Asianet News Hindi

महाराष्ट्र में 3 साल की बच्ची से रेप के बाद हत्या, आरोपी पहले भी दुष्कर्म का दोषी, पैरोल पर आया था

24 घंटे बाद बुधवार सुबह गांव के कुछ लोगों ने आरोपी को देखा तो वह बच्ची को गड्डा खोदकर दफना रहा था। लोगों ने जब शोर मचाया तो वह बच्ची को कब्र में छोड़कर भाग गया। आरोपी पहले भी एक रेप केस में सजा काट रहा है। कुछ दिन पहले ही वो अलीबाग जेल पैरोल पर आया हुआ था।

maharashtra raigarh 3 year old girl murdered after rape accused KPR
Author
Mumbai, First Published Dec 31, 2020, 5:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


रायगढ़ (महाराष्ट्र). देश में दरिंदगी की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। ऐसी ही एक शर्मनाक घटना महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले से सामने आई है, जहां 3 साल की बच्ची से रेप के बाद हत्या कर दी गई। आरोपी इतना बड़ा हैवान था कि वह पहले ही एक मामले में सजा काट रहा था। सिर्फ 10 दिन के लिए पैरोल पर आया था कि इस घिनौनी घटना को अंजाम दे दिया।

माता-पिता के बीच से बच्चे को उठा ले गया दरिंदा
दरअसल, यह घटना मंगलवार रात रायगढ़ जिले के पेण इलाके में घटी, जहां 32 साल का आरोपी आदेश मधुकर पाटिल मां-पिता के साथ सो रही तीन साल की बच्ची को उठाकर ले गया। इसके बाद आरोपी मासूम को सुनसान इलाके में ले गया और रेप के बाद उसकी हत्या कर दी। कुछ देर बाद जब बच्ची के माता-पिता की नींद खुली तो उसकी तलाश शुरू की और मामले की जानकारी पुलिस को दी।

मासूम को कब्र में दफना रहा था
पुलिस ने मासूम की काफी खोजबीन की लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चला। करीब 24 घंटे बाद बुधवार सुबह गांव के कुछ लोगों ने आरोपी को देखा तो वह बच्ची को गड्डा खोदकर दफना रहा था। लोगों ने जब शोर मचाया तो वह बच्ची को कब्र में छोड़कर भाग गया। इसके बाद लोगों ने पुलिस और मासूम के माता पिता को इस मामले की सूचना देकर मौके पर बुलाया। परिजन बच्ची को डॉक्टर के पास लेकर पहुंचे, लेकिन उन्होंने उसे मृत घोषित कर दिया, पुलिस ने जब मेडिकल जांच कराई तो पता चला की मासूम रेप हुआ था।

रेप केस में पहले सी काट रहा है सजा
आरोपी को पकड़ने के लिए जिला पुलिस ने दो-तीन स्पेशल टीमों का गठन किया। जिसके बाद उसे गागोडे गांव के बाहरी इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया। जल्द ही आरोपी को अदालत में पेश किया जाएगा। बता दें कि आरोपी पहले भी एक रेप केस में सजा काट रहा है। कुछ दिन पहले ही वो अलीबाग जेल पैरोल पर आया हुआ था।

बच्ची का अंतिम संस्कार करने को राजी नहीं परिजन
इस घटना के बाद से आसपास के लोगों में गुस्सा है, वहीं मासूम के माता पिता ने अपनी बच्ची का अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया है। गांव के लोगों ने पुलिस स्टेशन के सामने प्रदर्शन भी किया। परिजन आरोपी के एनकाउंटर करने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने गुरुवार पेण को बंद करने का ऐलान किया है। मामले की जानकारी लगते ही प्रदेश के उद्योग राज्य मंत्री अदिति तटकरे ने मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाने को समझाया कि केस की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में की जाएगी। जिससे जल्द से जल्द आरोपी को सजा मिले।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios