Asianet News Hindi

महाराष्ट्र में एक ही परिवार के 6 लोगों की नींद में मौत, एक गलती पड़ गई भारी

यह हादसा चंद्रपुर जिले के दुर्गापुर इलाके में रमेश लशकर के घर पर हुआ। रात को लाइट जाने के बाद परिवार के लोगों ने डीजल से जनरेटर को चालू किया। इसके बाद सभी सो गए।  सभी लोग रोत को गहरी नींद में सोए थे। अचानक आधी रात के बाद जनरेटर से  कार्बन डाइऑक्साइड गैस का रिसाव शुरू हो गया।

Maharashtra 6 members of same family died in a generator blast in Chandrapur kpr
Author
Chandrapur, First Published Jul 13, 2021, 12:11 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंद्रपुर. महाराष्ट्र के चंद्रपुर से एक दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई है। जहां जनरेटर के धुंए से एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत हो गई। सिर्फ एक युवक ही जिंदा बच सका है। सूचना मिलने पर पड़ोसियों ने सभी सातों लोगों को पास के अस्पताल पहुंचाया, लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं एक सदस्य का इलाज चल रहा है। लेकिन उसकी हालत भी गंभीर बनी हुई है। 

जनरेटर से हवा लेना बना मौत की वजह
दरअसल, यह हादसा चंद्रपुर जिले के दुर्गापुर इलाके में रमेश लशकर के घर पर हुआ। रात को लाइट जाने के बाद परिवार के लोगों ने डीजल से जनरेटर को चालू किया। इसके बाद सभी सो गए।  सभी लोग रोत को गहरी नींद में सोए थे। अचानक आधी रात के बाद जनरेटर से  कार्बन डाइऑक्साइड गैस का रिसाव शुरू हो गया और घर के खिड़की-दरवाजे बदं होने से धुआं बाहर नहीं निकल पाया। जिसके चलते दम घुटने की वजह से परिवार के लोगों की मौत हो गई।

पूरा परिवार सोता का सोता ही रह गया
हादसे की जानकारी मिलते ही मंगलवार सुबह पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। शवों को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। मृतकों की पहचान अजय लश्कर (21), रमेश लश्कर (45), लखन लश्कर (10), कृष्णा लश्कर (8), पूजा लश्कर (14) और माधुरी लश्कर (20) के तौर पर हुई है। 

इस एक गलती से पूरा परिवार हो गया खत्म
पुलिस ने बताया कि अगर परिवार रात को सोते समय किसी खिड़की को खोलकर रखता तो शायद वह मरते नहीं। परिवार की यही गलती उनको मौत तक ले गई। क्योंकि वेंटिलेशन ना होने की वजह से कुछ ही देर में दम घुटने से सभी लोगों की सांसे थम गईं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios