Asianet News HindiAsianet News Hindi

सर्दी का सितम, कोहरे का कहर; दिल्ली एयरपोर्ट पर 20 फ्लाइट्स का रूट चेंज, चार उड़ानें कैंसल


इंडिगो एयरलाइंस ने एक बयान में कहा, ‘‘उत्तर भारत में घने कोहरे के कारण भारत में हमारी उड़ानों पर असर पड़ा है। हम स्थिति की समीक्षा करते रहेंगे और अपने सोशल प्लेटफॉर्म्स पर ताजा जानकारियां देते रहेंगे।’’

4 flights cancel & 16 route changed at delhi airport due to heavy fogg kpm
Author
Delhi, First Published Dec 30, 2019, 1:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। दिल्ली हवाईअड्डे पर घने कोहरे के कारण सोमवार को विमान संचालन बाधित रहा। एक अधिकारी ने बताया कि दोपहर 12 बजकर 52 मिनट तक 20 विमानों का मार्ग परिवर्तित कर दिया गया, चार उड़ानों को रद्द कर दिया गया और करीब 530 उड़ानों में विलंब हुआ।

हवाई अड्डे से विमानों का परिचालन ‘श्रेणी थ्री बी’ परिस्थितियों में किया जा रहा है। इसका अर्थ है कि रनवे दृश्यता रेंज (आरवीआर) 50 से 175 मीटर के बीच है।

अधिकारी ने दोपहर 12 बजकर 52 मिनट पर विमान संचालन की ताजा जानकारी देते हुए बताया कि अब तक 20 विमानों का मार्ग परिवर्तित कर दिया गया है और चार उड़ानों को रद्द कर दिया गया है।

530 उड़ानों में देरी

उन्होंने बताया, ‘‘सोमवार को दोपहर 12 बजकर 52 मिनट तक करीब 530 उड़ानों में देरी हुई जिनमें 320 प्रस्थान करने वाली उड़ानें और 210 आगमन उड़ानें शामिल हैं।’’

इंडिगो एयरलाइंस ने एक बयान में कहा, ‘‘उत्तर भारत में घने कोहरे के कारण पूरे भारत में हमारी उड़ानों पर असर पड़ा है। हम स्थिति की समीक्षा करते रहेंगे और अपने सोशल प्लेटफॉर्म्स पर ताजा जानकारियां देते रहेंगे।’’

एयरलाइन ने यात्रियों से घरों से रवाना होने से पहले विमान के उड़ान भरने की जानकारी लेने और उसके ग्राहक सेवा केंद्रों से संपर्क करने का भी अनुरोध किया है।

यात्रियों के लिए एडवाइजरी 

विस्तारा एयरलाइन ने टि्वटर पर कहा कि दिल्ली में खराब दृश्यता के कारण उसकी दिल्ली-मुंबई उड़ान यूके933 के साथ ही मुंबई-दिल्ली उड़ान यूके996 को रद्द कर दिया गया है।

विस्तारा के साथ ही गोएयर, स्पाइसजेट, एयरएशिया इंडिया ने टि्वटर पर कहा कि दिल्ली में घने कोहरे और खराब दृश्यता के कारण उनके विमान संचालन पर असर पड़ सकता है और यात्रियों को हवाईअड्डे के लिए रवाना होने से पहली अपनी-अपनी उड़ानों की स्थिति पता कर लेने की सलाह दी जाती है।


(ये खबर पीटीआई/भाषा एजेंसी की है एशियानेट न्यूज हिंदी ने सिर्फ हैडलाइन में बदलाव किया है।)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios