Asianet News Hindi

नर्स ने कहा-बधाई हो बेटी जन्मी है..यह सुनते ही भड़क उठा शराबी पिता और अस्पताल में मचा दिया तांडव

बेटा हो या बेटी..आज के समय में कोई अंतर नहीं रखता। लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं, जो अभी भी इस खराब मानसिकता से नहीं उबर पाए हैं। पुणे में ऐसी ही एक घटना में बेटी के जन्म की खबर सुनकर पिता आगबबूला हो गया। उसने शराब पीकर अस्पताल में जमकर हंगामा मचाया। आरोपी अपनी पत्नी पर गुस्सा निकालकर उसे जान से मारने की धमकी देने लगा। अस्पताल में उसने डॉक्टरों को गालियां दे डालीं। उसे रोकने आए एक कर्मचारी का सिर फोड़ दिया।

Pune News, a father was became  Angry after listening to news of newborn girl, Drama in hospital after drinking alcohol kpa
Author
Pune, First Published Jun 29, 2020, 5:01 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पुणे, महाराष्ट्र. समय के साथ लोगों की सोच बदल रही है। लड़कियां घर-परिवार का नाम रोशन कर रही हैं। ज्यादातर लोग अब लड़के या लड़कियों में कोई भेदभाव नहीं करते। लेकिन कुछ लोग अभी भी इस खराब मानसिकता से नहीं उबर पाए हैं। पुणे में ऐसी ही एक घटना में बेटी के जन्म की खबर सुनकर पिता आगबबूला हो गया। उसने शराब पीकर अस्पताल में जमकर हंगामा मचाया। आरोपी अपनी पत्नी पर गुस्सा निकालकर उसे जान से मारने की धमकी देने लगा। अस्पताल में उसने डॉक्टरों को गालियां दे डालीं। उसे रोकने आए एक कर्मचारी का सिर फोड़ दिया।

हर किसी पर उतारने लगा गुस्सा...
बारामती पुलिस थाने के सीनियर इंस्पेक्टर औदुम्बर पाटिल ने बताया कि आरोपी कृष्ण काले 25 जून को  दोर्लेवाडी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आया और डॉक्टरों को गालियां देने लगा। वो अपने घर में लड़की जन्मने से बौखलाया हुआ था। आरोपी शराब पीये हुए था। उसने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। स्टाफ ने उसे समझा-बुझाकर घर भेज दिया। लेकिन अगले दिन वो फिर अस्पताल में आकर हंगामा करने लगा। एक कर्मचारी बालू चव्हाण ने आरोपी को रोकने की कोशिश की, तो उसने सिर में पत्थर दे मारा। शनिवार को पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

 

 

बेटे की चाहत में पैदा हो गईं 9 बेटियां..
यह मामला मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के एक गांव का है। यहां एक मामूली किसान के परिवार में 9 बेटियां हैं। दम्पती बेटे की चाहत में बच्चे पैदा करता गया। लेकिन फिर भी उनकी इच्छा पूरी नहीं हुई। अपनी अधूरी ख्वाहिश को लेकर जी रहे इस किसान के सामने एक समस्या और आकर खड़ी हो गई। किसान का कहना है कि उसके भाई जमीन पर कब्जा करना चाहते हैं। यह किसान इसकी शिकायत लेकर एसपी कार्यालय पहुंचा था। उसके साथ 5 बेटियां भी थीं। किसान का आरोप है कि पुलिस ने उसकी बात तो सुनी नहीं, उल्टा उसे ही मारपीट करके भगा दिया।

पुलिस ने कहा किसान ज्यादा जमीन चाहता है
यह हैं छतरपुर जिले के मातगवां थाना क्षेत्र के रहने वाले मोतीलाल राजपूत। इनके पास कोई बड़ी जागीर नहीं है। थोड़ी-बहुत खेती है, जिसके जरिये इनके परिवार का गुजारा चल रहा है। इनका कहना है कि बेटे की चाहत तो पूरी हुई नहीं, उनके भाई जमीन के पीछे पड़ गए हैं। अपने भाइयों की शिकायत लेकर ये एसपी आफिस आए थे। साथ में अपनी 5 बेटियां और पत्नी को भी लेकर आए थे। अब ये पुलिस पर मारपीट का आरोप लगा रहे हैं। इनका कहना है कि इनके पास जो खेत है, उस पर वे और दो अन्य भाई फसल उगाते हैं। भाई पूरी जमीन पर कब्जा करना चाहते हैं। 

उधर, माततगंवा थाना प्रभारी कमलजीत सिंह का कहना है कि भाइयों में मामूली विवाद है। सबको बैठाकर समझा दिया गया था। लेकिन मोतीलाल चाहता है कि वो पूरे खेत पर खेती करे। इसी बात को लेकर झगड़ा हो रहा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios