्टनरशिप ने मैच को चेन्नई की ओर मोड़ दिया। 

रोहित शर्मा: अच्छी शुरुआत के बावजूद रोहित शर्मा कुछ खास नहीं कर पाए। उन्होंने 10 गेंद में 2 चौकों की मदद से सिर्फ 12 रन बनाए।

कुणाल पांड्या :  कुणाल भी बल्लेबाजी में कुछ खास नहीं कर पाए। आखिरी ओवरों में आए कुणाल सिर्फ 3 गेंद पर 3 रन बनाकर आउट हो गए। 

पोलार्ड : सीपीएल में अच्छी फॉर्म में चल रहे पोलार्ड इस मैच में सिर्फ 18 रन बना पाए। वे एंगिडी की बॉल पर धोनी को कैच थमा बैठे। 

बुमराह: इस मैच में सबसे ज्यादा उम्मीदें जसप्रीत बुमराह से थीं। वे गेंदबाजी में कुछ खास नहीं कर पाए। यही वजह रही कि शुरुआती झटकों के बाद भी मैच मुंबई के हाथों से निकल गया। बुमराह ने 4 ओवरों में 43 रन लुटाए। उन्हें 1 विकेट मिला।