Asianet News Hindi

अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के भाई को टिकट, धोखाधड़ी, दंगे और रेप का आरोपी है 'दीपक भाऊ'

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के भाई दीपक निकालजे को भी टिकट मिला है। केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अपना उम्मीदवार बनाया है। अठावले संसद में अपने चुटिले अंदाज में बात कहने के कारण चर्चा में रहते हैं। 

Maharashtra Assembly Election 2019 chota rajan brother Deepak Nikalje got ticket
Author
Mumbai, First Published Oct 3, 2019, 3:00 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के भाई दीपक निकालजे को भी टिकट मिला है। केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अपना उम्मीदवार बनाया है। अंडरवर्ल्ड की दुनिया के दीपक भाऊ पर रेप, संपत्ति को लेकर धोखाधड़ी, जालसाजी, दंगा करने जैसे कई आरोप हैं। 

डॉन दाऊद इब्राहिम से मोर्चा ले चुके राजन के भाई निकालजे रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI)के टिकट पर सातारा जिले की फलटन सीट से चुनाव लड़ेंगे। खबरों के मुताबिक दीपक निकालजे का चुनाव चिह्न कमल होगा। 10वीं पास पहले भी लोकसभा चुनाव लड़ चुके हैं लेकिन सफलता नहीं मिली थी।

पहले भी लड़े चुनाव

आठवले की पार्टी से उन्होंने 2004, 2009 और 2014 में चेंबूर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था। हालांकि निकालजे को एक बार भी जीत नहीं मिली थी। निकालजे के नाम कई आपराधिक मामलों  दर्ज हैं।

'दीपक भाऊ' नाम से प्रसिद्ध

निकालजे 'दीपक भाऊ' नाम से प्रसिद्ध है। आपको बता दें कि निकालजे करोड़ो संपत्ति के मालिक है। रियल स्टेट कारोबार से जुड़ा निकालजे ने 2009 लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग को दिए अपने हलफनामे में 4 करोड़ की सम्पत्ति का मालिक बताया था। 51 साल का दीपक सदाशिव निकालजे मुंबई के घाटकोपर में रहता है।

5 करोड़ 19 लाख की चल और 12 करोड़ की अचल संपत्ति

2014 के चुनावी हलफनामे में उसने अपना पेशा व्यवसाय बताया है। चुनाव आयोग को उसने 17 करोड़ से ज्य़ादा की संपत्ति का ब्यौरा दिया। 2009 में उसने अपनी कुल संपत्ति 3 करोड़ 91 लाख बताई थी। दीपक निकालजे ने कुल 5 करोड़ 19 लाख की चल संपत्ति और करीब 12 करोड़ की अचल संपत्ति का ब्यौरा दिया है। उसके ऊपर 3 करोड़ से ज्यादा की लोन और दूसरे कर्जों की जिम्मेदारी है।

दीपक निकालजे पर अपराधिक मामलों का ब्यौरा-

निकालजे ने 2014 के चुनावी हलफनामे में अपने ऊपर चल रहे 3 मुकदमों की जानकारी दी। जिनमें उसे जमानत मिली हुई है। ये सभी मामले संपत्ति में धोखाधड़ी, जालसाजी, दंगे और भीड़ इक्ट्ठा करने से जुड़े हैं। 

एक रेप का मुकदमा भी शामिल

साल 2018 में निकालजे के खिलाफ रेप का एक मुकदमा हुआ। 22 साल की एक महिला ने दीपक के खिलाफ शादी का झांसा देकर रेप और यौन शोषण किए जाने का मामला दर्ज करवाया। महिला ने बताया था शादी का नाम लेकर वो उसका शारीरिक शोषण करता था। उसे यूटरस का कैंसर हो गया लेकिन उसके बावजूद दीपक निकालजे ने उससे जबरन संबंध बनाता रहा। पुलिस को दिए बयान में महिला ने बताया था कि जब वो गर्भवती हो गई तो दीपक ने उसके पेट पर जोर का मुक्का मारकर गर्भ गिरा दिया था। उसकी बहन को जान से मारने की धमकी भी देता था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios