Asianet News HindiAsianet News Hindi

Aryan Khan Drugs Case: समीर का सच जानने मुंबई पहुंची NCB की विजिलेंस टीम, आरोप लगाने वाले गवाह से पूछताछ होगी

एनसीबी (NCB) की दिल्ली से विजिलेंस टीम आज मुंबई (Mumbai) पहुंच गई है। ये टीम मुंबई के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) पर लगाए गए उगाही के आरोपों का सच जानेगी। इसके लिए NCB ने क्रूज ड्रग्स केस (Aryan Khan Drugs Case) में गवाह किरण गोसावी के बॉडीगार्ड प्रभाकर सैल को समन जारी किया है। ये टीम प्रभाकर से पूछताछ करेगी। उसे आज NCB दफ्तर बुलाया है।

Aryan Drugs Case Vigilance Wing of NCB conduct an investigation Start crore deals on NCB Zonal Director Sameer Wankhede
Author
Maharashtra, First Published Oct 27, 2021, 10:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। आर्यन खान ड्रग्स केस में करोड़ों रुपए डीलिंग के आरोपों की जांच करने के लिए NCB के DDG ज्ञानेश्वर सिंह समेत 5 सदस्यीय टीम दिल्ली से मुंबई पहुंच गई है। ये टीम ड्रग्स केस में स्वतंत्र गवाह प्रभाकर सेल द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच करेगी। दरअसल, प्रभाकर सैल के आरोपों के बाद एनसीबी (NCB) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) सवालों के घेरे में हैं। वे इस मामले की जांच कर रहे हैं। उन पर करोड़ों की डील करने के आरोप हैं। आज इस मामले की इंटरनल जांच शुरू हो गई है। दिल्ली से आई टीम में सभी अधिकारी NCB की विजिलेंस विंग के हैं।

इस बीच, NCB ने किरण गोसावी के बॉडीगार्ड और मामले में स्वतंत्र चश्मदीद गवाह प्रभाकर सैल को समन जारी किया है। कहा जा रहा है कि टीम प्रभाकर सैल से भी पूछताछ की जाएगी। प्रभाकर को दोपहर 12 बजे NCB दफ्तर बुलाया गया है। इससे पहले प्रभाकर ने किरण गोसावी और सैम डिसूजा के बीच फोन पर 25 करोड़ की डील के संबंध में आरोप लगाए थे। प्रभाकर ने कहा था कि उसने दोनों को फोन पर बातचीत करते सुना। ये डील 18 करोड़ रुपए में तय हो गई थी। इसमें 8 करोड़ रुपए समीर को दिए जाने की बात की जा रही थी। इस मामले में प्रभाकर ने मुंबई पुलिस को भी बयान दिए हैं। मंगलवार रात प्रभाकर ने 8 घंटे तक मुंबई पुलिस को अपने बयान दर्ज कराए। माना जा रहा है कि प्रभाकर अगर शिकायत करते हैं तो पुलिस केस दर्ज कर सकती है।

Wankhede vs Malik:अब निकाहनामा और फोटो लेकर नवाब मलिक, ट्वीट में लिखा- Sweet Couple... सफाई भी दी

मलिक ने एसआईटी जांच की मांग की...
इससे पहले मंगलवार को महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वानखेड़े पर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने फर्जी कास्ट और बर्थ सर्टिफिकेट लगाकर सरकारी नौकरी पाने का दावा किया था। इसके बाद मलिक ने सीएम उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी। उन्होंने समीर के खिलाफ SIT जांच कराने की मांग की है। 

समीर और जांच अधिकारी का नहीं हो सका आमना-सामना
बता दें कि मंगलवार को समीर वानखोड़े दिल्ली के एनसीबी दफ्तर पहुंचे थे। उन्होंने बताया था कि दफ्तर में रिव्यू मीटिंग के लिए बुलाया गया है। उगाही के आरोपों पर तलब नहीं किया गया। यहां विजिलेंस जांच अधिकारी ज्ञानेश्वर सिंह और समीर वानखड़े का आमना-सामना नहीं हो सका था। समीर के एनसीबी दफ्तर पहुंचने के कुछ ही देर बाद ही विजिलेंस चीफ ज्ञानेश्वर सिंह एनसीबी दफ्तर से कहीं निकल गए थे। दोपहर करीब 2 बजे वानखड़े के ऑफिस से निकलते ही कुछ देर बाद ज्ञानेश्वर सिंह एनसीबी दफ्तर पहुंच गए थे।

Mumbai Cruise Drugs Case: उगाही का दावा करने वाले गवाह ने 8 घंटे तक बयान दिए, बढ़ सकतीं वानखेडे़ की मुश्किलें

क्रूज पार्टी रेड के वक्त गोसावी के साथ था बॉडीगार्ड प्रभाकर सैल
दरअसल, हाल ही में किरण गोसीवी के बॉडीगार्ड प्रभाकर सैल ने एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर आर्यन खान केस में शाहरुख खान से पैसे लेने की कोशिश करने का आरोप लगाया था। प्रभाकर का दावा है कि वह गोसावी के बॉडीगार्ड के रूप में काम करता है। क्रूज पार्टी रेड के वक्त वह गोसावी के साथ थे। इस घटना के बाद से गोसावी अचानक रहस्यमय तरीके से गायब हो गए हैं, तब से उसकी जान को खतरा है। प्रभाकर ने अपने हलफनामे में सैम डिसूजा नाम के एक शख्स का भी जिक्र किया है। उसने कहा कि एनसीबी दफ्तर के बाहर सैम डिसूजा से उसकी मुलाकात हुई थी। उस वक्त डिसूजा वहां गोसावी से मिलने पहुंचा था। दोनों एनसीबी दफ्तर से लोअर परेल के पास बिग बाजार के पास कारों से पहुंचे। दावा किया कि गोसावी और सैम ने फोन पर 25 करोड़ रुपए से डील शुरू की और 18 करोड़ में फिक्स कर ली। उन्होंने 8 करोड़ रुपये समीर वानखेड़े को देने की भी बात कही थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios