Asianet News Hindi

जिन बेसहारा बुजुर्गों को इंदौर से फेंका बाहर..उनको छत देने आए सोनू सूद, बस लोगों से की एक भावुक अपील

इंदौर में बेघर बुजुर्गों के साथ जो व्यवहार किया गया, उससे दुखी होकर सोनू सूद ने एक वीडियो शेयर किया है। उन्होंने कहा मैं इंदौर वासियों से गुजारिश करूंगा कि कल कुछ लोगों ने बुजुर्गों को शहर की सीमा से बाहर फेंका, मैं आपकी मदद से उन्हें घर देना चाहता हूं।

sonu soods help give them home elderly people for indore municipaldumped in garbage vehicle kpr
Author
Indore, First Published Jan 30, 2021, 3:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इंदौर (मध्य प्रदेश). एक दिन पहले इंदौर शहर में सफाई के नाम पर नगर निगम के कर्मचारियों ने जो अमानवीय हरकत की, उसकी पूरे देश में निंदा हो रही है। इंदौर प्रशासन के साथ-साथ सीएम शिवराज की भी आलोचनाएं करते हुए लोग अपनी प्रतिक्रियाए वयक्त कर रहे हैं। निगम ने बेसहारा बुर्जुर्गों के साथ मवेशियों की तरह रवैया अपनाकर उन्हें शहर से बाहर फेंक दिया। इस मामले में एक्टर और समाज सेवी सोनू सूद सामने आए है। उन्होंने इंदौर वासियों से भावुक होते हुए एक अपील की है।

भिखारियों-बेसहारा लोगों के लिए मसीहा बने सोनू सूद
दरअसल, सोनू सूद ने एक वीडियो शेयर किया है। उन्होंने कहा- मैं इंदौर वासियों से गुजारिश करूंगा कि कल कुछ लोगों ने बुजुर्गों को शहर की सीमा से बाहर छोड़ने का प्रयास किया था। इन गरीबों को छत देने और उनका हक दिलाने की मदद करना चाहता हूं। लेकिन यह सब शहर के लोगों के बिना मुश्किल है। इसलिए हम सब मिलकर इन लोगों के लिए रहने-खाने और इनका ध्यान रखने का प्रबंध करें। 

इन लोगों ने सोनू सूद से की अपील
सोनू सूद ने इंदौर के युवा और खासकर ऐसे मां-बाप के बच्चों से भी निवेदन किया है। एक्टर ने कहा- जितने बच्चे अपने मां-बाप को अकेले छोड़ देते हैं, उनके लिए यह एक सीख होनी चाहिए। आप आपने माता-पिता को प्यार दें, उनका ध्यान रखें। उनको कभी अकेला महसूस ना होने दें। उनके हर कदम पर एक लाठी की तरह सहारा बनकर खड़े रहें। आइए हम सब लोग मिलकर यह मिसाल पेश करें। मैं आपके साथ हूं, इनके रहने के लिए एक आशियाना बनाएं।

सीएम शिवराज ने कहा-मेरे लिए नर सेवा ही नारायण सेवा है
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। सीएम ने ट्वीट करते हुए लिखा-बुजुर्गों के प्रति अमानवीय व्यवहार किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मेरे लिये नर सेवा ही नारायण सेवा है। हर वृद्ध को आदर, प्रेम और सम्मान मिलना चाहिए; यही हमारी संस्कृति है और मानव धर्म भी। इसके बाद नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने इस मामले में आरोपी पाए जाने वाले कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios