नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने खालिस्तानी समर्थक संगठन 'सिख फॉर जस्टिस' के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। सरकार ने सिख फॉर जस्टिस से जुड़ीं 40 वेबसाइट्स बैन करने का फैसला किया। आरोप है कि इन वेबसाइट्स के जरिए खालिस्तानी समर्थक संगठन गैर कानूनी तरीके से लोगों का समर्थन जुटाने की कोशिश कर रहा था। 

गृह मंत्रालय ने इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय से संगठन से जुड़ीं 40 वेबसाइट्स को बैन करने की सिफारिश की थी। इस पर कदम उठाते हुए वेबसाइट्स को ब्लॉक करने का आदेश दिया गया है।

एक दिन पहले संगठन के मुखिया पर भी केस दर्ज
इससे पहले खालिस्तान समर्थक संगठन के मुखिया गुरपतवंत सिंह पन्नू पर हरियाणा पुलिस ने देशद्रोह और अलगाववाद के आरोप में केस दर्ज किया है। पन्नू अमेरिका में रहता है। वह इन वेबसाइट्स के जरिए ही लोगों का समर्थन जुटाने की कोशिश में लगा था। 

पुलिस के मुताबिक, पन्नू अमेरिका में रहकर ही देश की अखंडता और सांप्रदायिक सौहार्द के लिए खतरा बना रहा है। वह 4 जुलाई को इसके लिए अवैध रूप से जनमत संग्रह भी कराने वाला था। इन्हीं वेबसाइट्स के जरिए इसका प्रचार कर रहा था।