Asianet News HindiAsianet News Hindi

ठाणे में अकाउंट हैक कर जालसाजों ने व्यापारी के बैंक खाते से 99 लाख रुपए उड़ाए, 4 दिन बाद पता चला

महाराष्ट्र के ठाणे शहर में एक व्यापारी का मोबाइल फोन हैक होने के बाद उसके खाते से 99.50 लाख रुपए निकाल लिए गए। रिपोर्ट के मुताबिक, इस साइबर ठगी के खिलाफ फरियादी ने ठाणे के वागले पुलिस थाने में अज्ञात जालसाजों के खिलाफ केस दर्ज कराया था।

Fraudsters withdraw Rs 99 lakh from bank account by hacking an account in Thane kpg
Author
First Published Nov 10, 2022, 3:32 PM IST

ठाणे। महाराष्ट्र के ठाणे शहर में एक व्यापारी का मोबाइल फोन हैक होने के बाद उसके खाते से 99 लाख रुपए से ज्यादा निकाल लिए गए। रिपोर्ट के मुताबिक, इस साइबर ठगी के खिलाफ फरियादी ने ठाणे के वागले पुलिस थाने में अज्ञात जालसाजों के खिलाफ केस दर्ज कराया था। वागले एस्टेट पुलिस थाने के अधिकारी के मुताबिक, ये हैकिंग 6-7 नवंबर के बीच हुई और उसके बैंक खातों से दूसरे खातों में नेट बैंकिंग के जरिए पैसा ट्रांसफर किया गया। पुलिस के मुताबिक, इस केस में IPC और IT एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश की जा रही है। 

नेट बैंकिंग से लेनदेन करता था व्यवसायी : 
जानकारी के मुताबिक, ठाणे के वागले एस्टेट परिसर के रघुनाथ नगर में फरियादी मोहम्मद इलियास की आई क्रय इंटरप्राइजेज नाम की कंपनी है। इस कंपनी का खाता एचडीएफसी बैंक में है। कंपनी अपना सारा लेन-देन नेट बैंकिंग के जरिए करती है। किसी अज्ञात ठग ने अकाउंट हैक कर उनके खाते से करीब 1 करोड़ रुपए की रकम निकाल ली। जब इलियास को जालसाजी का पता चला तो उन्होंने फौरन पुलिस में ठगी का मामला दर्ज कराया। 

99 लाख से ज्यादा की रकम उड़ाई : 
फरियादी मोहम्मद इलियास का कहना है कि मेसर्स आई क्रय एंटरप्राइजेज का खाता उनके बेटे के नाम पर है। साइबर ठगों ने उनके बेटे का बैंक अकाउंट हैक करके 99 लाख 79 हजार 800 की रकम निकाल ली। पुलिस अब इस मामले की जांच कर रही है। हालांकि, अब तक पुलिस को किसी भी तरह का सुराग हाथ नहीं लगा है। बता दें कि बड़े शहरों में साइबर क्राइम के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। 

क्या है साइबर क्राइम?
साइबर क्राइम वह अपराध है, जिसमें पेशेवर अपराधी (सामान्यत-हैकर) द्वारा ऑनलाइन माध्यम से किसी डिवाइस जैसे कि लैपटॉप, मोबाइल या अन्य नेटवर्क से जुड़े हुए डिवाइस को हैक कर मोटी रकम उड़ा ली जाती है।  हैकिंग, ऑनलाइन ठगी, प्राइवेसी लीक, साइबरबुलिंग जैसे अपराध साइबर क्राइम का ही हिस्सा हैं। इंटरनेट के जरिए नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करने वाले सभी यूजर को साइबर क्राइम के बारे में जानकारी होना बेहद जरूरी है। 

ये भी देखें : 

जिस दामाद के मर्डर को लेकर पूरा ससुराल था जेल में, वो 6 साल बाद मिला जिंदा; सच्चाई जान हर कोई हैरान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios