Asianet News HindiAsianet News Hindi

गांववालों ने मिलकर 3 महिलाओं को मार डाला, उस शख्स ने जो भविष्यवाणी की थी- उसी तरह हुई घटना

रांची जिले के सोनाहातु थाना क्षेत्र के राणाडीह गांव की तीन वृद्ध महिलाओं की हत्या डायन होने के शक में कर दी गई है। इस मामले में पूरा गांव शामिल है। गांव के सभी पुरुष अभी फरारी काटे हैं। पुलिस 8 लोगों को अरेस्ट कर चुकी है। 

Ranchi news Villagers killed three women shocking case pwt
Author
First Published Sep 6, 2022, 9:45 AM IST

रांची. रांची जिले के सोनाहातु थाना क्षेत्र के राणाडीह गांव की तीन वृद्ध महिलाओं की डायन-बिसाही के आरोप में की गई हत्या के बाद गांव में सन्नाटा पसरा है। गांव के सभी पुरुष फरार हैं। गांव में सिर्फ महिलाएं ही रह गई है। गांव के कई घरों में तो ताला भी लगा है। इधर, पुलिस ने वृद्धा आलोमनी देवी का शव गांव से ढाई किमी दूर पहाड़ा से बरामद किया। जबकि अन्य दो वृद्धाएं रायलू देवी और आलोमनी देवी का शव पूर्व में ही बरामद कर लिया गया था। इस मामले में पुलिस ने रायलू देवी के पति समेत 8 लोगों को गिरफ्तार किया है। रायलू देवी के पति अभिमन्यू मुंडा, बेटा ललित मुंडा, एक बेटी और बहु को गिरफ्तार किया है। हत्या में इन सभी के शामिल होने के प्रमाण पुलिस को मिले हैं। फरार अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है।

रायलू देवी के मायके वालों के बयान पर गांव के 14 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इधर, इस मामले की जांच के लिए जिले के एसएसपी किशोर कौशल ने बुंडू के डीएसपी अजय कुमार के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है। डीएसपी ने बताया कि डायन बिसाही के शक में तीनों महिलाओं की हत्या हुई है। 

तीनों का शव एक साथ रिम्स लाया गया
गांव की तीनों महिलाओं का शव एक साथ पोस्टमार्टम के लिए रिम्स लाया गया। दो महिलाओं का शव बरामद कर पुलिस ने गांव में ही रखा था। तीसरी महिला का शव मिलने के बाद तीनों शव एक साथ लेकर पुलिस पोस्टमार्टम के लिए रिम्स पहुंची। पोस्टमार्टम के पता चला है कि तीन-चार दिन पहले ही तीनों की हत्या की गई थी। तीनों मृतका का कोई भी परिजन शव का पोस्टमार्टम कराने रिम्स नहीं आया। पोस्टमार्टम के बाद तीनों शवों को शीतगृह में रखा गया है। घटना के बाद से गांव में मातम पसरा हुआ है। इस तीहरे हत्याकांड में गांव के कुल 15 लोगों के शामिल होने की बात आ रही है। सभी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस रेड कर रही है। पुलिस गांव में ही कैंप की हुई है।

ओझा के चक्कर में हुई थी तीनों हत्याएं
एक ओझा के चक्कर में आकर ग्रामीणों ने गांव की वृद्धा रायलू देवी, ढोली देवी और आलोमनी देवी की हत्या की गई थी। ग्रामीणों ने तीनों को पीट-पीट कर मार डाला था और शव गांव से ढाई किमी दूर पहाड़ पर फेंक दिया था। एक युवक के सांप के काटने से मौत के बाद एक ओझा ने ग्रामीणों से कहा था कि गांव में डायन का साया है। गांव की कुछ महिलाएं डायन-बिसाही का काम कर रही है। जिस घर में डायन रहती है उस घर में 24 घंटे के भीतर एक और घटना घट सकती है। इसके अगले ही दिन अभिमन्यू सिंह मुंडा के पुत्र ललित सिंह मुंडा (19) को एक सांप ने डंस लिया। जिसके बाद ओझा की बातों पर विश्वास करते हुए ग्रामीण एकजुट हुए और अभिमन्यू सिंह मुंडा की पत्नी रायलू देवी को पकड़ लिया। उसकी जमकर पिटाई की। पिटाई के दौरान रायलू देवी ने ग्रामीणों को और दो महिलाओं का नाम बताया। जिसके बाद तीनों को ग्रामीण गांव से दूर पहाड़ पर ले गए और तीनों की पीट-पीट कर हत्या कर दी।

इसे भी पढ़ें-  झारखंड में लोगों ने 3 महिलाओं को मार डाला, दी ऐसी खौफनाक सजा की खून से सन गईं लाशें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios