Asianet News Hindi

लॉकडाउन में पति-पत्नी के बीच बढ़ सकते हैं झगड़े, इन 5 टिप्स से बनी रहेगी शांति

कोरोनावायरस महामारी और लॉकडाउन के इस दौर में हर आदमी मानसिक तौर पर परेशान है। ऐसे में, छोटी-छोटी और मामूली बातों पर घरेलू कलह होने की गुंजाइश बनी रहती है। 

Fights between husband and wife can increase in lockdown, these 5 tips will maintain peace MJA
Author
New Delhi, First Published Jun 17, 2020, 6:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लाइफस्टाइल डेस्क। कोरोनावायरस महामारी और लॉकडाउन के इस दौर में हर आदमी मानसिक तौर पर परेशान है। ऐसे में, छोटी-छोटी और मामूली बातों पर घरेलू कलह होने की गुंजाइश बनी रहती है। देखने में आता है कि पति-पत्नी मामूली बातों पर झुंझला उठते हैं और उनके बीच मनमुटाव पैदा हो जाता है। कई बार लड़ाई ज्यादा ही बढ़ जाती है। इसका बच्चों और घर के पूरे माहौल पर बहुत बुरा असर पड़ता है। इससे हर हाल में बचने की कोशिश करनी चाहिए। जानें कुछ टिप्स।

1. बातों का जवाब नहीं दें
अगर किसी भी बात पर पति या पत्नी एक-दूसरे को गुस्से में कुछ कहते हैं, तो उसका जवाब देने की जगह चुप्पी साध लेना बेहतर होगा। अगर आप जवाब नहीं देंगे तो बात नहीं बढ़ेगी और कुछ समय के बाद सब सामान्य हो जाएगा।

2. गुस्से पर नियंत्रण करना सीखें
यह बात कहने में जितनी आसान लगती है, करने में उतनी ही कठिन है। गुस्से पर कंट्रोल रख पाना मामूली बात नहीं है। हर कोई ऐसा नहीं कर सकता है, पर कोशिश तो की ही जा सकती है। हो सकता है, आप गुस्से को काबू में कर लें।

3. कड़वी बातें मत बोलें
लड़ाई-झगड़े कड़वी बातें बोलने से बढ़ते हैं। अगर किसी से कोई गलती हो भी गई हो तो उस पर चीखें-चिल्लाएं नहीं। ऐसा करने से पूरे घर का माहौल खराब होता है। हर हाल में शांत रहें। कुछ कहना जरूरी ही हो, तो शांत और धीमी आवाज में बोलें।

4. घरेलू कामों में करें मदद
अक्सर पुरुष घरेलू कामों में किसी की कोई मदद नहीं करते। वे हर चीज के लिए ऑर्डर देते हैं। आजकल कोरोना और लॉकडाउन की वजह से हर कोई परेशान है। इसलिए हो सकता है, बैठे-बैठे फरमाइश करने पर पत्नी कोई कड़ी बात बोल दे। इसलिए घऱेलू कामों में मदद करने की कोशिश करें। अगर यह नहीं कर सकते तो चाय-पानी खुद ले ही सकते हैं।

5. दूसरों का रखें ख्याल
घर में पत्नी हो या बच्चे, उनका ख्याल रखें। उनसे समय-समय पर बातचीत करें। कोरोना महामारी की चर्चा करने से बाज आएं। इससे तनाव बढ़ता है। कुछ खुशनुमा बातें करें। चुटकुले सुनाएं। साथ बैठ कर कोई गेम खेलें। इससे परिवार में हंसी-खुशी का माहौल बनेगा।     
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios