Asianet News HindiAsianet News Hindi

केन्द्रीय मंत्री ने कहा- शिवसेना सांसद भी पीएम मोदी के आशीर्वाद से चुने जाते हैं

इस मामले में महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेन्द्र फडणवीस ने ऐसा करने वाले शिवसैनिकों की सोच पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने शुद्धिकरण की बोली पार्टी की संकीर्णता का संकेत है। 

shivsena workers purify bal thackeray memorial with milk and gau mutr after narayan rane visit
Author
Mumbai, First Published Aug 20, 2021, 6:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के बीच दरार बढ़ती जा रहा है। केन्द्रीय मंत्री इन दिनों जन आशीर्वाद यात्रा के सहारे केन्द्र सरकार की नीतियों को जनता तक पहुंचा रहे हैं। इसी कड़ी में केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नारायण राणे ने शिवाजी पार्क जाकर बाला साहब ठाकरे के समाधिस्थल पर फूल चढ़ाया था। जिसके बाद शिवसैनिकों ने इस स्थान का गोमूत्र और दूध से शुद्धिकरण किया।

 

इस मामले में महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेन्द्र फडणवीस ने ऐसा करने वाले शिवसैनिकों की सोच पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा- यह अजीब है कि शिवसेना उन लोगों के साथ सत्ता साझा कर रही है जिन्होंने बालासाहेब ठाकरे को कैद करने की कोशिश की और उन लोगों पर हमला कर रहे हैं जो उन्हें सम्मान दे रहे हैं।  उन्होंने कहा कि जिसने भी शुद्धिकरण किया वह मूल शिव सेना को नहीं समझ पाया। शुद्धिकरण की बोली पार्टी की संकीर्णता का संकेत है। 

दरअसल, गुरुवार को केन्द्रीय मंत्री नारायण राणे ने शिवाजी पार्क जाकर बाला साहब ठाकरे की समाधि स्थल पर फूल चढ़ाए थे। राणे के शिवाजी पार्क जाने पर पहले शिवसेना सांसद संजय राउत और विनायक राउत ने राणे ने विरोध किया था।

 

पीएम के आशीर्वाद से जीतते हैं शिवसेना सांसद
वहीं, सीएम उद्धव ठाकरे की सोनिया गांधी के साथ मीटिंग को लेकर नारायण राणे ने हमला बोला है। उन्होंने कहा- उद्धव ठाकरे और शिवसेना बहुत छोटे हैं और केवल 56 विधायक हैं, वे इस देश में क्या हैं? शिवसेना सांसद भी पीएम मोदी के आशीर्वाद से चुने जाते हैं।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios