Asianet News HindiAsianet News Hindi

Omicron : इंदौर कलेक्टर की व्यापारियों को चेतावनी, दोनों डोज लगवाएं, वरना महामारी एक्ट के तहत होगी Fir

इंदौर (Indore) में 30 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की पहली डोज (First Dose) लग चुकी है। 24 लाख को दूसरी डोज (Second Dose) लगी है। ओमीक्रोन (Omicron) की चिंता के बीच कलेक्टर (Collector) ने कहा कि  हम उन प्रतिष्ठानों के संचालकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगे जिनके कर्मचारी पूरी तरह वैक्सीनेट नहीं हैं।

Covid 19 Indore Omicron collector Industries Fir Pandemic Act
Author
Indore, First Published Dec 1, 2021, 8:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर (Indore) जिले के कलेक्टर मनीष सिंह ने औद्योगिक और कारोबारी प्रतिष्ठानों के संचालकों को चेतावनी दी कि वे अपने सभी कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज तय समय में लगवाएं। ऐसा नहीं होने पर संचालकों के खिलाफ महामारी रोग अधिनियम 1897 के तहत एफआईआर (FIR) होगी। ऐसे कुछ प्रतिष्ठान सील भी किए गए हैं। आमीक्रोन वैरिएंट की चिंता के बीच कलेक्टर ने कहा- अभी हम उन प्रतिष्ठानों को केवल सील कर रहे हैं, जिनके कर्मचारियों ने तय समय सीमा बीतने के बावजूद कोविड-19 वैक्सीन की दूसरी डोज नहीं ली है। अगर ये हालात नहीं सुधरे, तो संचालकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगे।

विदेश ये आए 100 यात्रियों को खोज रहे अफसर 
कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रोन (Omicron) के खतरे के बीच इंदौर में हड़कंप मचा है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उन 100 लोगों की तलाश में जुटे हैं, जो पिछले एक महीने में इंटरनेशनल ट्रैवल कर इंदौर लौटे हैं। 
इंदौर जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (CMHO) डॉ. बीएस सैत्या ने बताया- हमें इंदौर के ऐसे करीब 150 लोगों की लिस्ट मिली है, जिन्होंने पिछले एक महीने में अंतरराष्ट्रीय यात्रा के बाद वापसी की है। इनमें से 50 लोगों के सैंपल कलेक्ट किए जा चुके हैं। ये कोरोना वायरस (Coronavirus)से संक्रमित नहीं मिले हैं। हालांकि, बाकी 100 लोगों की तलाश की जा रही है इनके भी सैंपल लेकर कोविड-19 जांच कराई जाएगी। 

30.82 लाख लोगों को लग चुकी पहली डोज 
इंदौर में 30.82 लाख लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। इनमें शामिल 24.87 लाख लोग टीके की दूसरी डोज भी ले चुके हैं। जिले में करीब 3.25 लाख लोग तय समय सीमा बीतने के बावजूद दूसरी खुराक लेने के लिए टीकाकरण केंद्रों पर नहीं पहुंचे हैं।  

बिना वैक्सीनेशन काम पर इन संस्थाओं को किया गया सील
इंदौर में नगर निगम और जिला प्रशासन ने जिन 23 संस्थानों को सील किया है। इनमें नौलखा स्थित माहेश्वरी स्वीट्स, शिरसी बुटीक, सुपर कॉप केयर 226 एसआर कम्पाउंड, रॉयल फर्नीचर लसूड़िया मोरी, मारुति सुजुकी शोरूम, टोयोटा सांघी शोरूम, देवगुराड़िया में मेन रोड पर सर गिरिराज गोवर्धन बारदाना फैक्टरी, बजाज सेनिटेशन मीरा पथ रोड, गुडलक ऑटो डील गैरेज, अप्सरा टेलर, आयरन वर्क स्टील, इलेक्ट्रो ट्रांसफर ई सेक्टर, नूरजहां स्टील, एसके बैकरी स्कीम 54, प्रताप स्नैक्स नेमावर रोड, सार्थक स्टील शामिल है।

शिवराज बोले- मिलकर तीसरी लहर रोकने की कोशिश करें
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पिछले दिनों कुछ जगहों से सामने आ रहे कोरोना केस हमें आगाह करने के लिए काफी हैं। हमें मिलकर कोशिश करनी है कि कोरोना की तीसरी लहर (Third Wave) ना आने पाए। मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से प्रदेश के सभी कलेक्टर और क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों के सदस्यों से बात की और भोपाल, इंदौर और जबलपुर में बढ़ रहे मरीजों पर चिंता जताई। उन्होंने दिसंबर में टीकाकरण महाअभियान चलाने की बात कही। सीएम ने कहा कि जिलों में 90 प्रतिशत से कम वैक्सीनेशन हुआ है वहां टीकाकरण तेज करें। दूसरे डोज के महत्व के बारे में सभी को जानकारी दें।

यह भी पढ़ें
Indore में वर्कर्स ने वैक्सीन की सेकंड डोज नहीं लगवाई, इसलिए मारुति सुजुकी, टोयोटा समेत 23 शोरूम-कारखाने सील

Salman Khan के 'Da-Bangg' टूर से आउट हुई Katrina Kaif, शिल्पा शेट्टी अब मचाएंगी धूम
Vaccine Update : बूस्टर डोज के लिए इस्तेमाल हो सकती है कोविशील्ड, सीरम इंस्टीट्यूट ने DCGI से मांगी अनुमति

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios