Asianet News Hindi

महाराष्ट्र के 70 कैदियों की गांधी जयंती पर होनी थी रिहाई, इस कारण अब लग सकता है वक्त

महाराष्ट्र के 70 कैदियों को बाहर आने के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है, राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगी हुई है और इसके तहत सरकार कोई बड़ा फैसला नहीं ले सकती है।

Release of 70 prisoners of Maharashtra may take time because of code of conduct
Author
Pune, First Published Oct 2, 2019, 2:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पुणे (Pune). भारत की विभिन्न जेलों में सजा काट रहे सैंकड़ों कैदियों को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर रिहा किया जाएगा लेकिन जल्दी रिहा किए जाने के योग्य महाराष्ट्र के 70 कैदियों को बाहर आने के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है। दरअसल राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगी हुई है और इसके तहत सरकार कोई बड़ा फैसला नहीं ले सकती है।

119 कैदियों में से 70 का हुआ था चयन
महाराष्ट्र के राज्य कारागार विभाग के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि 119 कैदियों को रिहा करने का प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजा गया था जिन्हें आतंकवाद, हत्या, दुष्कर्म जैसे गंभीर मामलों में दोषी करार नहीं दिया गया है। इनमें से 70 कैदियों के नाम का चयन जल्दी रिहा करने के लिए किया गया। अधिकारी ने बताया कि राज्य में आचार संहिता लागू होने की वजह से गांधी जयंती पर कैदियों को रिहा करने का आदेश सरकार नहीं दे सकती है।

 

[यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है]

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios